राजगीरा का परांठा | Vrat ka Paratha - Rajgira | Farali Paratha with Amaranth

व्रत के लिए खासतौर से तैयार राजगिरे का पराठा. राजगिरा ग्लूटेन फ्री होने के कारण इसे ग्लूटेन से अलर्जी वाले लोग भी आराम से खा सकते हैं. 

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Farali Paratha with Amaranth

  • राजगिरा - 1 कप (200 ग्राम) 
  • उबले हुए आलू - 2 (100 ग्राम) (कद्दूकस किए हुए)
  • घी - 3-4 टेबल स्पून 
  • हरा धनिया - 2-3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ) 
  • हरी मिर्च - 2 (बारीक कटी हुई)
  • सेंधा नमक - 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार 

विधि - How to make Vrat ka Paratha - Rajgira

राजगिरा को धोकर सुखाकर ले लीजिए. राजगिरा को मिक्सर जार में डालकर बारीक पीस लीजिए. राजगिरा का आटा बनकर तैयार है. राजगिरा के आटे को प्याले में निकाल लीजिए और इसी में कद्दूकस किए हुए  उबले आलू भी डाल दीजिए. इसमें 1 छोटी चम्मच घी, बारीक कटा हरा धनिया, बारीक कटी हरी मिर्च और सेंधा नमक डालकर सभी चीजों को अच्छे से मिला लीजिए. थोड़ा सा पानी डालकर सख्त आटा गूंथ लीजिए. इतने आटे को गूंथने में 2 टेबल स्पून पानी का उपयोग हुआ है. आटे को 5-10 मिनिट के लिए रख दीजिए, आटा सैट होकर तैयार हो जाएगा. 

आटे के सैट हो जाने पर, हाथ पर थोड़ा सा घी लगाकर आटे को मसलकर चिकना कर लीजिए. आटे से लोई तोड़िये और गोल कीजिए. फिर चकले पर थोड़ा सा घी डालकर चिकना कीजिए. इस पर लोई को रखकर हाथों की मदद से इसे थोड़ा सा बढ़ाएं. इसके बाद, बेलन की सहायता से बहुत ही हल्का सा दबाव देते हुए मोटा परांठा बेल लीजिए. 

तवा गैस पर रख कर गरम कीजिये. तवे के गरम होने पर इसे थोड़ा सा घी लगाकर चिकना कर लीजिए. चकले पर से परांठे को सावधानी से उठाकर तवे पर डाल दीजिए. परांठे को नीचे की ओर से हल्का सिकने पर दूसरी तरफ़ पलट दीजिए और जब परांठे के दूसरे भाग में सुनहरी चित्ती आने लगे तो परांठे के पहले वाले भाग के ऊपर थोड़ा घी डालकर चारों तरफ़ अच्छी तरह से फैला दीजिए. परांठे को दूसरी तरफ़ पलटिए तथा इस भाग पर भी थोड़ा सा घी डालकर इसको अच्छी तरह से चारों ओर फैला दीजिए. परांठे को धीमी-मध्यम आंच पर दोनों ओर सुनहरी चित्ती आने तक अच्छे से सेक लीजिए.

सिके परांठे को तवे से उतारकर प्लेट पर रख लीजिए. इस तरह से सभी परांठे बनाकर तैयार कर लीजिए. इतने आटे मे लगभग 5 परांठे बनकर तैयार हो जाते हैं. 

राजगिरा से बने क्रिस्पी स्वादिष्ट परांठे बनकर तैयार हैं. परांठों को दही , व्रत की चटनी या व्रत की सब्जी के साथ  सर्व कर सकते हैं. 

सुझाव 

  • यदि आप से परांठे इस तरह से न बेले जा रहे हों तो आप पॉलीथिन पर लोई रखकर भी आसानी से बेल सकते हैं. 
  • राजगिरा के आटे में ग्लूट्न नहीं होता है इसलिए इसे बाइंड करने के लिए आलू का उपयोग किया जाता है.
  • परांठों को आराम से हल्के हाथों से थोड़ा मोटा ही बेलें, जिससे कि ये टूटे नहीं. 
  • परांठे को बेलने के लिए घी के बदले परोथन के लिए अरारोट का उपयोग भी कर सकते हैं.
  • हरी मिर्च और हरा धनिया नहीं डालना चाहें तो हटा सकते हैं. 

Vrat ka Paratha - Rajgira | राजगीरा का परांठा | Farali Paratha with Amaranth

Tags

Categories

Please rate this recipe:

5.00 Ratings. (Rated by 1 people)