आलू के सेव - Potato Sev Recipe


आलू के सेव दो तरह से बनाये जाते हैं. उबले हुये आलू को कद्दूकस करके सुखा कर बनाये आलू के सेव (Potato Sev) और उबले हुये आलू में बेसन मिला कर तल कर बने आलू भुजिया (Aloo Bhujiya) सेव.
उबले आलू कद्दूकस कर के बनाये सेव आलू के मौसम बनाकर आसानी से स्टोर कीजिये और जब भी मन चाहे कुछ मिनटों में तल कर खाईये.

आवश्यक सामग्री Ingredients for aloo sev recipe

  • आलू - 3-4 या आप जितने चाहें.

विधि - How to make Potato Sev

आलू के सेव बनाने के लिये आलू पका हुआ चिकनी स्किन का और बड़े आकार का लेना चाहिये.
आलू को धोइये, कुकर में डालिये, एक गिलास पानी के साथ उबालने के लिये रख दीजिये, एक सीटी आने के बाद, 1 - 2 मिनिट धीमी गैस पर आलू उबालिये. उबले हुये आलू कुछ कड़क ही हों लेकिन कच्चे भी न हों, नहीं तो सेव काले हो जायेंगे, आलू के ज्यादा पकने पर, सेव बनाना मुश्किल हो जाता है.

कुकर खोलिये, आलू निकालिये, ठंडा होने पर आलू को छील लीजिये.

3-4 थालियों में थोड़ा तेल लगाकर चिकना कीजिये या किसी बड़े पोलिथिन सीट को किसी कपड़े पर बिछा कर चिकना कर लीजिये.

कद्दू कस लीजिये, कद्दूकस को थाली या पोलिथिन सीट पर रखिये और छिले आलू को कद्दूकस के ऊपर रखिये, कस कर सेव बनाइये, कद्दूकस को वायें हाथ में पकड़िये और सीधे हाथ से आलू को पकड़ कर कसिये, हाथ की पोजीसन को हटाकर बदलते रहिये और आलू को कद्दूकस करते जाइये, आलू के सेव एक जगह इकठ्ठे नहीं हों, वह अलग अलग गिरने चाहिये. इसी तरह जितने भी आलू हों, सारे आलू को कद्दूकस करके सेव वना लीजिये.

एक दिन की धूप में ही ये सेव काफी हद तक सूख जाते हैं, आलू के सेव को इकठ्ठा कर लीजिये, इन सेव को फिर से धूप में रखकर दूसरे दिन की धूप और लगा दीजिये.

आलू के सेव बन कर,सूख कर तैयार हैं, इन्है आप किसी भी डिब्बे में भर कर 6 माह तक रख सकते हैं. जब भी आपको आलू के सेव खाने हों, कन्टेनर से सेव निकालिये, कढ़ाई में तेल डालकर गरम कीजिये, तेल का तापमान ज्यादा गरम न हो, आलू के सेव आधा मिनिट से भी कम समय में तल जाते हैं, गरम तेल में आलू के सूखे सेव डालिये, कलछी से घुमाते हुये, सेव के सफेद होकर फूलने तक, तल कर निकाल लीजिये. आप सारे जितने चाहें उतने सेव तल कर प्लेट या थाली में इसी प्रकार तल कर रख लीजिये.

तले सेव पर चाट मसाला या नमक और थोड़ी सी लालमिर्च या नमक और थोड़ी सी काली मिर्च डाल कर मिलाइये. आलू के कुरकुरे सेव खाने के लिये तैयार हैं. आलू के तले हुये सेव के साथ गरमा गरम चाय बनाना मत भूलिये.

सुझाव:

  • सूखे आलू के सेव आप तल कर, लाहोरी नमक और काली मिर्च मिलाकर व्रत में खाने के लिये बना सकते हैं.
  • आलू के सेव अच्छी तरह सूखने पर ही कन्टेनर में भर कर रखिये, नहीं तो ये सेव लाल होकर खराब हो सकते हैं.
recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Related Questions

Comment(s): 20:

  • on 04 May, 2011 08:40:39 AM
    nishaji recipes aapki hoti hai lekin larif meri.thank you for your delious recipes.pls keep writing. thank you again.
  • on 04 May, 2011 10:25:29 AM
    Nisha Ji, thank you so much. Aapne mere liye itni jaldi mehnat ki. Kya kahoo aapko didi, Maasi, bhabhi, saheli ya Maa. sach me aap maa ki tarah hi sabko pyar or gun baant rahi hai. thanks again. Kya main aapki age jaan sakti hoon. I am 32.

    निशा: ममता, मैं 52 की हूं.
  • on 04 May, 2011 11:29:14 AM
    Aapne उबले हुये आलू में बेसन मिला कर तल कर बने आलू भुजिया (Aloo Bhujiya) सेव. likha hai lakin aab yeh bhi hame sikhana padega. Aapki Mamta
    निशा: ममता, मैं बहुत जल्दी ही इन्हें बनाने की कोशिश करूंगी.
  • on 04 May, 2011 15:15:12 PM
    Nisha ji basan meela ka aloo bhujiya kee vedhee bataya please
    निशा: बहुत जल्दी ही इन्हें बनाने की कोशिश करती हूं.
  • on 06 May, 2011 03:31:13 AM
    Nishaji,

    Mamata ne aapani comment mein bahot sahi kaha ki "sach me aap maa ki tarah hi sabko pyar or gun baant rahi hai."

    Aapaki website roj dekhe bina maan hi nahi lagta itani aadat ho gayo hai. Aap itane jaldi jaldi nayi nayi recipe banake, photo kinch ke, vidhi likh ke website par dalati hai - yeh bahot mehanat ka kaam hai. In addition to one's day to day responsibilities, making recipes, photos, writing the details and publishing on web is a lot of work. On top of it, all recipes are available for free. This is a great work. Balki,aaj ki nayi pidhi ke liye ye aapaka kaam samaj-sewa hi kehlayega. Nahi to, hum world mein kisi bhi kone mein baith kar, aapane family se door rahate huye, nayi recipe sikh hi nahi sakate the. (I live in US and always miss learning to cook special occasion sweets etc. under mother's guidance) par ye kami aapaki website ne puri kiyi hai.

    Apaki website ke jariye recipes ke saath saath vegetarianism ka bhi prachar aapne aap hi ho raha hai. Yeh bahot achi baat hai.

    aapko bahot bahot dhanyawand.

    निशा: मोनिका, आप सभी का इतना प्यार पाकर मैं आप सबकी बहुत आभारी हूँ, धन्यवाद.
  • on 06 May, 2011 06:28:05 AM
    nishaji ,main mamta se bilkul sahmat hoon aap to huari maa hi hain spl mujhjaisey ladkiyon ke liye jinke sar se maa ka saya bahut choti umar main hi hat gaya ho ...jab tak bhi main apni mumma ko khana peena ya snaks banate dekha vo recipes bilkul aapke recipes jaisey hi hain even harida ki recipe pure net per kanhi nahin hai bas is site per hi hai pahle har baar india phone karna padta tha per khane peene ki prblm to aapne bilkul solve kar di aapko to main nisha maa hi bulane vali hoon ab se
    thankyou very very much nishamaa aap grt ho
    ruchika

    निशा:
    रुचि, धन्यवाद.
  • on 06 May, 2011 20:14:55 PM
    Ruchi, aap sahi keh rahi hai. nishaji har beti ke liye maa hi hai jo unse seekh kar aapne parivar ka annapurna ki tarah palan-poshan kar rahi hai.
  • on 24 June, 2011 22:43:01 PM
    nishaji plz aloo bhujiya ki recepie bhi bata dijiye
  • on 04 July, 2011 20:42:26 PM
    nisha ji ye sev to fike rah jaenge in me namak kase milega plz bataiye.

    निशा: नरगिस, नमक मसाला सेव तलने के बाद मिलाया जाता है.
  • on 27 July, 2011 18:35:24 PM
    plz nisha ji mughe cooking tips dijiye na
  • on 26 October, 2011 10:09:09 AM
    achhi lagi vidhi
  • on 30 November, 2011 15:57:57 PM
    nisha ji apki site se bahut kuch accha sikhne ko milta he . thanks
  • on 16 July, 2012 16:25:02 PM
    yeh sev aachi h nd kya mei iss sev ko sevpuri banane ke liye b use kr sakti hu

    निशा: ज्योति, सेवपूरी के लिये आप पतले सेव की जाली लगाकर बारीक सेव बना लीजिये.
  • on 17 July, 2012 15:46:43 PM
    hello nisha ji,,
    firstly to aapko thanxx jo etni achhi achhi recipe hume sikhate hai aap,,,,,really mai nisha ji aapki is site k karan bahut si mahilao ne ladkiyone ne sabhi recipe sikh li hogi or such kahu to mujhe to her bar aapki banayi recipe k karan tarrif milti hi rahti hai,,,aapke aalu ki sev to etne achhe bane k mujhse puchh puchh kar meri frds or family k log bhi banate hai thanxx nisha ji esi hi achhi achhi recipe hume sikhate rahiye jisse ki hum bhi kichen k Queen ban jayenge ,,,,,thank you so much nisha ji
    निशा: अंजू, आपको भी मेरा बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 29 July, 2012 10:43:14 AM
    nishajee mujhe aapkk khana banane ka tarika bahut pasand aata hai

    निशा: धन्यवाद पिंकू जी
  • on 13 August, 2012 12:09:11 PM
    i love all recipe ......thnk u.... nisha mom.....
  • on 21 August, 2012 09:36:35 AM
    sab dekhakar banati hu to achha hota hei
  • on 09 September, 2012 14:28:14 PM
    Hi Nisha ji .good after noon ji.Mam alu sev banaye the aaj.waoooooo what a sev.bahot mast bane hai.thanks a lot ji.tusi great ho ji.bhagwan ap ki umer lambi kre.thank u.
    निशा: मनु जी आपको बहुत बहुत धन्यवाद.
  • on 04 January, 2014 05:50:22 AM
    namaste nisha ji, aap hum sabko itne pyar se itni acchi aur traditional recipes sikhati he uske liye bohot bohot dhanyavad, nisha ji, kya aap hame "kudlai" banana sikhayegi, jo suji, chawal, jwar, makka, aadi se banai jati he....thank u.nisha ji...
    निशा: अर्पिता, मैं कोशिश करूंगी.
  • on 18 January, 2014 05:13:44 AM
    Dear madhuriji me and my wife Like your recipe and you are very good explain to understand good luck to you thank you very much have a nice day
    निशा: धनसुख जी, आपको भी मेरा बहुत बहुत धन्यवाद.

Submit your question

Log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes >>