Vrat Recipes

Vrat Recipes | Vrat Recipes in Hindi

व्रत के लिए चार तरह की चटनियां- हरे धनिये की तीखी चटनी, नारियल चटनी, मूंगफली के दाने की चटनी और कच्चे आम की मीठी चटनी, स्वाद में सभी एक से बढ़कर एक.

बाहर से कुरकुरी परत वाले, साबूदाना के साथ उबले आलू के साथ दरदरी कुटी मूंगफली को मिला कर बने साबूदाना वड़ा चाहे नवरात्रि या अन्य किसी व्रत में बनाईये या यूंही गर्मागर्म चटनी के साथ परोसिये, सभी को

व्व्रत में फलाहारी खाने के लिये समा से खीर, पुलाव चकली या पूरी बनाई जाती हैं. व्रत के लिये आज समा की पूरी बनाईये, इसका स्वाद आपको बहुत अच्छा लगेगा.

कच्चे केले का हलवा बनाने में बहुत आसान लेकिन खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होता है. इसे व्रत के अलावा भी कभी भी बना कर परोस सकते हैं.

मावा में सिघाड़े का आटा डालकर बनाये गये फलाहरी मावा मालपुआ खाने और देखने में अनुपम होते हैं. नवरात्रि या अन्य व्रत के दौरान सामूहिक व्रत खोलने के आयोजन में तो इसे बनाना मत भूलियेगा.

समा के चावल से व्रत के कई प्रकार के खाने बनाये जाते हैं. समा के चावल से बनी चकली उतनी ही अच्छी होती है, जितनी कि सामान्य चावल की चकली होती हैं. इसकी शेल्फ लाइफ भी अधिक होती है.

मूंग या उरद दाल से बनाये जाने वाले दही बड़े की पहले तैयारी करनी होती है लेकिन पनीर के दही वड़े तुरन्त आसानी से बनाये जा सकते हैं. स्वाद में बेहतरीन लेकिन अन्नरहित होने के कारण इन्हें व्रत में भी

साबूदाना थालीपीठ महाराष्ट्रियन डिश है. इसे व्रत के दिनों में फलाहार के रूप में बना कर खा सकते हैं. या इसके अलावा इसे नाश्ते या शाम के समय कम भूख के समय भी खाने के लिए भी बना सकते हैं.

आम तौर पर मखाना नमकीन व्रत या नवरात्रि में खाते है लेकिन यह बहुत ही स्वादिष्ट, एन्टीओक्सीडेन्ट और अन्य लाभकारी तत्वों से भरपूर होती है कि आप इसे जब चाहे खाईये, इसका कुरकुरा स्वाद बच्चों को भी बहुत

आइरन और फाइबर से भरपूर राजगिरा को चौलाई, रामदाना भी कहते हैं. इनसे बनी चिक्की या लड्डू खाने में बहुत स्वादिष्ट होते है. इन्हें व्रत या फलाहार में भी खाया जा सकता है.

खजूर और ड्राई फ्रूट दोनों ही खाने में बहुत ही स्वादिष्ट और पौष्टिक हैं, इनसे भरपूर प्रोटीन और आइरन मिलता है जो सर्दी के मौसम में हमारे लिये बहुत ही आवश्यक है. और इसको बड़ी आसानी से बनाया जा सकता है.

खजूर का शेक स्वादिष्ट होने के साथ साथ बहुत ही पौष्टिक होता है. विटेमिन्स, शुगर, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स, और मिनरल्स से भरपूर खजूर के शेक को टोनिक शेक कह सकते हैं. यह अन्न रहित है इसलिये आप इसका

कृ्ष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर प्रसाद के लिये पारंपरिक रूप से धनिये की पंजीरी और धनिया की बर्फी बनाई जाती है. धनिया बर्फी पिसे हुए धनिया में नारियल पाउडर, मावा या फूले हुये रामदाना - राजगिरा मिला कर

लौकी की बर्फी (Ghiya Ki Burfee or Lauki ki Lauj) आप त्यौहार पर भी बना सकते हैं और व्रत में फलाहार के रूप में भी प्रयोग कर सकते हैं.बनाने में एकदम आसान, रेशेदार पौष्टिक लौकी की बर्फी दिवाली पर आपके