sitelogo
Horoscope English Q and A

नर्म मुलायम पुरियां - How to make Perfect round, puffy and Soft puris

Pooris Recipe


किसी भी त्यौहार या विशेष अवसर पर पूरियां बनाई ही जातीं हैं. एकदम फूली फूली, नर्म, मुलायम पूरियां कैसे बनायें ? प्रस्तुत है यह रेसिपी और वीडियो

Read - How to make Perfect round, puffy and Soft Puris Recipe In English

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Puris

  • आटा - 2 कप (300 ग्राम)
  • नमक - ½ छोटी चम्मच या स्वादानुसार
  • घी - तलने के लिए

विधि perfect Soft and puffed Puris-

एक बड़े प्याले में आटा निकाल लीजिए. आटे में नमक और 2 चम्मच घी डालकर अच्छे से मिक्स कर लीजिए. अब थोड़ा थोडा़ पानी डालते हुए सख्त आटा गूंथ कर तैयार कर लीजिए. आटे को ढककर के 20-25 मिनिट के लिए रख दीजिए, आटा सैट होकर तैयार हो जाएगा.
आटा सैट होकर तैयार है, हाथ पर थोडा़ सा घी लगाकर आटे को मसल-मसल कर चिकना कर लीजिए. आटे से छोटी-छोटी लोईयां तोड़कर तैयार कर लीजिए. अब एक लोई को हथेली पर रख कर गोल पेडे का आकार दीजिए. इसी तरह से सारी लोईयों से पेड़े तैयार कर लीजिए और इन्हें ढक कर रख दीजिए ताकि ये सूखे नहीं.

पूरी बनाने के लिए कढ़ाई में घी डालकर गरम कीजिये. अब एक लोई उठाइये और चकले बेलन को थोडा़ सा तेल लगाकर चिकना कीजिए. लोई को चकले पर पर रखिये और गोल एक समान पूरी बेलिये. पूरियां बीच में पतली न हों इसलिये इन्हें किनारे से बेलें तो अच्छी बेली जायेंगी.

घी गरम हो गया है, चैक कर लीजिये. इसे चैक करने के लिये घी में थोड़ा सा आटा तोड़कर डालिये, आटा सिककर ऊपर उठकर आना चाहिये, घी गरम है, पूरी तलने के लिये अच्छा गरम घी चाहिए. गरम घी में पूरी तलने के लिये डालिये, पूरी को कलछी से दबा कर फुलाइये और पलट-पलट कर गोल्डन ब्राउन होने तक तल कर, प्लेट पर निकाल रख लीजिये. सारी पूरी इसी तरह फ्राय कर तैयार कर लीजिये. इतने आटे में लगभग 20 पूरी बनकर के तैयार हो जाती हैं.

गरमा गरम पूरी को मटर पनीर, मटर आलू या अपनी मनपसंद सब्जी के साथ परोसिये और खाईये.

सुझाव

  • आटा गूंथते समय ध्यान रखें कि यह ज्यादा सख्त या ज्यादा नरम नही होना चाहिए.
  • पूरी अच्छी तैयार करने के लिए, आटे को मसल-मसल कर चिकना होने तक गूंथे.
  • पूरी को किनारे से बेलें तो अच्छी बेली जायेंगी. एक जैसी पूरी बेलें. पूरी कहीं से मोटी या कहीं से पतली बेली जाए तो अच्छे से नहीं फूलती.
  • पूरी तलने के लिए घी या तेल अच्छा गरम होना चाहिए.

Please rate this recipe:

4.00 Ratings.

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Comments (6)

Vidya on 10 October, 2016 03:32:14 AM

Thanks for this technique. Surely will try this.

निशा: विद्या जी, आप यह रैसिपी बनाएं और अपने अनुभव हमारे साथ जरूर शेयर कीजिए.

Poonam on 18 October, 2016 18:53:25 PM

निशा जी , पूरी ठंडी होने पर उनमे घी भर जाता है कारण बताए
निशा: पूनम जी, पूरी तलते समय अगर उसमें तेल भर जा रहा हो तब ठंडा होने पर तेल उसमें दिखाई देता है, आटे गूथते समय अगर उसमें अधिक तेल या घी डाल दे तब एसा हो सकता है या कम गरम तेल में पूरी तलने से एसा हो सकता है.

Kalpana on 08 November, 2016 02:47:01 AM

नमस्ते निशा जी पूरी तल कर निकालती हू तो तेल भर जाता. है तेल भी गरम होता है जब पूरी तेल से निकालती हू तो तेल पूरी तरह नही निकलता

निशा: कल्पना जी, आटा गूथते समय उसमें अधिक तेल का यूज न करें, पूरी तलने के लिये तेल अच्छा गरम होना चाहिये, जब भी आप पूरी निकालें, तो कड़ाई के किनारे पर ही पूरी को कलछी पर तिरछा करके रखिए और अच्छे से तेल निकल जाने के बाद ही, प्लेट में निकालिए.पूरी में तेल नहीं आयेगा.

Shahid on 10 November, 2016 19:57:04 PM

Kya puri refined ya oil se bhi banayi ja sakti hain.

निशा: शाहिद जी, बिल्कुल बना सकते है.

Sana on 01 February, 2017 01:45:31 AM

Kolkata Ka Rasgoolla

निशा: सना जी, बंगाली रसगुल्ले का लिंक निम्न है:
http://nishamadhulika.com/731-bengali-sponge-rasgulla-recipe.html

Priya on 05 February, 2017 07:22:35 AM

Hello Nisha ma'am...
Recently Maine Khana banana suru kiya h..
Mujhe plzz ye btaiye meri roti Puri tarh phoolne k Baad v kuch time Baad kdi ( tight) ho jati h..
Aisa Ku??

निशा: प्रिया जी, आटे में हल्का सा नमक और थोड़ा सा तेल डालकर मुलायम आटा गूंथिए. रोटी बेलते समय परोथन कम लगाएं और रोटी को सेककर घी लगाकर कैसरोल में रख दीजिए, रोटियां नरम रहेंगी.

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.