केसर रसमलाई | Rasmalai Recipe | How to make Rasmalai soft

स्वाद और सूरत में बेहद उम्दा केसर रसमलाई, दीपावली के उत्सव के लिए खास स्वीट डिश. 

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Rasmalai Recipe

  • गाय का दूध - 1 लीटर (छैना बनाने के लिए)
  • फुल क्रीम दूध - 1 लीटर (रसमलाई सीरप बनाने के लिए) 
  • चीनी - 1.5 कप (300 ग्राम) (चाशनी बनाने के लिए)
  • चीनी - ½ कप (100 ग्राम) (रसमलाई सीरप बनाने के लिए)
  • केसर के धागे - 25-30
  • इलायची - 4 
  • बादाम - 6-7 
  • काजू - 6-7 
  • पिस्ते - 15-20 
  • नींबू - 2

विधि - How to make Rasmalai soft

रसमलाई बनाने के लिए दो बड़े बरतन लीजिए. इनमें 1-1 लीटर दूध डालकर दोनों को गरम होने के लिए गैस पर रख दीजिए.

बादाम को पतले-पतले टुकड़ों में काट लीजिए. काजू और पिस्ते को पतले-पतले टुकड़ों में काट लीजिए. इलायची को छीलकर इसके बीजों का पाउडर बना लीजिए.

एक प्याली में केसर के धागे लीजिए और इसमें थोड़ा गरम दूध डाल दीजिए ताकि केसर अपना रंग छोड़ दे.

दूध में उबाल आने पर एक बरतन को गैस पर से उतारकर जाली स्टैंड पर रख दीजिए और 2-3 मिनिट ठंडा होने दीजिए क्योंकि दूध को फाड़ने लिए दूध का तापमान थोड़ा कम करने की आवश्यकता होती है.

दूसरे बरतन के दूध में उबाल आने पर दूध को गाढ़ा होने तक पकने दीजिए, दूध को प्रत्येक 1-2 मिनिट पर चलाते भी रहें ताकि दूध बर्तन के तले पर न लगे.

नींबू काटकर रस प्याली में निकाल लीजिए. लगभग 2 टेबल स्पून नींबू के रस में 2 टेबल स्पून ही पानी भी मिला दीजिए.

3 मिनिट बाद दूध के 80 डिग्री सेन्टीग्रेड पर आ जाने के बाद दूध में थोडा़ सा नींबू का रस डालकर मिक्स कर दीजिए. इसे मिलाने के बाद फिर से थोड़ा सा नींबू का रस दूध में डाल दीजिए और मिक्स कर दीजिए. इसी तरह दूध में नींबू का रस डालकर दूध को हल्का सा चलाएं और फिर एक मिनिट रूकें और इसी तरह से जब तक नींबू का रस खत्म नहीं हो जाता यह प्रक्रिया जारी रखें. सारा नींबू का रस डाल देने के बाद दूध को थोड़ी देर के लिए ऎसे ही छोड़ दीजिए.

थोड़ी देर बाद दूध के फटकर तैयार होने पर दूध में छैना और पानी अलग दिखाई देने लगेगा तब इसे छान लीजिए. इसे छानने के लिए छलनी ले लीजिए और इसके ऊपर मलमल या सूती कपड़ा रखिए और छलनी के नीचे एक प्याला रखिए ताकि छानने पर पानी नीचे प्याले में चला जाए. फिर फटे हुए दूध को छान लीजिए और कपड़े को चारों ओर से उठाकर पानी निकाल दीजिए.

छैना अभी गरम है, इसे हल्का सा ठंडा होने दीजिए. हल्का ठंडा होने के बाद इसे अच्छे से निचोड़ लीजिए. फिर इस छैना में ठंडा पानी डालकर अच्छे से धो लीजिए ताकि इसमें से नींबू का स्वाद और महक हट जाए.

छैना को प्लेट में निकाल लीजिए और पूरे 4 मिनिट तक अच्छे से मसल-मसल कर चिकना कर लीजिए.
5 मिनिट बाद छैना मसलकर तैयार है. इसमें ½ छोटी चम्मच कॉर्न फ्लोर डालकर मिक्स कीजिए और फिर से छैना को 3-4 मिनिट अच्छे से मसल लीजिए.

दूसरी तरफ दूध भी उबलकर गाढा़ हो रहा है. इस दूध में बादाम, पिस्ते, केसर वाला दूध और इलायची पाउडर भी डालकर अच्छे से मिक्स कर दीजिए. दूध को इतना गाढ़ा होने तक पकाइए कि यह आधा रह जाए.

किसी बर्तन में 1.5 कप चीनी और 4 कप पानी मिलाइये और गैस पर रख दीजिये. गैस तेज रखें और बर्तन को ढक दीजिए ताकि पानी में जल्दी उबाल आ जाए.

छैना से गोले तैयार करें
अब मसल कर रखे हुए छैना से गोले तैयार कर लीजिए, छैना से थोडा़ मिश्रण उठाएं और इसे हाथों की मदद से गोल कर लीजिए और हथेली से हल्का दबाव देते हुए चपटा कर लीजिए. बने हुए गोले को प्लेट पर रख दीजिए और इसी तरह सारे मिश्रण से छैना के गोले बनाकर तैयार कर लीजिए.

चाशनी में उबाल आने पर छैना के गोले एक -एक करके डाल दीजिए (एक साथ छैना के गोले चाशनी में नहीं डालें) सारे गोले इस उबलते पानी में डाल देने के बाद गोलों को ढककर 15-16 मिनिट उबलने दीजिए और गैस तेज ही रखें जिससे कि पानी में उबाल हमेशा बना रहे.

दूध के 50% गाढा हो जाने के बाद, गाढ़े दूध में चीनी डाल दीजिए और चीनी के घुलने तक इसे थोड़ा सा और पका लीजिए. दूध में चीनी के पूरी तरह से घुल जाने के बाद गैस बंद कर दीजिए और दूध को ठंडा होने दीजिए.

15 मिनिट बाद रसमलाई चाशनी में अच्छे से पककर तैयार है. गैस बंद कर दीजिए और बरतन को गैस पर से उतारकर जाली स्टैन्ड पर रख दीजिए और रसमलाई को ठंडा होने दीजिए.

दूध के ठंडा हो जाने के बाद दूध को प्याले में निकाल लीजिए. रसमलाई भी ठंडी होकर तैयार है. एक रसमलाई को चाशनी में से निकालिए और इसे चम्मच से हल्का सा दबाकर रसमलाई को गाढ़े दूध में डाल दीजिए. इसी तरह बाकी की रसमलाई को भी दूध में डाल दीजिए.

स्वादिष्ट और बखूब केसर रसमलाई बनकर तैयार है, इसे प्लेट में निकाल लीजिए और इस पर गाढ़ा किया थोड़ा सा दूध डाल दीजिए और ऊपर से पिस्ते डालकर इसे गार्निश कर लीजिए.

सुझाव

  • दूध को हल्का सा ठंडा इसलिए किया जाता है ताकि छैना अच्छा नरम बनकर तैयार हो. अगर हम उबलते दूध में नींबू डालकर दूध को फाड़ते हैं तो छैना ज्यादा नरम नहीं बनता है. 
  • छैना बनाने पर जो पानी निकलता है उसे आप आटा गूंथने, दाल, सब्जी की ग्रेवी या कढ़ी बनाने के लिए उपयोग कर सकते हैं.
  • छैना को मसल मसल कर अच्छा नरम करना जरूरी होता है. अगर छैना नरम नहीं बना तो रस मलाई भी नरम और फूली हुई नहीं बनेंगी. 
  • रस मलाई में कॉर्न फ्लोर डालने से रसमलाई का टैक्सचर थोड़ा ओर अच्छा हो जाता है. आप चाहें तो बिना कॉर्न फ्लोर डाले भी रसमलाई बना सकते हैं. 
  • बची हुई चाशनी को आप मीठी पूरी, पुए, मीठे चीले, शक्करपारे बनाने में उपयोग कर सकते हैं या फिर से इसे छैना रसगुल्ले बनाने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं.

Rasmalai Recipe | केसर रसमलाई । How to make Rasmalai soft

Tags

Categories

Please rate this recipe:

3.66 Ratings. (Rated by 320 people)

  1. 24 July, 2018 04:07:14 PM Vidhi Sharma

    Hello mam.... Maine aapki receipe se rasmalai banayi.... rasgulle jab boil ho raha tha tab to bahut fule hue the but jaise hi gas band kari thodi der mein chote ho gaye.... please tell me Maine Kya mistake kari... rabdi bahut achchi bani rasmalai k liye but rasgulle nahi

    • 25 July, 2018 05:52:45 AM NishaMadhulika

      Vidhi Sharma चाशनी में अच्छा उबाल न हो या चाशनी गाढ़ी हो जाय तो रसगुल्ले फूलना बन्द कर देते हैं. आग हमेशा इतनी तेज रहनी चाहिये कि चाशनी में अच्छा उबाल चलता रहे और चाशनी एक -एक टेबल स्पून करके पानी भी डालते रहें, रसगुल्ले अच्छे बनेंगे.

  2. 23 March, 2018 12:24:09 AM Anu Gupta

    Nisha Ji, aapki recipe se Rasmalai banane ki koshish ki. Lekin chashni mein phat gai. Baar baar yahi hua. Maine paneer ko achchi tarah chikna Kar k dough banaya that. Please bataye aisa Kyu hua? If possible jaldi see jaldi reply Kar dein. Mujhe aaj hi banani hai. Thank you

    • 23 March, 2018 05:26:31 AM NishaMadhulika

      अनु जी, रसमलाई फटने के कई कारण होते हैं, छैना में पानी ज्यादा रह जाना, कम फैटना, और चाशनी में अच्छा उबाल न आ रहा हो, छैना के गोले उसमें डाल दिये जाय तब एसा हो सकता है. चाशनी में अच्छा उबाल आ रहा हो तब छैना के गोले एक - एक करके उबलती चाशनी में डालें और उन्हैं तेज आग पर बनायें, प्लीज सही रिजल्ट के लिये वीडियो अवश्य देखें.

  3. 03 March, 2018 08:01:41 PM Kripa singh

    Hi maim, Mujhe bataey ki jab mai chhena ka rassogulla ya rasmalai banati hu to us wkt soft hote h or bad me hard kyu ho jate h plz hlp me

  4. 07 November, 2017 01:36:39 AM Suman

    Nisha ji,Thanks for rasmalai. Main sare steps follow ki thi jaisa aapne batai hain. Pta nhi kyu chasani me dalne ke 10 minites Baad pura phail gya.Please reply kijiye ga taki main phir se sudhar karun aur banau.
    निशा: सुमन जी, फुल क्रीम दूध का प्रयोग कीजिये. छैना को अच्छी तरह चिकना होने तक मलिये. रस मलाई नहीं टुटेगी.

  5. 17 October, 2017 02:56:51 AM Neha Jain

    Nisha Auntie, rasmalai ki recipe ke liye bahut bahut dhanyawaad. Vakayi kaafi khoobsurat dikh rahi hai. Kya main ise bina kesar ke bana sakti hoon?
    निशा: नेहा जी हां अवश्य बना सकती हैं.

  6. 17 October, 2017 02:55:51 AM Rashi Kapoor

    Wow nice rasmalai. I will try this on Diwali and surprise my guests with homemade rasmalai.
    निशा: राशि जी, बहुत बहुत धन्यवाद. और अपने अनुभव हमारे साथ जरूर शेयर कीजिए.

  7. 17 October, 2017 01:19:44 AM mona


    निशाजी , मैंने रस गुल्ले बनाने आपसे ही सीखे थे . ऐसा स्वाद तो कभी बाज़ार की मिठाई में नहीं आया .
    निशा: मोना जी, बहुत बहुत धन्यवाद. ये आपकी मेहनत और लगन का ही नतीजा है.

  8. 17 October, 2017 01:07:20 AM Ritu Arora

    Thankyou so much Nisha ji. this is one of my favourite sweet.I will try.
    निशा: रितू जी, बहुत बहुत धन्यवाद.