बुकनू - Buknu Recipe - How to make Buknu Powder?

Buknu recipe
बुकनू चूरन भी है, मसाला भी है.यह पूर्वी उत्तर प्रदेश, विशेष रूप से कानपुर में बहुत लोकप्रिय है. इसे परांठा रोटी के ऊपर बुरक कर, चाट के ऊपर बुरक कर या मसाले की तरह दाल सब्जी में टेस्ट बढाने के लिये डाल कर खा सकते हैं. इसे बनाने के लिये किचन में प्रयोग करने वाले मसालों के साथ कुछ आयुर्वेदिक इन्ग्रेडियेन्ट्स भी हैं जो हमारे पाचन को सही बनाये रखती है.

Read: Buknu Recipe - How to make Buknu Powder? in English

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Buknu Masala

  • सादा नमक - 250 ग्राम
  • काला नमक - 125 ग्राम
  • सेंदा नमक (लाहोरी व्रतका नमक ) - 50 ग्राम
  • हल्दी - 75 ग्राम
  • बड़ी हर्र - 50 ग्राम
  • छोटी हर्र - 50 ग्राम
  • बहेड़ा -50 ग्राम
  • सूखा आंवला - 50 ग्राम
  • जीरा - 25 ग्राम
  • अजवायन - 25 ग्राम
  • सोंफ - 25 ग्राम
  • बड़ी इलाइची - 25 ग्राम
  • काली मिर्च - 25 ग्राम
  • सोंठ - 25 ग्राम
  • पीपर - 20 ग्राम
  • बायविरंग - 20 ग्राम
  • मरोड़ फली - 20 ग्राम
  • छोटी इलाइची - 10 ग्राम
  • खाने वाला नौसादर - 10 ग्राम
  • अच्छी वैराइटी की हींग - 5 ग्राम
  • सरसों का तेल - 100 ग्राम

विधि - How to make Buknu?

सारे मसाले अच्छी तरह देख कर साफ करके ले लीजिये.
कुछ मसाले तल लीजिये : बड़ी हर्र, सोंठ, हल्दी, छोटी हर्र और बहेड़े
सरसों के तेल को कढ़ाई में डालकर हल्का गरम कर लीजिये. बड़ी हर्र को गरम तेल में डालिये और धीमी आग पर 2-3 मिनिट तक तल कर निकाल कर किसी प्लेट में रखस् लीजिये.सोंठ को गरम तेल में डालिये और धींमी आग पर 2-3 मिनिट कलर बदलने तक भून कर इसे भी उसी प्लेट में निकाल लीजिये.हल्दी को गरम तेल में डालिये और इन्हैं भी 2-3 मिनिट धीमी आग पर कलर बदलने तक तल कर उसी प्लेट में निकाल लीजिये. छोटी हर्र को गरम तेल में डालिये और 1 मिनिट तक धीमी आग पर तल कर उसी प्लेट में निकाल लीजिये. अब बहेड़ा तेल में डालिये और 2-3 मिनिट तक धीमी आग पर तल कर उसी प्लेट में निकाल कर रख लीजिये.

कुछ मसाले सूखे भून लीजिये : सूखे आंवले, मरोड़ फली, बायविरंग, बड़ी इलाइची, पीपर, जीरा, अजवायन, सोंफ और हींग
भारी तले का पैन गरम कर लीजिये, सूखे आंवले को पैन में डालिये और धीमी गैस पर 2-3 मिनिट तक चलाते हुये भून लीजिये, इन्हैं दूसरी प्लेट में निकाल लीजिये.अब पैन में मरोड़ फली डालिये और चलाते हुये धीमी गैस पर भून लीजिये, और इसी प्लेट में निकाल लीजिये. अब पैन में बायविरंग डालिये और धीमी गैस पर 2 मिनिट भून लीजिये, और इसी प्लेट में निकाल लीजिये. अब बड़ी इलाइची और पीपर पैन में डालिये और लगातार चलाते हुये 2 मिनिट तक भून कर इसी प्लेट में निकाल लीजिये. अब पैन में जीरा, सोंफ और अजवायन डालिये और 1 मिनिट धीमी आग पर भून लीजिये, हींग भी इसी में डालकर और 1 मिनिट भून लीजिये, और इसी प्लेट में निकाल लीजिये.

Buknu Recipe
बचे हुये मसाले बिना भूने ही मिलाने हैं: सादा नमक, काला नमक, सेंदा नमक, छोटी इलाइची, खाने वाला नौसादर और छोटी इलाइची.

बड़े मसाले खल्लड़ से कूट कर थोड़ा छोटा कर लीजिये, ताकि वे मिक्सर से आसानी से पीसे जा सके. बड़ी हर्र, हल्दी और सोंठ को टुकड़ो में तोड़ लीजिये. बहेड़े को तोड़कर उसकी गुठली हटा दीजिये.

कुटे मसाले जार में डालिये और साथ में आधा सादा नमक डालिये और मसाले को बारीक पीस लीजिये. पिसे मसाले किसी बड़े बर्तन में निकाल लीजिये. अब रोस्टेड मसाले लीजिये और नमक मिलाकर बारीक पीस लीजिये और इन्हैं भी उसी प्याले में निकाल लीजिये, बिना भुने मसाले भी नमक के साथ में बारीक पीस लीजिये और इसी प्याले में निकाल लीजिये. सारे पिसे मसाले अच्छी तरह मिला लीजिये

मसाले को मोटी छलनी में छानिये, और छलनी के ऊपर अधिक मोटे बचे मसाले फिर से पीस कर बारीक करके मिक्स कर दीजिये. लीजिये बुकनू तैयार है. तैयार बुकनू को एअर टाइट कन्टेनर में भर कर रख लीजिये और 6 माह तक खाते रहिये.

सुझाव:
अलग अलग लोग बुकनू को अलग अलग तरीके और इन्ग्रीडियेन्टस से बनाते हैं, कुछ लोग अधिक मसाले डालते हैं और कुछ लोग कम मसाले डालकर बुकनू बनाते है. आप बुकनू बना रहे हैं और अगर कोई इन्ग्रीडियेन्ट न मिले तो उसके बिन ही बुकनू बना सकते हैं.

Buknu Recipe Video - Buknu Powder Recipe Video

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Related Questions

Comment(s): 33:

  • on 19 December, 2012 14:51:38 PM
    this recipe in English

    Buknu can be consumed as churan and also can be used as masala. It is very famous in Kanpur. This can be sprinkled on parantha, roti, chaat or can be added in dal or sabzi for enhancing taste. Along with some spices used in kitchen, ayurvedic spices are also used to make buknu which helps improve our digestion.

    Ingredients for Buknu Masala

    Plain salt - 250 grams
    Black salt - 125 grams
    Saindha salt (lahori vrat salt) - 50 grams
    Turmeric powder - 75 grams
    Badi harad - 50 grams
    Small harad - 50 grams
    Baheda - 50 grams
    Dry amla - 50 grams
    Cumin seeds -25 grams
    Carom seeds - 25 grams
    Fennel - 25 grams
    Brown cardamom - 25 grams
    Black pepper - 25 grams
    Saunth - 25 grams
    Piper - 20 grams
    Byberang - 20 grams
    Marod phali - 20 grams
    Green cardamom - 10 grams
    Nausadar - 10 grams
    Asafoetida - 5 grams
    Mustard oil - 100 grams

    How to make Buknu?

    Use clean spices.

    Fry some spices: Badi harad, Saunth, turmeric powder, small harad and Baheda.

    Take mustard oil in a pan and place it on flame for heating. Place badi harad in heated oil and fry on low flame for 2-3 minute, then take it out in a plate. Fry Saunth for 2-3 minutes on low flame until it turns bit dark in color and take it out in the same plate as well. Fry turmeric also for 2-3 minutes until it changes color. Place small harad in pan and fry for 1 minute. Now place badi harad in pan and fry for 2-3 minutes on low flame. Take it out in the same plate.

    Dry roast some spices: dry amla, marod phali, Byberang, brown cardamom, piper, cumin seeds, carom seeds, fennel and asafoetida.

    Preheat a pan with heavy base. Place dry amla in pan and roast of low flame for 2-3 minutes by stirring constantly. Take these out in other plate. Now add marod phali in pan and roast on low flame. Take piper and Byberang and roast for 2 minutes on low flame by stirring constantly. Now add cumin seeds, fennel and carom seeds in pan and roast for 1 minute on low flame. Add asafoetida to it and roast for 1 minute. Take out these in same plate.

    Add rest of the spices without roasting them: Plain salt, black salt, Saindha salt, green cardamom, Nausadar and brown cardamom.

    Coarsely grind the big spices so that they can be grounded easily in mixture grinder. Grind Badi harad, turmeric and Saunth coarsely. Grind badi harad and remove the seed from it.

    Place all the grounded spices in mixture jar and half the amount of plain salt. Finely grind the spices and take them out in some bowl. Now take roasted spices, add salt and ground them finely as well. Nicely mix all grinded spices.

    Strain the roasted masala in sieve. Grind the pieces left above the sieve again and mix again in the masala. Buknu is ready. Store prepared buknu in air tight container and use up to 6 months.

    Suggestion:

    Many people use different ingredients for making buknu. Some use more spices and some use less spices. You can make buknu without adding any ingredients which is not available.
    • on 23 January, 2013 19:41:39 PM
      you can mack your copy with MSword. and read it any time.
  • on 15 January, 2013 18:25:21 PM
    wonderful mam, you are wonderful. thanks for wirting a recipe from my area. your collection is very nice. thanks again. BUKNU is very digestive salt and can be taken as medicine also.
    निशा: जूली, बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 16 January, 2013 11:26:48 AM
    thanks nishaji for sharing this recipe but ye bari har aur choti har kya hota hai?pl reply.....
    निशा: रश्मि, ये आयुर्वेदिक इन्ग्रीडियेन्ट हैं, डाइजेशन के लिये बहुत फायदे मन्द हैं, आप इन्हैं किराना स्टोर से ले सकते हैं.
  • on 16 January, 2013 20:42:53 PM
    apne kaha ki ye sabji aur daal mein bhi istamal kar sakte hai,kaise uski recepie bhi bataye...
    निशा: मन्नू, दाल और सब्जी किसी में इसे थोड़ा सा डालकर मिलायें और खाये स्वाद के साथ सेहत भी अच्छी रहेगी.
  • on 17 January, 2013 09:42:21 AM
    Thankyou Nisha G
    mujhe mere nani ke ghar ki yaad aa gai...ham log wahaan achaar ke tel ko paratha par lagakar phir Buknu daalkar roll banakar khaate the............:)
    निशा: रेनू, मेंने भी बुकनू नानी के घर में ही खाया था, बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 17 January, 2013 10:33:27 AM
    Nisha ji, baivirang kya hota hai. Kya kirane ki shop par asani se mil jayega.
    निशा: वायविरंग, आयुर्वेदिक इन्ग्रीडियेन्ट है, गोल काली मिर्च से आकार में छोटा, काली मिर्च के कलर का, लेकिन स्मूथ स्किन का होता, जो आयुर्वेदिक इन्ग्रीडियेन्ट बेचते हैं, उन दुकानों पर मिल जाता है.
  • on 17 January, 2013 10:50:23 AM
    Nisha ji please जोधपुर की कचौरी ki recipe likhe.
  • on 17 January, 2013 16:30:51 PM
    fantastic.....thanks a lot.ye recipe kafi digestic hai.
  • on 19 January, 2013 19:55:31 PM
    mam maine buku try kiya sach bbataon bhut hi gunkar hai taste hi achcha hai aur meri digestive problem bhi thick ho gai thanks. main roz apki site padti hon aur recipe try karti hun.
    निशा: अजीजा, बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 05 February, 2013 22:51:26 PM
    mam kya aap sabji masala powder banana bta sakti.garam masala banana to aapne likha h jisse mujhe kafi fayda mila h.pr agr aap sabji masala banana bhi likh de to bdi kripa hogi
  • on 29 March, 2013 19:18:01 PM
    Sir
    I hv heard a lot about buknu. but i cant get it from market because i m residing in Haryana. Can u tell me any method that i can purchase the buknu by sending money to someone who is selling it or can u give any address to whom i can contact
    निशा: संजीव जी मुझे किसी बुकनू सेलर का पता नहीं मालुम, आप चाहें तो रैसिपी से घर में बुकनू बना सकते हैं, सारे सामान बड़े किराना स्टोरा पर आसानी से मिल जाते हैं.
    • on 14 April, 2014 23:48:17 PM
      sanjeeve ji ye aapko kannoj me milti hai
  • on 26 April, 2013 13:08:15 PM
    Mam kya sarson ke tel ki jagah mumfali ka tel ya soyabean ka tel use kar sakte hai?
    निशा: अल्का, जी हां किया जा सकता है.
  • on 23 May, 2013 11:13:04 AM
    Nisha g ... Pranam... Arahar dal mein daalne vali Aam ki Khatai kaise banate hai ??
    निशा: बीना, कच्चे आम के पल्प को निकाल कर खटाई दाल में डाल सकते हैं, या यही पल्प सुखा कर सूखी आम की खटाई पानी में भिगो कर दाल में डाली जा सकती हैं.
  • on 30 May, 2013 04:33:56 AM
    Its superb dear
  • on 19 June, 2013 16:43:54 PM
    Nishaji, I am confused with some name request you to clarify if I am true
    Harad is same as Harde
    Byberang is same as wavding generally known in Gujarat
    Marad Fali, Nausadar do you have any alternate name or equivelant name in Gujarati.
    and is piper the same as piparimul.
    I also request you to give recipe for masal used for chivda which made in Mathura
    निशा: अतुल, हर्र यहीं है, और वायविरंग भी यही है, मरोड़ फली, नौसादर के नाम से ही जाने जाते हैं और पुराने और बड़े किराना स्टोर पर आसानी से मिल जाते हैं.
    • on 23 June, 2013 00:27:39 AM
      Nishaji, Very nice of you to answer me. Thank you very much.
  • on 20 July, 2013 19:35:10 PM
    very good, all recipe are perfect
  • on 03 September, 2013 04:11:12 AM
    वायविरंग और मरोड़ फली का कोई दूसरा नाम क्या है ।
  • on 13 October, 2013 08:58:38 AM
    बायविरंग एवं मरोड़ फली इन दोनों का नाम पहली बार सुन रहे हैं , ये क्या हैं और कहाँ मिलेंगे ?
    आपके जवाब का इंतज़ार रहेगा. हम आपके जबरदस्त फैन हैं.
    नमस्ते एवं शुभकामनाएं !
  • on 19 November, 2013 10:39:45 AM
    Mam , U r superb, like ur all recipes and had cooked so many dishes . Mam, can u tell us sapeheta's recipe. Thanks mam
    Luv ur smile.
  • on 24 December, 2013 08:12:19 AM
    mam thank your recipi & you maine ap ka neebu ka achar ap ki site se banaya tha jise ghar walo aur mere friend ne like kiya aur sister ne practical me use kya jisko madam ne like kya so aap ka verr....rrr..y thank
    निशा: jibrail ji, आपको भी मेरा बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 09 March, 2014 07:52:36 AM
    nice n digt I've
  • on 13 March, 2014 06:48:32 AM
    NishaJi
    mein barson se buknu ki recipe dhoond rahi thi aaj usko serch karne par aap ki website ka pata challa. mere liye toh yeh jagah alibaba ka khazana nikla. Ma'am kya uttarpradesh ke cuisine mein hum is masale ko use kar sakte hein.
    warm regards
  • on 21 March, 2014 02:36:34 AM
    It sounds delicious and healthy. But where do we get all these ingredients ? From which shop? Plz tell. Thank u
    निशा: किरन ये चीजें बड़ी किराना शोप कर मिल जाती है, जो आयुर्बेदिक जड़ी बूटियां बेचते हैं.
  • on 04 April, 2014 01:52:42 AM
    Thanks alot mam mai ise gurgaon me dhoondh kar thak gayi but apne ise apni site par banane ki vidhi bata kar nahut acchha kiya
    निशा: वंदना जी, बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 12 April, 2014 09:20:08 AM
    buknu banane ki vidhi salosaal se doond raha tha aaj pata chala.
    bahut bahut dhanyavad
    निशा: राजेश जी, आपको भी बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 17 April, 2014 01:40:31 AM
    apki buknu ki recipe bahut bahut acchi thi!!!!! trhnk u nisha ji!!!

    निशा: दृष्टि जी, बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 30 May, 2014 11:45:42 AM
    thanks for the ultimate recipe of bukanu.. nisha ji..
  • on 05 July, 2014 00:55:58 AM
    नमस्ते निशाजी,
    मुझे चॉकलेट फ्लेवर में खारिसिंग बनाने की रेसिपी बताएगा प्लीज़्.
  • on 05 August, 2014 05:20:08 AM
    mam mujhe buknu ka sara saamaan mil gaya lekin byberang kahi nahi mila
    निशा: वंदना जी, वायविरंग भी पुरानी बड़ी किराना स्टोर पर मिल जाता है, जहां से आपने सारा सामान खरीदा है, उन्हैं बोल कर भी इसे मगवाया जा सकता है, और नहीं मिल रहा है तो इसे छोड़ कर भी बुकनू बनाया जा सकता है.
  • on 22 August, 2014 01:28:08 AM
    Nishaji e bukunu kitne din tak bahar rakh sakte he ya freez me rakhana padta he
    निशा: आमी जी, बुकनू को 6 महिने तक बाहर रख कर खाया जा सकता है.

Submit your question

Log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes >>