गुलाब शरबत - Gulab Sharbat Recipe


दहकती हुई गर्मी के मौसम में गुलाब का शरबत (rose sharbat ) दिल दिमाग और शरीर को ठंडक पहुंचाता है. इस समय गुलाब के फूल भी बहुतायत में मिल रहे हैं और यही समय है गुलकन्द और गुलाब का शर्बत (gulab sharbat drink) बनाने का.

शर्बत या गुलकन्द बनाने के लिये जंगली गुलाब के फूल कल्चर्ड गुलाब के फूलों की अपेक्षा अधिक अच्छे होते हैं, साथ ही कीमत में बहुत कम होते हैं. दिल्ली में हम गुलाब कनाट प्लेस बाबा खड़क सिंह मार्ग पर सुबह चार बजे से सुबह नौ बजे तक लगने वाली फूल की मंडी से खरीदते हैं. लगभग अस्सी गुलाब के फूल का गुच्छा साठ रुपये का मिल जाता है.

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Rose Sharbat

  • लाल गुलाब के फूल - लगभग 30 गुलाब)
  • चुकन्दर - 1
  • तुलसी के पत्ते - 20-25 पत्तियां
  • पोदीना के पत्ते - 20-25 पत्तियां
  • धनियां के पत्ते - एक बडी चम्मच कटा हुआ
  • छोटी इलाइची - 5-6
  • चीनी - 1 किग्रा. (5 कप)
  • नीबू - 4

विधि - How to make Rose Sharbat

गुलाब की पंखुड़ियों को 2 बार अच्छी तरह धोकर साफ कर लीजिये, धुली पंखुड़ियों को छलनी में रखकर अतिरिक्त पानी निकाल दीजिये, अब गुलाब की पंखुड़ियों को सूती साफ कपड़े पर फैलाइये, दूसरे कपड़े से भी पोंछ कर पानी हटा दीजिये.

एक कप पानी उबालिये, हल्का गरम रहने पर, गुलाब पंखुड़ियों को मिक्सर में डालिये, उबला पानी डाल कर, गुलाब पंखुड़ियों को पीस लीजिये.

पिसे गुलाब पंखड़ियों को छलनी में डालिये, किसी प्याले में गुलाब रस को छान कर अलग कर लीजिये.

चुकन्दर को धोइये, छीलिये, टुकड़ों में काटिये, तुलसी, धनियां और पूदीना के पत्ते धोइये और इन सबको मिलाकर बारीक पीस लीजिये. पिसा हुआ मिश्रण और एक कप पानी, किसी बर्तन में डालिये और उबलने रखिये. उबाल आने के बाद धीमी आग पर 3-4 मिनिट तक उबलने दीजिये. आग बन्द कर दीजिये और इस मिश्रण को ठंडा होने दीजिये. मिश्रण के ठंडा होने के बाद, छलनी से छानिये और इस रस को प्याले में रख लीजिये.

600 ग्राम चीनी को किसी बर्तन में डालिये, 200 ग्राम या 1 कप पानी मिलाइये, उबलने के लिये रखिये, चीनी घुलने के बाद, 1-2 मिनिट उबालिये और आग बन्द कर दीजिये और इस चाशनी को ठंडा होने दीजिये.

बची हुई चीनी में इलाइची छील कर, दाने मिलाइये और पीस लीजिये.

नीबू का रस भी एक प्याले में निकाल लीजिये.

चीनी की चाशनी में गुलाब की पंखुड़ियों का रस, चुकन्दर इत्यादि के मिश्रण का रस और नीबू का रस मिलाइये. पिसी हुई चीनी भी इसी चाशनी में डाल दीजिये, सारी चीजों को अच्छी तरह मिलाइये. शरबत को 4-5 घंटे ढक कर रखे रहने दीजिये, ताकि सारे स्वाद मिलकर अच्छी तरह महकने लगे.

गुलाब का गाड़ा शरबत (Concentrated Rose Sharbat) तैयार है, गुलाब के शरबत को कांच की बोटल में भर कर फ्रिज में रख लीजिये. और जब भी आप शरबत बनाना चाहें तब 1 गिलास ठंडे पानी में 2 बडी चम्मच गुलाब शरबत डालिये और मिलाइये. गुलाब शरबत को अधिक ठंडा करने के लिये, थोड़ी सी 1-2 क्यूब बर्फ डाली जा सकती है. गुलाब का शरबत बहुत ही स्वादिष्ट बना है.

इस गुलाब शरबत (Gulab Sharbat) को 1 महिने तक फ्रिज में रख कर प्रयोग में ला सकते हैं.

सुझाव:
आप अपने पसन्द और स्वाद के अनुसार धनिया, पोदीना या तुलसी में से किसी को भी हटा भी सकते हैं या अन्य रस जैसे अनार का रस वगैरह गुलाब शरबत में मिला सकते हैं.

How to make Gulab Sharbat

Comment(s): 51:

  • on 22 April, 2011 08:26:18 AM
    HALLO MAM,
    UR RECIPES R VERY HELPFUL 2 US

    PLEASE TELL ME HOW 2 MAKE "" GULUKAND ""

    TELL ME SOME HEALTHY RECIPES FOR GROWING CHILDREN ( 5-10 YRS)

    CAN WE MEET U PLEASE TELL MAM

    THANKS MAM
    ANJALI


    Reply Flag
  • on 22 April, 2011 10:13:21 AM
    Kaphi Achcha hai. garmiyon mein iski jarurat hai.
    sird 1 baat samajh nahin aa rahi hai ki gulab ko peeskar usko baki mishran ke saath ke sath ubaalna yaa binaa ubale hi chaashni mein milana hai. yahan confusion ho rahi hai.
    please reply this solution.
    thanks for this lovely recipe.

    निशा: प्रतापड्न, गुलाब को अलग से पीस कर, रस निकालना है, सभी रस चाशनी में ही मिला देने हैं.
    Reply Flag
  • on 22 April, 2011 15:44:54 PM
    ise sarbat ko bazar me meilne wale sarbat ke tare 6 months ya jyada din tak nahei rakh sakete kya.koie preservetie melaye toh kesa rahega

    निशा: अर्चना बाजार में मिलने वाला अधिकांश शर्बत चाशनी में खुश्बू और एसेंस मिला कर बनाया जाता है. उसमें प्राकृतिक रस की मात्रा काफी कम रहती है. इसलिये उसे अधिक दिन तक रख सकते हैं. वैसे शर्बत के प्रिजर्वेशन के लिये सोडियम बेंजोएट का प्रयोग करते हैं.

    घर में बना यह शर्बत इतना अच्छा लगेगा कि इसे आप छह महीने तो क्या छह दिन में ही खत्म कर डालेंगी.
    Reply Flag
  • on 22 April, 2011 16:34:43 PM
    nishaji meine jatpate amla ki candy mei aap se janena cchha tha amla ka powder kese banate hai kyoke mene suna hei ye kai bemare mei faydemand hota hei please reply me the way of making amla powder here.

    निशा: सुझाव के लिये धन्यवाद अर्चना, मैं कोशिश करूंगी..
    Reply Flag
  • on 22 April, 2011 17:56:38 PM
    Dear Nishaji

    Ur great u always fulfill the request of the readers. Kindly give me the recipe of how to make bel sharbat (wood apple )


    निशा: नीति, बेल के शरबत बनाने की विधि निम्न है
    How to make Bel Sharbat - Wood Apple Sharbat
    Reply Flag
    • on 22 April, 2011 19:35:00 PM
      Neeti, Bel sharbat (wood apple)Nisha ji ne diya huya hai. aap search me likh kar search kar le.
      Reply Flag
  • on 23 April, 2011 10:36:09 AM
    Hello Nisha Ji, I have a problem please solve it. DESI GHEE ko long time tak preserve kaise kar sakte hai. I am a working women. or mein na to ghee ko bar bar garam kar sakti hoon or na hi jaldi consume kar sakti hoon. Please help me as soon as possible kyunki mein aaj hi 2-3 kilo ghee bana rahi hoon. Please
    thanks

    निशा:
    ममता, घी में मठा की मात्रा न हो, अच्छी तरह गरम करके छाना गया हो तो 6 महिने तक भी खराब नहीं होता. घी बनायोगी तो खर्च भी करना ही होगा. घर में बनने वाले दाल सब्जी को घी से बनाइये, खाना स्वादिष्ट बनेगा और घी भी खर्च हो जायेगा.
    Reply Flag
    • on 23 April, 2011 14:17:56 PM
      Thanks Nisha Ji for your reply. Main daily rutine me deshi ghee hi use katri hoon. lakin hamare yahan doodh aacha milta hai to malai bhi aachi aati hai is liye use karne ke baad bhi ghee store karna hi padta ha. AAp koi upaye bataye jisse ghee lambe samay tak rakha ja sake. Thanks
      Reply Flag
      • on 26 April, 2011 17:07:03 PM
        Mamta ji, you can put some cloves into ghee to store it for long time.
        Reply Flag
  • on 23 April, 2011 10:37:13 AM
    Or mere pass already kafi sara ghee bana hua pada hai.
    Reply Flag
  • on 23 April, 2011 11:25:36 AM
    प्रिय निशा जी,
    आप से निवेदन है की गुलाब जल बनाने की विधि बताये जो आँखों के लिए उपयोग किया जाता है .

    निशा
    : ओमप्रकाश जी, मैं इसके लिये कोशिश करूंगी.
    Reply Flag
    • on 23 April, 2011 12:39:35 PM
      omprakash ji, eyes gulab jal banana to mujhe nahi pata magar ek useful eyes drop batati hoo, baba Ramdev ji ka farmula hai.ye motiyabind main aur chashma utharne main upyogi hai.is eye drop ko use karne par eyes swasth rahti hai. lekin agar eyes lal rahi hai to is eye drop ka upyog na kare. main to is eyes drop ka labh utha rahi. honey 3 tbs onion ras 1tbs ginger ras 1 tbs lemon ras 1 tbs mix all & use as eyes drop.
      Reply Flag
      • on 23 April, 2011 14:20:25 PM
        Anita are joking, onion or lemon for eyes. Nimbu nichodte hye ek drop eyes me chali jaye to dard hoti hai or aap ise eyes drop keh rahi hai.
        Reply Flag
        • on 23 April, 2011 19:17:21 PM
          mamta, i am using that eye drop daily in morning & evening. it is painful but effective. when i opens my eyes after few mintures, i feels very light eyes and no pain.My eyes sight is improving. kuch pane ke liye thoda dard sahna padta hai.
          Reply Flag
          • on 23 April, 2011 20:12:15 PM
            Hello Anita, Mein bhi aapke anubhav se fadaya lena chahti hoon. I will also make this eye drops. Thanks a lot.
            Reply Flag
            • on 03 June, 2012 19:47:29 PM
              lal mirchi to dalna bhull hi gaye
              Reply Flag
  • on 23 April, 2011 13:02:25 PM
    namste nishaji , pls cake ko decorate kase karte hai, pls bataye. thank you.
    Reply Flag
  • on 23 April, 2011 19:38:01 PM
    Thanks Nisha Ji for your reply. Main daily rutine me deshi ghee hi use katri hoon. lakin hamare yahan doodh aacha milta hai to malai bhi aachi aati hai is liye use karne ke baad bhi ghee store karna hi padta ha. AAp koi upaye bataye jisse ghee lambe samay tak rakha ja sake. Thanks
    Reply Flag
  • on 14 May, 2011 18:13:36 PM
    nisha ji mene gulab ka sharbat bazar me milne wale accence aur color se banaya aur isme rose juice melaya jaise aapne banaya wese banakar lekin is juice se to sharbat me kadwahat aa rahe he iska kya karan he ? mene bina accense aur color ke bhi sirf rose juice se ye sharbat banakar dekha lekin ye sharbat bhi kadwa lag raha hai iska kya karan hai dusri baat aap is sharbat me lime juice dal rahi hai to kya isse milk rose ban sakta hai ? dudh fatega nahi ?

    निशा: दीपक, फूलों का ताजा रस तो कड़वा ही होता है, दी गई माप के अनुसार ही रोज डालिये, ज्यादा रोज शरबत के स्वाद को कड़वा कर देंगे. चीनी इत्यादि अन्य सामग्री डालते हैं तब उसकी कड़वाहट का बिलकुल पता नहीं चलता, शरबत दूध में डालने से दूध फटेगा तो नहीं लेकिन आप नीबू नहीं डालेंगे तो भी शरबत स्वादिष्ट लगता है.
    Reply Flag
  • on 16 May, 2011 17:30:58 PM
    anita ji yeh eye drop kitne din tak use kerna h or yeh banane ke kitne din bad kharab ho jata please reply love u
    Reply Flag
  • on 28 May, 2011 11:48:26 AM
    निशा जी चुकन्दर इसमें नहीं डाले तो किसकी मात्रा को कम करना है ?

    निशा: भावेश, किसी भी चीज की मात्रा कम नहीं करनी है, चुकन्दर कलर के लिये डाला गया है, ये हैल्थ के लिये तो अच्छा है ही.
    Reply Flag
  • on 29 May, 2011 09:25:43 AM
    निशा जी देसी गुलाब के फूलो से भी इतना ही रस निकल जायेगा क्या जितना जंगली फूलो से ?

    निशा: नियति, देशी गुलाब से भी इतना ही रस निकल आयेगा.
    Reply Flag
  • on 29 May, 2011 22:15:04 PM
    निशाजी आज मैं शरबत बनया बहुत ही अच्छा बना मैंने आप की साईट से बहुत सी रेसिपी बनायी वो सभी इतनी परफेक्ट बैठी की सब ने मेरी बहुत तारीफ की बहुत बहुत धन्यवाद्

    निशा: नियति, धन्यवाद.
    Reply Flag
  • on 05 June, 2011 08:12:31 AM
    hello nisha ji, nisha ji maine apse 1 question pucha tha, muge yaad ni maine vo question kaun si recipi me ja kar pucha tha,

    esi liye main apse dobara puch rahi hu, jo recipis home page pe hoti hai, wo change hoti rehti hai, to agar humne home page ki purani recipi dekhni ho to kaha se pata lagega, home page ki recipis kaha store(colom) me hoti hain??????????plz nisha ji ans. jarur dijiyega.........

    निशा: पूनम, रैसिपी अपनी कैटेगरी के हिसाब से सब्जी, सब्जी में, मिठाई, मिठाई कालम में आ जाती है, आप उसके कालम में जाकर देख सकते हैं या आप सर्च बटन पर रैसिपी का नाम लिखिये, रैसिपी आपके सामने पेज पर खुल जाती है.
    Reply Flag
  • on 06 June, 2011 10:28:23 AM
    hello nisha ji, main ap k reply ka abhi bhi wait kar rai hu, plz reply jarur kijiyega, ki kaha store(colom)me hoti hai purani recipies
    Reply Flag
  • on 08 June, 2011 09:01:10 AM
    nisha ji, chatni ki recipes kaha hai, oe imli ki chatani ki recipe hai site me plz bataeyege. n thanxas for reply.

    निशा: पूनम, चटनी पिकल कालम को क्लिक करके चटनी की रैसिपी देख सकती हैं, सर्च बटन पर चटनी लिख कर भी रैसिपी देखी जा सकती है.
    Reply Flag
  • on 09 June, 2011 17:06:25 PM
    thanxsssssss for reply nisha ji, imli ki chatni nahi hai chatni coloumn me, plz ap imli ki chatani ka bhi bateye.

    निशा: पूनम, सर्च बटन पर सर्च करके मीठी चटनी पढ़िये, वह इमली की मीठी चटनी है.
    Reply Flag
  • on 09 June, 2011 17:09:45 PM
    nisha ji jal-jeera kaise banate hain plz bataeye, maine banana hai......reply me soon.

    निशा: अक्षरा, जल जीरा रैसिपी मुझे लिखनी है.
    Reply Flag
  • on 09 June, 2011 17:11:54 PM
    Nisha ji 1 green colour ka BRAMHI ka sharbat hota hai, vo kaise banate hai, wo muge bahut passand hai lekin banana nahi ata, plz ap bataeye........
    Reply Flag
  • on 12 June, 2011 09:33:43 AM
    Nisha ji, 1 SUKAISH name ki bhi drink hoti hai, es k different flavour hote hai jaise mango, lemon, orange, ye bhi ROSE SHARBAT ki tarah water me mila kar pee jati hai, ye drink hamare ghar me sab bahut passand karte hain....plz ap ese banane ka tarika batae alag-2 flavoue k sath.....plz NIsha ji reply jarur kareyega.....?????

    निशा: अक्षरा, मुझे इस रैसिपी के बारे में जानकारी नहीं है.
    Reply Flag
  • on 13 June, 2011 15:58:46 PM
    Thanxssss for reply Nisha ji, BRAHMI drink ka to shayad apko pata hoga, GREEN color ki bottel me ata hai market mein. plz es k bare me kuch bateye agar ap jante ho........
    Reply Flag
  • on 30 August, 2011 16:40:30 PM
    Nisha ji maine jis kisi ko bhi pilaya hai usse bahut pasand aaya kya iss sarbat ko 2 - 3 month k liye rakha ja sakta hai meine bahut si aapki recipes banai hai

    निशा: लक्ष्मी, अगर शरबत सही कनसिसटैन्सी का बना है तब इसे फ्रिज में 3 माह तक भी रख सकते हैं.
    Reply Flag
  • on 05 November, 2011 15:07:30 PM
    Nishaji, In your Gulab sharbat receipe you have mentioned about chukandar, please let me know what is chukandar? For your information i am belongs to Gujarat.

    निशा:
    क्रिंजल, चुकन्दर शलजम और मूली की तरह एक रूट है जो सलाद में कच्चा काट कर खाई जाता है, इसमें आइरन बहुत मात्रा में पाया जाता है.

    Reply Flag
  • on 20 April, 2012 17:11:47 PM
    very nice, same way, as iwanted. so very-2 thanks n salute u. with regards.
    Reply Flag
  • on 24 April, 2012 00:03:34 AM
    Delhi me gulab ke phool aur kaha-2 milte hai? please reply....
    Reply Flag
  • on 26 April, 2012 13:38:40 PM
    Please reply.........



    Reply Flag
    • on 30 April, 2012 19:47:57 PM
      Please reply
      Reply Flag
  • on 27 April, 2012 10:36:38 AM
    Nisha ji, chukandar ko aur kis cheese se substitute kiya ja sakta hai. Pl. reply jarur kijiye.

    निशा:
    अंजू, चुकन्दर आवश्यक नहीं हैं, इसे हमने कलर के लिये यूज किया है, आप इसे हटा सकते हैं.
    Reply Flag
  • on 10 May, 2012 14:43:45 PM
    hello nisha jee, pls kuch sharbat and juices ki recipes meri email par send kar dijiye. thank u so much.
    Reply Flag
  • on 18 May, 2012 15:29:51 PM
    nisha ji, if i hve scent and rose colour then is there any need to add lemon juice and citric acid to make rose sharbat..??
    निशा: दिशा: ये रोज शर्बत नेचुरल चीजों से बना है, एसेन्स और कलर से शर्बत अलग इन्ग्रीडियेन्ट से बनता है.
    Reply Flag
  • on 22 May, 2012 18:20:27 PM
    Can we take rose essence in place of rose petals?
    निशा: लर्न, रोज एसेन्स और कलर से शर्बत बनाना बहुत आसान है, आप उस तरह शर्बत बना सकते हैं.
    Reply Flag
  • on 25 May, 2012 23:44:09 PM
    Please tell the quantity of rose essence which should be added to make sharbat according to above recipe?
    निशा: लर्न, एक छोटी चम्मच रोज एसेन्स डाल सकते हैं.
    Reply Flag
  • on 05 June, 2012 17:47:09 PM
    MEM HOW TO MAKE KESHAR-BADAM SHARBAT
    PLS TELL ME-
    निशा: घनश्याम जी मैं कोशिश करूंगी.
    Reply Flag
  • on 29 June, 2012 00:13:07 AM
    maine banaye the bohat achhe bane thanx a lot nisha ji ur smile is very nice
    Reply Flag
  • on 08 October, 2012 20:42:03 PM
    ma'm agar rose petals ki jagah gulab jal daalna ho to kitni quantity chahiye??????????
    निशा: सविता, गुलाब शर्बत में गुलाब का कलर भी आता है. गुलाब की महक के लिये, 3-4 टेबल स्पून गुलाब जल डाला जा सकता है.
    Reply Flag
  • on 31 March, 2013 21:29:31 PM
    mani bnaya bhut achhe bna thanks nisha ji recipes k liye.
    निशा: रेखा जी बहुत बहुत धन्यवाद.
    Reply Flag
  • on 26 August, 2013 00:19:19 AM
    Dear ma'am
    recipe bahut acchi lagi.. zaroor try karoongi. Ma'am aap plz gulkand ki recipe bata di jiye.
    Saath hi aaj kal alag- alag whole ke prati jagrukta bahut badh gayi hai.Aapka Alsi ka mouth freshner ki recipe dekhi .bahut acchi lagi. Plz aise aur mouth freshners ki recipe bahayein jisme aise whole grains/ seeds use hon taki 5grms a day ki zaroorat inse hi poori ho jaye!!
    निशा: गुलकन्द बनाने की कोशिश करूंगी.
    Reply Flag
  • on 25 September, 2013 02:19:02 AM
    Mam mrkt me kitne type ke essence hai? Or unko kis kis me dal skte hai? Jaise apne btaya tha 'Chamcham' me kevra essence dala flavour k lye. Aise hi kitne typ ke essence hote h? Or kis2 me dalte hai?
    Reply Flag
  • on 16 October, 2013 01:18:51 AM
    badam(almond)sharbat recepie please.jise ki kai maheene store karke rakha jata hai
    Reply Flag
  • on 26 March, 2014 03:19:54 AM
    Hai madhulika ji

    i made rose sarbat as per your receipe. It is really speical receipe. We enjoy daily. About taste i can't have any words to explain it. Every time i drink only words comes in mind to say to you thanks a lot to post this receipe.
    Thank you so much.
    love
    kiran
    निशा: किरन आपको भी मेरा बहुत बहुत धन्यवाद.
    Reply Flag
  • on 06 April, 2014 23:43:38 PM
    maine rose petals ko jab crush kiya to voh dark purple color ki ho gayi. red color to bilkul bhi nahi raha jaise maroon color ho gay adark maroon.
    or jaise hi chashni mein dala its turns black.
    what to do?
    निशा: साक्षी जी, ये रोज वैरायटी के कारण एसा हो सकता है.
    Reply Flag

Submit your question

Log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes >>