कच्ची हल्दी का अचार - Fresh Turmeric Pickle - Kachi Haldi Achar Recipe


कच्ची हल्दी का अचार खाने में तो स्वादिष्ट होता ही है इसमें अनेकों औषधीय गुण भी हैं. स्वाद में एकदम तीखा हल्दी का अचार की बस एक चौथाई चम्मच आपके खाने को एक नया स्वाद देगी.

Read : Fresh Turmeric Pickle - Kachi Haldi Achar Recipe In English

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Turmeric Pickle

  • कच्ची हल्दी - 250 ग्राम (कद्दूकस की हुई एक कप)
  • सरसों का तेल - 100 ग्राम (आधा कप)
  • नमक - 2 1/2 छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च - आधा छोटी चम्मच
  • दाना मैथी - 2 1/2छोटी चम्मच दरदरी पिसी
  • सरसों पाउडर - 2 1/2 छोटी चम्मच
  • अदरक पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • हींग - 2-3 पिंच
  • नीबू - 250 ग्राम ( 1/2 कप का रस)

विधि - How to make haldi pickle
हल्दी को छीलिये और धोकर पानी सुखाने के लिये थोड़ी देर के लिये धूप में रख दीजिये या सूती कपड़े से पोंछ कर पानी हटा दीजिये.

अब इस छिली हल्दी को कद्दूकस कर लीजिये या बारीक काट लीजिये. चूंकि हल्दी का अचार एकदम कम मात्रा में खाया जाता है इसलिये छोटे टुकडों के अचार के बजाय कद्दूदक की गई हल्दी का अचार अधिक सुविधाजनक होता है.

सरसों का तेल कढ़ाई में डाल कर अच्छी तरह गरम करके, थोड़ा सा ठंडा कर लीजिये, तेल में हींग, मैथी और सारे मसाले और कद्दूकस की गई हल्दी डाल कर अच्छी तरह मिलाइये.

हल्दी के अचार को प्याले में निकालिये और अचार में नीबू का रस डालकर अच्छी तरह मिलाकर हल्दी के अचार को ढककर रख दीजिये. 4-5 घंटे बाद अचार चमचे से फिर से ऊपर नीचे करके मिला दीजिये.

हल्दी का अचार बन चुका है, हल्दी के अचार को एकदम सूखे कांच या चीनी मिट्टी के कन्टेनर में भर कर रख लीजिये, सम्भव हो तो अचार के कन्टेनर को 2 दिन धूप में रख दें, धूप में रखने से अचार की सैल्फ लाइफ बढ़ जाती है और अचार स्वादिष्ट भी हो जाते हैं.

हल्दी का अचार (Turmeric Pickle) यदि तेल में डुबा हुआ रखा हो तब यह अचार 6 महिने से भी ज्यादा अच्छा रहेगा.

सावधानी:
अचार को निकालते समय हमेशा साफ और सूखी चम्मच प्रयोग में लाइये.

Fresh Turmeric Pickle – Kachi Haldi Achar Recipe video in Hindi

Tags

Categories

Please rate this recipe:

3.76 Ratings. (Rated by 6472 people)

  1. 14 February, 2018 09:31:30 PM Neekita

    Which raw turmeric we can use for pickle... like raw mango at specific stage we r using for pickle like that any specific stage of termeric we have to use for pickle

  2. 26 December, 2017 10:39:59 PM Divya

    Hello Nishaji... agar achar ko 1-2 saal k liye rakhna hai to kya karna hoga ?
    निशा: दिव्या जी, हल्दी का अचार यदि तेल में डुबा हुआ रखें, अचार को निकालते समय हमेशा साफ और सूखी चम्मच प्रयोग में लाइये. तब यह अचार 1 साल से भी ज्यादा अच्छा रहेगा.

  3. 24 December, 2017 11:04:12 AM Abhilasha Bhartiya Taank

    Hello Mam,I love your recipesPlease Suggest me some Recipies for Ulcerative Colitis Disease.M suffering.
    निशा: अभिलाषा जी, गेहू का पतला दलिया और लौकी - तुरई की सब्जी खाये ये बहुत ही डायजैस्टिव है.

  4. 16 December, 2017 01:41:27 AM Jyoti

    Hello nisha ji..... Me kuch bhi banti hu aapki he recipes dekh Ke Banti hu..... Aapki recipes se Khana or bhi tasty ban jata h.... Mera sawal ye h ki 1kg haldi ke achar me kitne nimbu use me aayenge

  5. 15 December, 2017 08:43:28 PM Ram dayal Sharma

    सरसों काली होनी चाहिए या पीली
    निशा: राम जी, दोनों में से जो डालना चाहें डाल सकते हैं.

  6. 14 November, 2017 08:46:59 AM Rekha

    nishaji Amchor bhi dala ja sakta he kya nimboo ki jagah
    निशा: रेखा जी, अचार में नीबू का रस ही यूज किया जाता है, अमचूर नहीं डालते.

  7. 21 September, 2017 08:41:49 PM NARESH KUMAR MEROTHA

    Thank you sir mai aaj bna kar hi aap ko batahuga ok
    निशा: नरेजी जी, बहुत बहुत धन्यवाद. आप इसे बनाएं और अपने अनुभव हमारे साथ जरूर शेयर कीजिएगा.

  8. 24 April, 2017 08:16:25 PM suresh bhardwaj

    kachi haldi ke medical properities means kachchi haldi kin kin beemario mai medicine ke roop mai kam aati hai.regards

  9. 10 March, 2017 11:24:01 PM sushila chadha


    निशाजी क्या कच्ची हल्दी को कद्दुकस की जगह पतला पतला काट कर आचार डाल सकते हॆ
    निशा: सुशीला जी, हां, इसे पतला-पतला काटकर भी अचार डाल सकते हैं.

  10. 08 December, 2016 02:38:44 AM Nand Kishor Khajotiya (GURU Ji)

    हल्दी आचार में ऐसी कौन-कौनसे मसाले है, जो कफ, खांसी, घुठनों के दर्द आदि को भी ठीक कर सके। उन वस्तुतओ का भी उल्लेख करे तथा स्वावद में भी चार-चांद लग जाये।
    निशा: नन्द किशोर जी, इसमें हमने मेथी दाना और अदरक लिया है ये मसाले खांसी और कफ के लिये अच्छे है, आप इसमें काली मिर्च और डाल सकते हैं, हल्दी अपने आप में ही फायदेमन्द है.