sitelogo
Horoscope English Q and A

गोंद। Edible Gum। Gaundh | Gond | Gondh | Dink

Gond

गोंद (Edible Gum) क्या है?
गोंद पेड़-पौधों से प्राप्त होने वाला एक प्राकृतिक पदार्थ है, यह पे पौधों के अंदर से निकलता है और उनके तने पर चिपका हुआ होता है, वही सूखकर गोंद बन जाता है. गोंद अलग-अलग पेड़ पौधों से प्राप्त होता है जिस कारण इसके गुणों में भी कुछ भिन्नता देखी जा सकती है. गोंद में औषधीय गुण समाहित होने के कारण यह एक औषधि के रूप में उपयोग किया जाता है. इसके अलावा,गोंद का इस्तेमाल खाने में होता है.

गोंद को बंगाली में कोठरी, तमिल में गोंद, कन्नड़ में अन्तु, मलयालम में मझकनीरम कहा जाता है. थुम्मा जिगुरू के नाम से तेलूगू, गोंध से राजस्थान और डिंक के नाम से जाना जाता है.

Read - Edible Gum। Gaundh | Gond | Gondh | Dink

गोंद (Edible Gum) दिखने मैं कैसा होती है?
गोद दिखने में सफेद, पीले, भूरे रंग के क्रिस्टल की भांति होता है. यह मार्केट में छोटे-छोटे टुकड़ों में आसानी से प्राप्त हो जाता है. 

गोंद को खाने में उपयोग करने का तरीका
गोंद को भूनकर उपयोग में लाया जाता है. इसके लिए घी के हल्का गरम होने पर इसमें गोंद के टुकडों को डालकर लगातार चलाते हुए धीमी आंच पर भूना जाता है. भूनने पर गोंद फूलने लगता है और चार गुने आकार में आने पर यह पूरी तरह से भुन जाता है.

गोंद और गोंद कतीरा में अंतर
कुछ लोग गोंद को गोंद कतीरा समझते हैं जबकि गोंद कतीरा गोंद से भिन्न होता है. इसे अंग्रेजी में ट्रगकंथ गम (Tragacanth Gum) कहते हैं. इसकी तासीर ठंडी होती है जबकि गोंद गरम तासीर का होता है. गोंद कतीरा को पानी या दूध में भिगोने पर यह फूलकर गिलगिला हो जाता है.

गोंद (Edible Gum) का खाने में उपयोग
खाने वाली गोंद का उपयोग मुख्य रूप से पंजीरी और लड्डू बनाने में किया जाता है. इसे चक्की बनाने में भी उपयोग किया जाता है. इसे आटे, मेवों में मिक्स करके बहुत सी मिठाइयां बनाई जाती हैं.

इसके अतिरिक्त, इससे न्यू मदर के लिये, उसकी हैल्थ को ध्यान में रखते हुये, कई प्रकार के खाने बनाकर दिये जाते है, जैसे गोंद के लड्डू (gond ke laddu), हलीम के लड्डू, गोंद का पाग (gond pak pag recipe), मखाने का पाग (Makhane ka pag), नारियल का पाग, हरीरा (Harira Recipe) और खास पंजीरी जिसमें कमरकस (Butea Gond) डाला जाता है, कमरकस जच्चा को डिलीवरी के बाद उसकी मांसपेशियों की रिकवरी करने के लिये बहुत लाभदायक होता है.

गोंद का रख रखाव

  • गोंद को एयर टाइट कंटेनर में भरकर रखें. 
  • गोंद में किसी भी प्रकार की नमी न जाने दें. नमी के संपर्क में आने पर यह खराब हो सकता है. 
  • जब भी इसे उपयोग में लाएं तो साफ सफाई का ध्यान रखें. 
  • जिस भी कंटेनर में इसे रखा गया हो उसे साफ सूखे हाथों से ही खोलें और इसे निकालने के लिए साफ सूखे चम्मच का ही उपयोग करें.

गोंद कहां से मिलेगा
गोंद किसी भी स्थानीय किराना स्टोर या किसी बड़े ग्रोसरी स्टोर से भी प्राप्त कर सकते हैं. आप इसे अॉनलाइन (online) भी ख़रीद सकते हैं.

गोंद के स्वास्थ्य लाभ
गोंद का उपयोग उत्तम स्वादिष्ट मिष्ठान और अचूक औषधि दोनों ही श्रेणियों में किया जाता है. गोंद जो विशेष रूप से सर्दियों के मौसम में गर्म तासीर पाने, कमर दर्द में आराम के लिए अथवा नई मां (new mother) को बच्चे के जन्म के पश्चात खाने को दिया जाता है. यह शरीर की कमजोरी को दूर करके रोगों से मुक्ति दिलाने में भी बहुत सहायक है.

जोड़ों के दर्द एवं कमजोरी को दूर करने वाला है. शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढा़ने में सहायक होता है. मांसपेशियों को मजबूत करता है.

हमारी रेसिपीज़ में गोंद (Edible Gum) का उपयोग

गोंद के लड्डू - Gond ke Laddu recipe

जच्चा के लिये पंजीरी - Panjiri Recipe for New Mothers

मेथी के लड्डू - Methi Laddu Recipe - Fenugreek Seeds Laddu

सोंठ के लड्डू - Sonth Laddu Recipe, Saunth ke Laddu - Ginger Powder Laddu Recipe

उड़द दाल पिन्नी - Urad Dal Pinni - Punjabi Pinni Recipe

 

Please rate this recipe:

4.20 Ratings.

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Comments (1)

Ravi krishna on 05 November, 2017 23:46:42 PM

Nisha Ma'am, main to gond aur gond katira ek hi cheej samajhti thi. Acha hua apne bata diya.

निशा: रवि जी, धन्यवाद.

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.