sitelogo
Horoscope English Q and A

फलाहारी आलू भुजिया नमकीन - Aloo Bhujia Namkeen Farali - Alu Bhujiya for Navratri Vrat

Alu Bhujiya for Navratri Vrat

 

सिंघाड़े के आटे और उबले आलू से तैय़ार क्रिस्पी फलाहारी आलू भुजिया नमकीन, नवरात्रि स्पेशल स्नैक्स.

Read -  Aloo Bhujia Namkeen Farali - Alu Bhujiya for Navratri Vrat Recipe In English 

आवश्यक सामग्री- Ingredients for Alu Bhujiya for Navratri Vrat

  • आलू- 3 (उबले हुए)
  • सिंघाड़े का आटा- 1 कप (150 ग्राम)
  • सेन्धा नमक- ¾ छोटी चम्मच
  • काली मिर्च पाउडर- ½ छोटी चम्मच
  • हल्दी पाउडर- ⅓ छोटी चम्मच
  • तेल- तलने के लिए

विधि - How to make Aloo Bhujia Namkeen Farali

नरम आटा लगाइए
आलू को छीलकर कद्दूकस कर लीजिए. सिंघाड़े के आटे में कद्दूकस किए हुए आलू डालिए. साथ ही इसमें सेन्धा नमक, काली मिर्च पाउडर और हल्दी पाउडर भी डाल दीजिए. सारी सामग्रियों को अच्छे से मिला लीजिए और इससे नरम आटा लगाकर तैयार कर लीजिए. इस आटे में 1 से 2 छोटी चम्मच तेल का इस्तेमाल करके आटे को मलते हुए थोड़ा सा चिकना कर लीजिए.

सेव मशीन में तैयार आटा भरिए
भुजिया बनाने के लिए सेव बनाने की मशीन लीजिए. इसमें बारीक छेद वाली जाली सैट कर दीजिए और मशीन के सिलेन्डर के अंदर चारों ओर थोड़ा सा तेल लगा दीजिए. हाथ पर थोड़ा सा तेल लगाइए और आटे से थोड़ा सा आटा लेकर इसको लंबाई में शेप दे दीजिए ताकि यह मशीन के सिलेन्डर में आसानी से डाला जा सके. आटे को सिलेन्डर में डालिए और पिस्टन फिक्स कर दीजिए.

सेव तलिए
कढ़ाही में तेल डालकर गरम कर लीजिए. सेव तलने से पहले कढ़ाही के ऊपर हाथ ले जाकर चैक कीजिए कि तेल गरम हुआ या नही. हाथ पर गरमाहट आ रही है, तो तेल सही गरम है. भुजिया तलने के लिए मध्यम गरम घी चाहिए. मशीन का पिस्टन दबाते हुए जितने सेव कढ़ाही में आ जाएं, उतने तलने के लिए तेल में डाल दीजिए.आंच धीमी रखिए. सेव डालते ही तेल में झाग बनने शुरू हो जाएंगे. जैसे ही तेल में झाग बनने खत्म हो जाएं, वैसे ही इन्हें पलट दीजिए और सेव का रंग बदलते ही कढ़ाही से निकालकर प्याले पर रखी छलनी में डाल दीजिए ताकि अतिरिक्त तेल प्याली में चला जाए. थोड़ी देर बाद, छलनी से सेव निकालकर एक प्लेट में रख दीजिए. इसी प्रकार सारे सेव तलकर तैयार कर लीजिए.

मशीन में आटा खत्म होने पर मशीन खोल लीजिए और पिस्टन को ऊपर कर लीजिए. फिर से इसमें आटा भर लीजिए और बिल्कुल पहले की भांति सेव तलकर निकाल लीजिए. एक बार के सेव तलने में 3 से 4 मिनिट लग जाते हैं.

कुरकुरी और स्वादिष्ट फलाहारी आलू भुजिया बनकर तैयार है. आप इसे तोड़कर ठंडा होने के बाद किसी भी कन्टेनर में भरकर रख दीजिए और पूरे एक महीने तक खाते रहिए. यह फलाहारी भुजिया किसी भी व्रत में बनाकर खा सकते हैं.

सुझाव

  • अगर आप हल्दी पाउडर ना डालना चाहे, तो मत डालिए. 
  • ये सेव बहुत ही पतले होते हैं, इसलिए जल्दी सिक जाते हैं.

Aloo Bhujia Namkeen Farali - व्रत वाली आलू भुजिया - Alu Bhujiya for Navratri Vrat

Please rate this recipe:

2.82 Ratings.

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Related Questions


Comments (6)

Vandana luthra on 29 March, 2017 23:55:22 PM

Thanks for the fast snacks recipe. I will try it today.

निशा: वंदना जी, बहुत बहुत धन्यवाद. ज़रूर बनाइए और अपने अनुभव हमारे साथ शेयर भी कीजिए.

Ritu arora on 30 March, 2017 00:21:15 AM

Nisha ji... Vrat ki bhujia me to haldi nahi padegi na..

निशा: ऋतु जी, आप हल्दी नही डालना चाहे, तो मत डालिए.

Priya saxena on 30 March, 2017 00:45:54 AM

Hello nisha ji...kya ap plz mujhe cold coffee bnane ki recepie likh kr dengi plz

निशा: प्रिया जी, हम जल्दी ही कोल्ड कॉफी की रेसिपी वेबसाइट पर पोस्ट करेंगे. फिलहाल के लिए, आप इसका वीडियो हमारे यूट्यूब चैनल पर देख सकती हैं, इसका लिंक निम्न है:
https://www.youtube.com/watch?v=KLFFMs4rDXY

Priya saxena on 30 March, 2017 11:00:08 AM

Thnk u so much nisha ji u r so sweet

निशा: प्रिया जी, स्नेह भरे शब्दों के लिए बहुत बहुत धन्यवाद.

Pushpa tiwari on 30 March, 2017 23:42:18 PM

Bhugia very testy

निशा: पुष्पा जी, धन्यवाद.

Swapnil on 10 May, 2017 00:21:47 AM

Namaste nisha ji ,iis recipe mein boiled aaloo daal sakte hain?

निशा: स्वप्निल जी, इसमें उबले आलू ही उपयोग में लाए गए हैं.

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.