sitelogo
Horoscope English Q and A

फरा – Fara Recipe – Gojha Recipe – Pitha Recipe

image

फरा या पिठ्ठा नमकीन और मीठा दोनों प्रकार का बनाया जाता हैं. मीठा पिठ्ठा (Pitha) एक तरह की मिठाई है, इसे बनाने में चावल का आटा और दूध व मेवे प्रयोग में लाये जाते हैं.

मीठा पिठ्ठा बंगाल में मकर संक्राति या काली पूजा के समय बनाकर खाया जाता है, वहां सर्दियों के दिनों में भी गरमा गरम मीठा पिठ्ठा बना कर खूब खाया जाता  हैं.   नमकीन पिठ्ठा को उत्तर प्रदेश में मैन फरा या फरा (Fara) भी कहा जाता है.  नमकीन पिठ्ठा नाश्ते में आप कभी भी बनाकर खा सकते हैं. नमकीन पिठ्ठा खाने में बड़े ही स्वादिष्ट लगते है़.  इसे गेहूं के आटे से, सूजी से, चावल के आटे से, गेहू का आटा या सूजी मिक्स करके या फिर तीनों चीजें मिक्स करके बना सकते हैं.  नमकीन पिठ्ठा बनाने में तेल या घी बहुत ही कम लगता है. अन्दर भरने के लिये सब्जियां या दाल जो आपको पसन्द है वह ले लीजिये. नमकीन पिठ्ठा भाप में पका कर या पानी में उबाल कर दोनों तरह से बनाया जा सकता है.  नमकीन पिठ्ठा भैया दूज के दिन स्पेशल बहिनें अपने भाइयों के खाने के लिये बनाया करती हैं. तो आइये आज हम नमकीन पिठ्ठा बनायें.

Read : Fara Recipe – Gojha Recipe – Pitha Recipe in English

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Fara Recipe

  • गेहूं का आटा -  एक कप
  • सूजी -   आधा कप
  • चावल का आटा - आधा कप
  • तेल -  1 टेबल स्पून
  • चने की दाल - एक कप
  • हरी मिर्च -   2
  • अदरक - 1 इंच लम्बा टुकड़ा
  • नमक -  स्वादानुसार
  • हल्दी पाउडर -  1/2 छोटी चम्मच
  • धनियां पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • अमचूर -  1/2 छोटी चम्मच
  • गरम मसाला -  1/4 छोटी चम्मच (यदि आप चाहें)

विधि - How to Make Fara

चने की दाल को चार घंटे या रात भर के लिये पानी में भिगो दीजिये, भीगी दाल को धोइये, मिक्सर में डालिये, 2 हरी मिर्च धोइये, डंठल तोड़िये और अदरक को छीलकर, धोकर, टुकड़े करके दाल के साथ डाल कर बिना पानी मिलाये थोड़ी मोटी दाल पीस लीजिये.

पिसी दाल में नमक, हल्दी पाउडर, धनियां पाउडर, अमचूर पाउडर और गरम मसाला डालकर अच्छी तरह मिला दीजिये, भरने के लिये पिठ्ठी तैयार है.
How to make Namkeen Fara or Goijha
गेहूं का आटा, सूजी, चावल का आटा तीनो को एक बर्तन में छान कर निकालिये.  आटे के बीच में जगह बनाइये,  तेल और नमक डाल कर अच्छी तरह मिलाइये.

गुनगुने पानी की सहयता से नरम आटा गूथिये(आटे की मात्रा का लगभग आधा पानी आटा गूथने के लिये पर्याप्त होता है).  गुथे हुये आटे को 20 मिनिट के लिये ढककर रख दीजिये.  पिठ्ठा गुझिया के आकार या गोल बाटी के आकार में जैसा आप चाहें बना सकते हैं.

गुथे हुये आटे से लोइया तोड़िये (लोई एक छोटी पूरी के बराबर की बना लीजिये), लोइयों को गोल करके पेड़े जैसा तैयार कर लीजिये. एक लोई लेकर 2 1/2 या 3 इंच के व्यास में बेलिये. एक चम्मच दाल उठाइये, बेली हुई पूरी के ऊपर रखिये, पूरी को एक ओर से उठाकर अर्ध चन्द्राकार आकार (गुझिया आकार) में मोड़ कर किनारों को दबा दीजिये, उठाइये और थाली में रख लीजिये. सारी लोइयों को इसी तरह बेल कर, भर कर, गुझियों की आकार की बना कर थाली में रख लीजिये.

गोल बाटी के जैसा पिठ्ठा बनाने के लिये, लोई को थोड़ा सा 2 इंच में बेलकर या हाथ से दबाकर बड़ा कर लीजिये, एक छोटी चम्मच दाल की पिठ्ठी उसके ऊपर रखिये और पूरी को चारों ओर से उठाकर कचौड़ी की तरह बन्द कर दीजिये, हल्के हाथ से दबाब देते हुये गोल आकार में कचौरी के जैसा बड़ा लीजिये.

किसी बर्तन में इतना पानी भर कर गरम करने रखिये कि उसमें बने हुये ये पिठ्ठा आसानी से डुब सके.
इस आटे में लगभग 30 - 32 पिठ्ठा बन कर तैयार हो जायेंगे, इन्हैं उबालने के लिये लगभग 2 लीटर पानी चाहिये.
Fara - Goijha - Pitha
पानी में उबाल आने के बाद बने हुये पिठ्ठा पानी में डालिये, फिर से उबाल आने के बाद 15 मिनिट तक पिठ्ठा उबलने दीजिये, बीच बीच में पलटे पिठ्ठा को चला कर ऊपर नीचे कर दीजिये.  आग बन्द कर दीजिये.   पिठ्ठा को चलनी में छान कर सारा पानी निकाल दीजिये.

नमकीन पिठ्ठा खाने के लिये बन कर तैयार है, आप ये पिठ्ठा चटनी के साथ खा सकते हैं.  इसको और अधिक स्वादिष्ट बनाने के लिये आप इसको फ्राई भी कर सकते है.

पिठ्ठा को फ्राई करने के लिये:

  • तेल - 2 टेबल स्पून
  • जीरा - आधा छोटा चम्मच
  • करी पत्ता - 6-7 पत्ते
  • अदरक  -   एक इंच लम्बा टुकड़ा ( बारीक काट लीजिये)
  • हरी मिर्च - 1-2 (यदि आप तीखा पसन्द करते हैं) बारीक काट लीजिये
  • नमक - एक चौथाई छोटी चम्मच
  • नीबू - 1 छोटा आकार का (रस निचोड़ लीजिये)
  • हरा धनियां - एक टेबल स्पून (बारीक कतरा हुआ)

पिठ्ठा को 2 टुकड़ों में चाकू से काट लीजिये.  कढ़ाई में तेल डालकर गरम कीजिये, गरम तेल में जीरा डाल कर तड़्काइये, करी पत्ता को तोड़कर डालिये, अदरक और हरी मिर्च भी डाल दीजिये, उबला हुआ पिठ्ठा डालिये, नमक और नीबू का रस भी छिड़क दीजिये और पलटे से पलट पलट कर पिठ्ठा को 2-3 मिनिट तक सेकिये. लाजबाव नमकीन पिठ्ठा तैयार है.

नमकीन पिठ्ठा बन चुका है, गरमा गरम नमकीन पिठ्ठा हरी चटनी और मीठी चटनी के साथ परोसिये और खाइये.  फ्राइड नमकीन पिठ्ठा तो इतना स्वादिष्ट है कि ये तो आप बिना चटनी के भी खा सकते हैं.
Steamed Fara Recipe

सब्जी भरकर नमकीन पिठ्ठा बनाने के लिये

गाजर, गोभी, मटर, बीन्स, पत्ता गोभी, उबले आलू इनमें से जो सब्जियां आप पसन्द करते हैं वे लीजिये कद्दूकस या बारीक कतर लीजिये, मसाला डालकर 2-3 मिनिट तक फ्राई कीजिये और बिलकुल दाल की तरह से ही भरकर अपना मन पसन्द आकार का नमकीन पिठ्ठा बनाइये.

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Related Questions


Leave a Reply

Priyanka singh on 19 August, 2010 09:24:42 AM

Simple n easy recipie. I will try it at my home. Thank you nisha ji

Mikki on 19 August, 2010 09:53:36 AM

acchi recipe hai.hum jerur try kerenge.
aap mitha(sweet)pittha kese benate hai vo recipe jerur likhna. thanks.

Anu on 19 August, 2010 14:17:02 PM

hamare yahan pittha vrat ke dino mei banta hai. par kewal chawal ke aate se banta hai hamare yahan ye wala bhi try kar ke dekhenge. :)

Sunita on 19 August, 2010 18:17:28 PM

very nice thanx nishaji will try today only looks like kachori

Shubhra on 20 August, 2010 18:44:27 PM

aap ki receipes me jarur try karti hu apki receipes padhkar hi mere muh me pani aa jata he kash aap meri sister hoti

Sughanda on 30 August, 2010 00:34:10 AM

This recipe in English

Fara or Pitha can be made as Namkeen or Sweet Pitha . Sweet Pitha is a type of sweet meat and is made with rice flour, milk and dry fruits.

Sweet Pitha is made during the occasion of Makar Sankranti or Kali Puja in Bengal, hot Sweet Pitha is also prepared and eaten a lot during winters in Bengal. Namkeen Pitha is known as Main Fara or Fara in Uttar Pradesh. You can make Namkeen Pitha for breakfast any day. It is very tasty, Fara is made from wheat flour, Suji, rice flour or wheat flour and Suji mixed together or all three mixed together. Very less oil/Ghee is used while preparing Namkeen Pitha. You can choose between vegetables or lentils that are to be filled in it. Namkeen Pitha can be prepared by cooking it in steam or by boiling in water. It is specially prepared on Bhai Dooj by sisters for their brothers. So let us make Namkeen Pitha today..

- Ingredients for Fara Recipe

Wheat flour - 1 cup
Suji(semolina) - 1/2 cup
Rice flour - 1/2 cup
Oil - 1 tbsp
Channa dal - 1 cup
Green chillies - 2
Ginger - 1 inch long piece
Salt - add to taste
Turmeric powder - 1/2 tsp
Coriander(dhaniya) powder - 1 tsp
Amchur - 1/2 tsp
Garam masala - 1/4 tsp (if you want)

- How to Make Fara

Soak Chana dal in water for 4 hours or the entire night, wash this soaked dal. Put dal in the mixer along with 2 green chillies(washed and stems removed), ginger(peeled,washed and grated) and make a little thick paste without adding any water.

Add salt, turmeric powder, coriander powder Amchur powder and garam masala to the dal paste. Mix all the ingredients well. Pitthi is ready for stuffing.

Filter wheat flour, Suji, Rice flour and keep them in a bowl. Create a crater in the center, put oil and salt in it then mix well.

Knead a soft dough using warm water(use water almost half to the amount of flour). Cover the dough for 20 minutes. Shape Pitha into a Gujhiya or round Bati as you desire.

Break off pieces from the dough(shape the pieces into a small puri), Roll the dough pieces like a Peda. Take 1 piece and flatten it with a rolling pin into a circle 2 1/2 or 3 inches in diameter. Take 1 spoon of dal and place on the rolled puri, lift Puri from one side and fold it giving a moon shape(Gujhiya shape) and press its edges together. Now place it on a plate. Roll all the pieces in this same manner, stuff them shape them like Gujhiyas and keep them on the plate.

To make Pitha in the shape of round Bati, roll the piece or press with your hand to expand it 2 inches in diameter. Place 1 tsp dal Pitthi on it then wrap up the Puri and close from all sides.Gently press with tour hand to expand it in a round shape like a Kachori.

Take water(enough to submerge the Pithas easliy) in a utensil and heat, it would take around 2 litres of water to boil them.

After the water comes to boil put the Pitthas in water, when the water comes to boil again boil them for another 15 minutes. Turn the Pithas over from time to time and stir them from top to bottom. Keep Pithas in a strainer to drain out all the water.

Namkeen Pitha is ready, you can have them with chutney. You can fry them to make them more tasty.

To fry Pittha :

Oil - 2 tbsp
Jeera(cumin seeds) - 1/2 tsp
Curry leaves - 6 to 7 leaves
Ginger - 1 inch long piece (finely chopped)
Green chilly - 1 to 2 (if you prefer spicy) finely chopped
Salt - 1/4 tsp
lemon - 1 small sized(squeeze the juice)
Green coriander - 1 tbsp (finely chopped)

Cut Pitha into 2 halves with a knife. Pour oil in a frying pan(kadhai) and heat., put Jeera in hot oil. After Jeera is roasted break the curry leaves and put them in oil followed by ginger, green chilly, boiled Pithas, salt and lemon juice. Fry them for 2-3 minutes as you turn their sides from time to time. Awesome Namkeen Pitha is ready.

Namkeen Pitha is prepared. Serve hot Namkeen Pitha with green chutney or sweet chutney and enjoy its taste. Fried Namkeen Pitha is so very tasty that you can have them without any chutney...

To make Namkeen Pitha with vegetable stuffing :

Choose any of the vegetables from carrots, cauliflower, peas, cabbage, boiled potatoes and grate or finely chop them. Add spice to it and fry for 2-3 minutes the stuff it as the dal paste and make your desired shape of Namkeen Pitha.

Vasundhara on 30 August, 2010 09:34:13 AM

namaste naishji,
mene ye recipe try ki bahut aacchi bani
i am a big fan of you
thanks

Vasundhara on 01 September, 2010 16:00:57 PM

namaste nishji,
aapse ek suggestion chahiye.
mujhe 12-15 members ke liye ghar par nashta banana he kya aap bata sakti he konsi recipe jaldi ban jaegi.
jo me banakar rakh sakti hu aur bad me surve kar sakti hu.(1-mithi,1-namkeen)
pls repply me

Sapna jain on 06 September, 2010 16:26:57 PM

Amazing recipe :)
U r too good..
Update ur site with some more vegetable recipe eg gatte(besan ke) ki sabji
निशा: सपना, बेसन के गट्टे की सब्जी "विशेष"कालम में नीचे की तरफ है.

Amrita on 07 September, 2010 11:16:16 AM

nisha ji kya pittha ko bina tale nahi kha sakte hain.ise talna jaroori hai?
निशा: अम्रिता, पिठ्ठा को तला नहीं हैं, थोड़ा तेल मसाले डाल कर फ्राई कर लिया है जिससे वह और अधिक स्वादिष्ट हो जाता है.

Anju on 15 September, 2010 14:49:58 PM

nishaji, mene apka ghewar video dekha, pls. give me ingridients of ghewar...
Thanks

Shashi thampy on 09 December, 2010 09:07:59 AM

hi nisha ji.....sardiyo me khaijanewali wali sabjiya kuch nayi tarike se bataiye .......shashi

Sangeeta on 11 April, 2011 09:37:57 AM

Nisha ji,maine yeh try ki ,taste bahut accha laga,par mere half fara toot gaye boil karte samay..kya galti hue ,please reply

निशा: संगीता, फरा उबलते पानी में डालने होते हैं, उबाल आने तक तो आग तेज ही रखिये, बाद में मीडियम आग कर सकते हैं. 2- 4 फरा तो चमचे से चलाते समय भी टूट सकते हैं.

Chandni on 11 April, 2011 15:52:38 PM

good recipe

Babita on 23 April, 2011 15:48:12 PM

its very testy nisha u r so sweet

Jyoti srivastava on 12 October, 2011 12:30:15 PM

nice recipe....

Luxmi sharma on 14 April, 2012 20:59:39 PM

nameste nish ji
aap mujhe gol gappe or dahi vada banane ki recepie bata do, mere pati ko bahut acha lagta hai.

निशा:
लक्ष्मी, दोंनो रैसिपी वेवसाइट पर पहले से उपलब्ध हैं, उनके लिंक निम्न हैं.
http://www.nishamadhulika.com/snacks/pani_poori_gol_gappa.html
http://www.nishamadhulika.com/snacks/dahi_vada_recipe.html

Pooja ojha on 05 June, 2012 12:55:39 PM

thanks for such simple n good narration .i shall definitely try this at home.

अंतरा on 12 June, 2012 11:40:17 AM

निशा जी! हम महाराष्ट्रीयन लोगों में इसी प्रकार से होली के अवसर पर, चने कि दाल का पुरण भरकर या मावा भरकर 'दिंड' बनाये जाते हैं. इनपर पिघला हुआ घी डालकर खाया जाता है.
निशा: अंतरा, धन्यवाद, कभी हम भी दिंड बनाकर खायेंगे.

Sonal on 15 July, 2012 14:20:40 PM

i want to know dat chawal ka ataa and ararot are the some things?

निशा: सोनल चावल का आटा और अरारोट अलग अलग है. चावल का आटा चावल को पीस कर तैयार किया जाता है

Sonal on 16 July, 2012 13:05:28 PM

i want to know dat chawal ka ataa and ararot are the same things? निशा: सोनल अरारोट एरोरूट की जड से बनता है यह कार्न फ्लोर जैसा होता है. चावल का आटा चावल को पीस कर बनाया जाता है. चावल का आटा बाजार में मिल जाता है. यदि चावल का आटा बाजार में न मिले तो चावल को रात भर भिगो कर पानी हटा कर कपडे पर फैलाकर एक घंटे छाया में सुखा लेंगे. फिर आप इसे घर पर मिक्सी में पीस सकतीं हैं.

Jyotshna sharma on 31 October, 2012 17:02:51 PM

nisha ji fara pitha ki recipe bahut tasty hai . chhattisgarh me fara kewal chawal aate se banate hai waise hi aapki recipe bhi tasty lagi,thanks
निशा: ज्योतिश्ना, बहुत बहुत धन्यवाद.

Neelima mishra on 04 November, 2012 14:32:55 PM

Easy to cook thanx.

Shamroop on 11 January, 2013 10:17:26 AM

satshreeakal ji i like vegtable

Radhika tiwari on 20 January, 2013 09:03:05 AM

Nisha ji,I am big fan of u and I have learned so many recipes after visiting this site ,we are also vegetarian and today I have tried this recipe ,and it turned out superb.I would like u to add recipe of MOONG URAD PAPAD and MASHROOM CHILLI.
once again thanks a lot
निशा: राधिका, बहुत बहुत धन्यवाद. मैं पापड़ बनाने की कोशिश करती हूँ.

Shanti sahu on 16 February, 2013 17:24:44 PM

I love u website...thanks for sharing great recipes

Poonam on 10 July, 2013 12:55:54 PM

Thanks for this recipe... I had eaten this recipe many years back at a friends place Mae by her nani... I'm glad I found the recipe here on ur website.
निशा: पूनम, बहुत बहुत धन्यवाद.

Ratan prakash on 16 August, 2013 05:34:23 AM

Nishaji,
Your website is very well presented. However, The recipes do not inform about the nutritional values and calories nor are their given healthy alternatives for the health conscious people. Specific nutrition and health information will make your recipes more reliable and ethical.

Jyoti sinha bhatnagar on 07 January, 2014 04:24:04 AM

Kindly mention quantity of any fluid (required in the recipe) in cc or ml. The standard one cup is eight fluid ounces.
This way I will know the exact amount of fluid needed in the recipe.
I am from Madhya Pradesh (Jabalpur) but grew up in Mumbai. In MP buknu is called Haldi and we eat it with rice and shuddh ghee.

Jyoti sinha bhatnagar on 07 January, 2014 15:02:53 PM

Kindly post the recipe for bafori

Princy on 15 February, 2014 09:02:20 AM

nice recepi... so yummy

Priya on 06 September, 2014 02:34:07 AM

Its very tasty..thanks to make this

Priya on 06 September, 2014 02:36:36 AM

Its very tasty..thanks to make this

Anuradha agarwal on 05 April, 2015 07:25:39 AM

hlo madam. kya hum chane ki daal ki jagah urad ki dhuli daal le sakte h pithi bharne ke liye ? and daal ko dardara hi grind krna hai na ? ya baarik
निशा: अनुराधा जी, आप अपने पसन्द की दाल अवश्य ले सकती है,दाल को दरदरा ही पीसना है.

Anuradha agarwal on 05 April, 2015 09:11:32 AM

hi nisha ji.

agar chana daal na ho to mota besan hai uski pithi bana skte h agar haan to thoda tarika bata dijiyega pls
निशा: अनुराधा जी, पिठ्ठी को मूंग दाल, उरद दाल, हरे मटर के दाने, किसी से भी बना सकते हैं. आप बेसन से पिठ्ठी बना रहे हैं, इसमें मन पसन्द सब्जियां भी मिला लीजिये, मसाले दालिये और थोड़ा सा दही या पानी डालिये कि पिठ्ठी ढोह के फोर्म में आ जाय, और ये पिठ्ठी भर फरा बनाइये और अपने अनुभव यहा शेयर अवश्य कीजिये.

Anuradha agarwal on 09 April, 2015 09:22:33 AM

thankyou soo much mam. jaldi hi banaungi ab.

Anuradha agarwal on 10 April, 2015 09:22:57 AM

hlo mam,

aaj maine urad ki daal se fara banaya tha. baki sab to thik tha par daal bht kadwi taste kar rhi thi so it was not edible. pta nahi kaise daal me kadwapan aa gaya. maine to ache se dho kar hi grind ki thi
निशा: अनुराधा जी, उरद की दाल तो अच्छी स्वादिष्ट लगती है, अगली बार आप इसे भूनते हुये मसालें मिलायें, फरा बिलकुल भी कढ़वे नहीं होने चाहिये.

Anuradha agarwal on 14 April, 2015 07:43:59 AM

maine bhun kar hi masale milaye the. kyoki vaise kachi si lag rhi thi taste me. pta nhi kya baat thi k kadwi ho gyi daal. maine usi daal ko grind kar ke bedmi puri bhi banai h apki recipes me se wo to achi bani thi.

thanks
निशा: अनुराधा जी, समझ नहीं आया क्या बात थी, लेकिन आपने बेड़मी पूरी अच्छी बना ली ये अच्छी बात है, बहुत बहुत धन्यवाद.

Anuradha agarwal on 21 April, 2015 00:10:15 AM

hlo mam,

maine dobara se fara banaya tha par is baar chane ki daal se hi banaya aapki batai gyi vidhi se hi. and it was delicious.

thanks.
निशा: अनुराधा जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.