गुलाब जामुन की शाही सब्जी । Gulab Jamun Curry। Rajasthani Gulab Jamun Ki Sabzi

गुलाब जामुन की सब्जी एकदम अलग और नई रेसिपी है, जिसे आप किसी भी पार्टी या किसी स्पेशल दिन बनाएं और इस...

चूरमा लड्डू माइक्रोवेव में - Churma Ladoo Recipe in Microwave

राजस्थानी चूरमा लड्डू जितने अच्छे पारम्परिक तरीके से बनते हैं लगभग वैसे ही चूरमा लड्डू माइक्रोवेव मे...

राजस्थानी मलाई मिर्च - Rajasthani Malai Mirch Recipe

हरी मिर्च को छोंकने के बाद मलाई मिला कर पकाई हुई राजस्थानी मलाई मिर्च का तीखापन हल्का कम और स्वाद कई...

पापड़ की सब्जी - Papad Ki Sabzi Recipe - Rajasthani Papad Ki Sabji Recipe

पापड़ की सब्जी परम्परागत राजस्थानी रेसीपी है जिसे तुरत फुरत पापड़ फ्राय करके दही या टमाटर-दही की ग्र...

सेंगरी मुंगोडी़ - Sengri Mangodi Sabzi- Radish Pod with Mangodi

मूली के ऊपर लगने वाली वाली फली ल्के चरपरी स्वाद वाली सेंगरी या मूंगरा सर्दियों से अनेक तरह की सब्ज...

राजस्थानी दाल ढोकली - Rajasthani Dal Dhokli Recipe

दाल मसालों और आटे से बनी दाल ढोकली अपने आप में पूरा खाना ही है. दाल ढोकली को राजस्थान और गुजरात में ...

मिर्ची के टिपोरे - Hari Mirch ke Tipore

हरी मिर्च को छोंक कर बने मसालेदार मिर्च के टिपोरे राजस्थानी थाली में मिर्च के टिपोरे अवश्य परोसे जात...

बेसन चूरमा - Rajasthani Besan churma recipe

बाफला या बाटी के साथ चूरमा और चूरमा के लड्डू बहुत पसंद किये जाते हैं. चूरमा अनेको तरह से बनाया जाता ...

गुड़ आटा पापडी़ - Rajasthani Gur Atta Papdi Recipe

सर्दियों की शुरूआत होने वाली है. इन सर्दियों में राजस्थानी गुड़, गेहूं का आटा और तिल से बनी राजस्था...

गोविन्द गट्टे की सब्जी - Govind Gatta Curry Recipe

गोविन्द गट्टे की सब्जी (Govind Gatte ki Sabzi) राजस्थानी सब्जी है, मावा मसाला भरवां गोविन्द गट्टे की...

कैर सांगरी की सब्जी - Kair Sangri Sabzi

कैर सांगरी (Kair and Sangri Sabzi) राजस्थान की ज्यादा तेल और ज्यादा मसाले के साथ बनने वाली चटपटी सब्...

कच्ची हल्दी का अचार - Fresh Turmeric Pickle - Kachi Haldi Achar Recipe

कच्ची हल्दी का अचार खाने में तो स्वादिष्ट होता ही है इसमें अनेकों औषधीय गुण भी हैं. स्वाद में एकदम त...

मूंग की दाल की बड़ी / मंगोड़ी - Moong Badi Recipe - Moong Dal Mangodi Recipe

पहले दाल की बड़ी (Dal badi) घर पर ही बनाते थे क्योंकि बाजार में ये बड़ियां नहीं मिला करती थी, मिलती ...