मीठी मठरी – Meethi Mathri Recipe

होली या अन्य त्यौहार पर आप मीठी मठरी भी बना सकती है, ये मीठी मठरी खाने में बहुत अच्छी लगती हैं.

ये मीठी मठरी (Sweet Matrhi)  को करवा चौथ के उपवास में भी बनाईं जाती है.  ये ही मीठी मठरी को  परांठा जितना बड़ा बना दिया जाय तो मठ्ठे कहलाते है.  बड़े आकार के मट्ठे शादियों में शगुन के रुप में डलिया भर कर दुल्हन के साथ रख दिये जाते है जो दूल्हे के घर में सबको बांटे जाते हैं. वो मठ्ठे बहुत ही स्वादिष्ट लगते हैं.
ये मीठी मठरियां बनाने में बड़ी आसान हैं, समय भी बनाने में कम ही लगता है और खाने में बड़ी स्वादिष्ट.  तो आइये बनाना शुरू करें मीठी मठरी

आवश्यक सामग्री - Integrients for Meethi Mathri - Sweet Mathri

  • मैदा - 500 ग्राम (2 1/2 कप)
  • घी - 125 ग्राम ( 1/2 कप से थोड़ा सा अधिक )
  • चीनी - 500 ग्राम
  • दूध - एक टेबल स्पून
  • घी - मठरियां तलने के लिये.

विधि - How to make Sweet Mathri

किसी बर्तन में मैदा छान कर निकाल लीजिये, घी पिघलाइये और मैदा में डाल कर, हाथों से अच्छी तरह  मिलाइये.

गुनगुने पानी की सहायता से सख्त आटा गूथ लीजिये. गुथे हुये आटे को आधा घंटे के लिये ढककर रख दीजिये.

गूथे आटे को मसल मसल कर मुलायम कीजिये, आटे से छोटी छोटी लोइयां बनाइये इस आटे से करीब  30-40 लोइयां बन जायेंगी. लोइयों को गीले कपड़े से ढककर रख दीजिये.

भारी तले की कढ़ाई में घी डाल कर गरम कीजिये.

एक लोई उठाइये, 2 -3 इंच के व्यास में बेल लीजिये (ये मठरियां थोड़ी मोटी ही बेली जाती हैं).  बेली हुई मठरी में चाकू की सहायता से 12-15 गोचे लगा दीजिये, मठरी को पलटिये और दूसरी तरफ भी इसी तरह गोचे लगा दीजिये.  एक एक करके इसी तरह सारी मठरी बना कर तैयार करनी है.

कढ़ाई में घी गरम हो गया है. 4-5 बेली हुई मठरी कढाई में डालिये और मीडियम तथा धीमी आग पर मठरी ब्राउन होने तक तलिये, तली हुई मठरी प्लेट में निकाल कर रख लीजिये, सारी मठरी इसी तरह तल कर निकाल लीजिये. मठरियों को ठंडा होने दीजिये.

चाशनी बनाइये

किसी बर्तन में चीनी और 200 ग्राम पानी या एक छोटा गिलास पानी मिलाकर डालिये, चाशनी बनने के लिये आग पर रखिये. चाशनी में उबाल आने के बाद दूध डालिये और जैसे ही चाशनी में झाग किनारे होने लगे उन्हैं चमचे से उठाकर निकाल दीजिये, चाशनी एकदम साफ और अच्छी बनेगी.  चाशनी को 6-7 मिनिट तक पकाइये और 2 तार की चाशनी तैयार कर लीजिये (चाशनी के टैस्ट के लिये आप एक बूद चाशनी किसी प्लेट में गिराइये, ठंडी होने पर अंगूठे और अंगुली के बीच चाशनी को चिपका कर देखिये तार निकलते हुये दिखाई देगे).  चाशनी तैयार है.


चाशनी के बर्तन में 3-4 मठरी डालिये और डुबा कर निकाल दीजिये,  सारी मठरियां इसी तरह चाशनी में डुबा कर निकाल लीजिये. 5 मिनिट बाद फिर से ये मठरियां एक दूसरे के ऊपर से हटा कर सुखने दीजिये. मठरियां सूखने के बाद खाने के लिये तैयार हैं.

मीठी मठरियां तैयार हो गई है, आप ये मठरियां अभी खाइये और बची हुई मठरियां एअर टाइट कन्टेनर में रख लीजिये. जब भी आपका मन हो कन्टेनर से मठरियां निकालिये और खाइये. ये मठरियां  आप 2 महिने तक भी खा सकते हैं.

  • समय - 1 घंटा, 20 मिनिट

Meethi Mathri Recipe video in Hindi
recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Related Questions

Comment(s): 27:

  • on 27 February, 2010 04:28:21 AM
    nishaji,namste bhut accha,kya humkhazza bhi yaise bana sakte hain. hamare east u.p. me matthe ki tarah khazza bhi shuga me bheza jata hai
  • on 27 February, 2010 05:48:41 AM
    NISHAJI MAI APKI FAN HU .RECEIPE TO HUM AUR BHI SITES PAR PADTE HAI LEKIN FINAL APKE ACCORDING HI KARTE HAI .APKA SAMJHANE KA WAY BAHUUT HI ACHHA HAI .PURA PROPER HOTA HAI THANKYOU AGAIN AND AGAIN .MAY GOD BLESS YOU.
  • on 02 March, 2010 22:12:46 PM
    nishaji, mai aapki bahut badi fan hun. aur rojana aap ki website visit karti kun. ek request hai, please............hame bombay ice halwa jo patla- wex paper ke bitch yellow and while color mai milta hai uski recipe apne tarike se dijiye. maine bahot website pe recipe padhi hai, per sab ek jaisi hi hai, mano sab ne ek dusre se copy kari hai, banaya kisi ne nahi.
    aap please etni krupa kar ke Bombay ice halwa recipe hame sikhaye.
  • on 14 March, 2010 21:49:34 PM
    very nice recipe
  • on 06 April, 2010 02:05:10 AM
    i was searching this recipe thank u
  • on 13 June, 2010 23:17:47 PM
    good recipe for sweet dishes. muh me paani aa gaya.........
  • on 18 June, 2010 09:47:24 AM
    nisha Madhulika ji aapke karan mujhe bahut sara khana banana aa gaya hai Thank you so much.
  • on 23 July, 2010 11:53:12 AM
    Excellent good job
  • on 11 August, 2010 12:30:24 PM
    bah kiya site ha ,kiya receipy ha,bhaut time waste kiya dusri site per recipy dundtey huye
  • on 28 September, 2010 08:00:29 AM
    namkeen mathi banana batai.
    निशा: कन्चन,नमकीन मठरी "तले हुये" कालम में देख सकती हैं.
  • on 30 October, 2010 14:54:59 PM
    recipes ki sites aur bhi he par aapki site sabse achhi lagi. apke samjhane ka tarika bahut achha he. lagta he jaise do log milkar bana rahe he
    निशा: रेखा, धन्यवाद.
  • on 03 November, 2010 07:02:47 AM
    aap iski receip ki video banai , chaku sa nishan lagana per to dikhta ha talna ka baad, or bazar sa jo mathi lata ha uska nishan nahi lagata .
  • on 27 April, 2011 21:19:24 PM
    nishaji, sayad mei ne isi tarah ki ek reciepe dekhi thi jis me meide ke sath sooji milate hai aur us me dahi aur doodh dal kar guand ker choti choti puri banaker chasni me deep karte hai. us recipe ka naam kya hai? kya aisi koi reciepe hai ?
  • on 01 February, 2012 12:33:26 PM
    nishaji namaskar.mein aap ko pehli baar comment likh rahi hoon.Aap ki site dekhi aur bahut pasand aayee.mein aap key bataye vyanjan zarroor banane ki koshish karoongi.Kripya "Bajre ki meethi mathri{bake & tallii}banane ka tarika batayein{vishesh kar kitna paani daale kyonki yahin par mujhse galti hoti hai}

    निशा: रेवा, मैं लिखने की कोशिश करूंगी.
  • on 08 March, 2012 08:32:40 AM
    Hey,,, nisha ji mai India se hoo but rehti U.S. Mai hu but apke website se mujhe Sab kuch banana aa jata hai aap Sab kuch meri maa ke kaise hi sikhati hai I like u and ur recipe just tell me how to make sate ke laddoo....... Thankyou
  • on 26 April, 2012 11:33:55 AM
    gud nun nishamam i m big fan of u,ur recipes is mind blowing.thanks.

    निशा:
    प्रकाशिता, बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 10 July, 2012 11:46:16 AM
    Nishaji ghee kaisa ho desi or dalda pls tell me
    निशा: मिनी, कोई भी घी लिया जा सकता है,लेकिन देशी घी का स्वाद लाजवाब होता है.
  • on 20 May, 2013 21:33:21 PM
    Nisha Ji, I really liked ur website.. aaisa lagta hai ki ek dum mere mummy jaisa banti hai waisa he receipe hai....

    निशा: नेहा, बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 19 August, 2013 03:40:13 AM
    Nisha ji, chaash k bina meethi mathi bta dijiya plz.
    निशा: रतन, मैदा के साथ चीनी को पानी में घोल कर या पीसी चीनी डालकर आटा गूंथ कर, मठरी बनाई जायेंगी. मैं ये मठरी जल्दी ही बना दूंगी.
  • on 13 September, 2013 00:42:52 AM
    dear mam,aapne muj jaise sirf khana banane vale logon ko bhi allrounder bana diya.thnx to u.pl.ye bataiye ki ek taar n do tar ki chasni main kya difference hai.


  • on 28 October, 2013 01:39:50 AM
    Ma'am,i want to know gur dalker mathri kese benate hai,chachni alag nahi bunani hai.pl mughe ingredients beteyen.
    निशा: अनीता, 2 कप आटा या मैदा लीजिये और उसमें 80 ग्राम गुड़ आधा कप से कम गुड़ की आधा कप पानी में चाशनी बना लीजिये, चौथाई कप घी और इस गुड़ के पानी से सख्त आटा गूथिये, साथ में तिल डाल दीजिये, और मठरी बना कर खस्ता होने तक तल लीजिये, मीठी गुड़ की मठरी तैयार हो जायेंगी.
  • on 13 November, 2013 23:50:51 PM
    Please,bombay patala ice halwa racepi
  • on 25 December, 2013 23:39:54 PM
    mam muje metha khaja recipe janani hai plssss ................bataiye
    निशा: आभा मैं कोशिश करूंगी.
  • on 15 March, 2014 03:33:34 AM
    Nishaji, Maine meethi mathri banayi. Lekin kuch ghante ke baad vo ekdam soggy ho gayi. please bataiye ye kyon hua?
  • on 13 April, 2014 05:54:47 AM
    Hamna mithi mathri banai chasni me dalna ka bad test kea ASA mahsus hua jasa kachi ha kripya upai batea
    निशा: लालचन्द जी पहले मठरी को धीमी आग पर अच्छी ब्राउन होने तक तलें, और अब 2 तार की चाशनी में डुबाकर निकाल लीजिये, मठरी बहुत अच्छी लगती हैं.
  • on 27 July, 2014 06:25:26 AM
    nisha ji,mathri ko kitni der chashni mein duba ke rakhna hai,kya chashni mein daal kar turant nikal lene se mathri feeki to nhi reh jayengi,pl.bataiye
    निशा: सोानक जी, चाशनी में डुबाकर मठरी को तुरन्त निकाल लिया जाता है, मठरी के ऊपर चीनी चाशनी की एक परत आ जाती है जिससे वह मीठी लगती है.
  • on 14 September, 2014 01:30:32 AM
    Nishaji namaskar asp se bahut much seekha uske liye thanks. Aap se inspired ho kar maine. Kuch change kiya . Maine gundhne ke liye pani mein cheeni Gholi aur saadi mathri ki tarah banaa li bahut tasty baani. Again thanks
    निशा: शशि जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Submit your question

Log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes >>