शलगम गाजर सेम गोभी का अचार | Gajar, Shalgam, Gobi Ka Achar | Shalgam Gajar Mix Veg Pickle

सर्दियों में मौसमी सब्जी से तैयार मिक्स वेज अचार आपके खाने में एक नया स्वाद ले आता है. इस सीजन शलगम गाजर गोभी सेम का अचार बनाकर रख लें और सर्दियां खत्म होने तक मज़े से खाते रहिए.

Read - Gajar, Shalgam, Gobi Ka Achar | Shalgam Gajar Mix Veg Pickle

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Shalgam Gajar Mix Veg Pickle

  • शलगम- 2 (250 ग्राम)
  • गाजर- 2 (250 ग्राम)
  • सेम- 250 ग्राम
  • फूलगोभी- 1 (300 ग्राम)
  • हरी मिर्च- 100 ग्राम
  • अदरक- 100 ग्राम
  • सरसों का तेल- 1 कप
  • सिरका- ⅓ कप
  • सरसों के दाने/ राई- 4 टेबल स्पून (दरदरी कुटी)
  • नमक- 3 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
  • हींग- 1 पिंच
  • जीरा- 1 छोटी चम्मच
  • काली मिर्च- 1 छोटी चम्मच
  • मेथी दाने- 2 छोटी चम्मच
  • सौंफ- 4 छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर- 2 छोटी चम्मच
  • हल्दी पाउडर- 1.5 छोटी चम्मच

विधि - How to make Gajar, Shalgam, Gobi Ka Achar

फूलगोभी को फ्लोरेट करके 2 से 3 बार अच्छे धोकर पानी सूखने तक सुखाकर ले लीजिए. शलगम और गाजर को छीलकर धो लीजिए. सेम के धागे निकालकर धोकर पानी सूखने तक सुखाकर ले लीजिए.

शलगम को ½ से ¾ से मी के टुकड़ों में काट लीजिए. इसी तरह से गाजर और बीन्स को भी काट लीजिए.

अदरक को पतले-पतले छोटे टुकड़ों में काट लीजिए और हरी मिर्च को कैंची से या तो लंबाई में 2 टुकड़े करते हुए या एक गिराई के बराबर साइज के टुकड़ों में काट लीजिए.

सब्जियां ब्लांच कीजिए
एक बर्तन में इतना पानी ले लीजिए कि इसमें सारी सब्जियां अच्छे से डूब सकें और पानी को उबलने रख दीजिए. पानी में उबाल आने पर शलगम, गाजर, सेम और फूलगोभी इसमें डाल दीजिए. सब्जियों को ढककर पूरे 3 मिनिट उबलने दीजिए.

3 मिनिट बाद, सब्जियों को छलनी में डाल दीजिए और छलनी को किसी बर्तन के ऊपर 5 मिनिट के लिए रख दीजिए ताकि इनमें से अतिरिक्त पानी निकल जाए.

सब्जियों को कपड़े पर डालकर पतला पतला फैला दीजिए. इससे सब्जियों में जो भी पानी बचा होगा वो कपड़ा सोख लेगा. सब्जियों को 1 से 1.5 घंटे के लिए पंखे के नीचे रख दीजिए.

मसाला तैयार कीजिए
पैन गरम करके इसमें जीरा, काली मिर्च, मेथी दाने और सौंफ डालकर मसालों को हल्का सा भून लीजिए. भुने मसालों को एक प्लेट में निकाल लीजिए ताकि ये जल्दी से ठंडे हो जाए. पैन में सरसों का तेल डालिए और तेल को अच्छे से गरम होने दीजिए.

इसी बीच, मसालों को मिक्सर जार में डालकर दरदरा पीस लीजिए.

तेल के अच्छे से गरम होने पर गैस बंद कर दीजिए और तेल को ठंडा होने दीजिए. तेल के ठंडे होने पर इसमें हींग, हल्दी पाउडर और दरदरे कुटे मसाले डालकर मिला लीजिए.

सुखाई हुई सब्जियां एक प्याले में डाल लीजिए. इसी में हरी मिर्च और अदरक डाल दीजिए. सरसों का पाउडर, लाल मिर्च पाउडर और नमक डाल दीजिए. तेल मसाले भी डाल दीजिए और इन्हें अच्छी तरह से मिलने तक मिक्स कर लीजिए. इसमें सिरका डालकर भी अच्छे से मिक्स कर दीजिए.

अचार तैयार है. अचार को अभी भी खाया जा सकता है लेकिन अचार का स्वाद 3 दिन बाद आएगा जब मसाले इसमें अच्छे से ज़ज़्ब हो जाएंगे. गोभी गाजर शलगम के स्वादिष्ट अचार को फूड ग्रेड प्लास्टिक या कांच के कन्टेनर में भरकर रख दीजिए, यह अचार पूरे 3 से 4 महीने तक खा सकते हैं.

सुझाव

  • मिर्च को कैंची से काटना ज्यादा आसान होता है. 
  • आप अपनी पसंद के अनुसार सब्जियों में कोई भी कम या ज्यादा ले सकते हैं. 
  • सब्जियों को सूखने के लिए आप धूप में भी रख सकते हैं. 
  • मसालों को ज्यादा ना भूनें, बस उनकी नमी हटने तक ही भूनें. 
  • सब्जियों को ब्लांच करने की जगह, सब्जियों में नमक डालकर 1 दिन के लिए रख दीजिए. इससे सब्जियों का जूस बाहर निकल आता है. उसे हटाकर सब्जियों से अचार बना सकते हैं. इसके अलावा, अचार एक और तरीके से भी बना सकते हैं. सब्जियों को धोकर काटकर कपड़े पर फैलाकर धूप में 3 से 4 घंटे के लिए रख दीजिए. इनका जूस खत्म हो जाना चाहिए और उसके बाद अचार बना लीजिए. सब्जियों के जूस को कम करके ही अचार लंबे समय तक चलते हैं.
  • अचार के लिए जो भी बर्तन इस्तेमाल करें, वो सूखा और साफ होना चाहिए. 
  • सिरका डालने से अचार का स्वाद भी अच्छा आता है और अचार लंबे समय तक भी चलते हैं. 
  • कन्टेनर को उबलते पानी में धोएं और धूप में सुखाकर यूज करें. अचार को निकालने के लिए सूखे और साफ चम्मच का उपयोग करें.

Gajar, Shalgam, Gobi Ka Achar | शलगम गाजर गोभी सेम का अचार । Shalgam Gajar Mix Veg Pickle

Tags

Categories

Please rate this recipe:

3.09 Ratings. (Rated by 181 people)

  1. 02 February, 2018 12:39:07 AM Seema Gupta

    thanks for sharing

    • 02 February, 2018 04:39:41 AM NishaMadhulika

      सीमा जी, बहुत बहुत धन्यवाद एवं आभार. आप इसी तरह हमारे साथ अपने अनुभव साझा करती रहें.