sitelogo
Horoscope English Q and A

सेम का अचार - Sem Ka Achar Recipe - Broad Beans Pickles

सेम का अचार - Sem Ka Achar Recipe - Broad Beans Pickles


फलियों और सब्जियों के अचार की शेल्फ लाइफ अवश्य कम होती है लेकिन इनका स्वाद एकदम और अलग और बहुत अच्छा होता है. आज हम सेम का अचार बना रहे हैं. इसे एक महीने तक रखकर खाया जा सकता है.

Read - Sem Ka Achar Recipe - Broad Beans Pickles In English

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Sem Ka Achar

  • सेम - ½ किलो (500 ग्राम)
  • पीली सरसों - 2 टेबल स्पून (दरदरी कुटी हुई)
  • मेथी दाना - 2 टेबल स्पून ( दरदरी कुटी हुई)
  • सौंफ पाउडर - 2 टेबल स्पून (दरदरी कुटी हुई)
  • नमक - 3 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
  • हल्दी पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर - 1 .5 छोटी चम्मच
  • काली मिर्च - ½ छोटी चम्मच ( ताजा दरदरी कुटी हुई)
  • हींग - 2 पिंच
  • सरसों का तेल - 1/2 कप
  • सिरका - 3 टेबल स्पून

विधि - How to make Surti Papadi Pickle Recipe

सेम को अच्छी तरह धो कर सुखा कर, इन फलियों के दोनों तरफ से डंठल तोड़ें और यदि फली के किनारों पर से धागे निकल रहे हों तो वह भी निकाल दीजिए. अब फलियों को करीब 1-3/4 इंच के टुकडों में काट कर तैयार कर लीजिए.

एक बड़े बर्तन में 3-4 कप पानी डालकर उबालने के लिए रख दीजिए. पानी में उबाल आने पर काट कर रखी हुई सेम इसमें डाल दीजिए और ढककर के 3 मिनिट पकने दीजिए, इसके बाद इन्हें पानी में से निकाल लीजिए.


सेम को किसी सूती कपड़े के ऊपर डाल कर 2-3 घंटे के लिए धूप में सूखाने के लिए रख दीजिए (अगर धूप नहीं हो तो सेम को पंखे के नीचे रख कर सूखा लीजिए)

सेम का पानी सूख जाने पर इसे एक बड़े प्याले में डाल दीजिए. पीली सरसों का पाउडर, मेथी दाना पाउडर, सौंफ पाउडर, नमक, हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, ताजी कुटी काली मिर्च, हींग,
सरसों का तेल और सिरका डालकर अच्छे तरह मिला दीजिए.

अचार को 3 दिन के लिए ढककर रख दिजिए और रोज 1 -2 बार चमचे से अचार को चला दीजिए. तीसरे दिन से अचार को खाने के काम में लाइये. बहुत अच्छा अचार बनकर तैयार है.

सुझाव -

  • अचार बनाते समय जो भी बर्तन इस्तेमाल करें, वे सब सूखे और साफ हों. अचार में किसी तरह की नमी और गन्दगी नहीं जानी चाहिये.
  • अचार के लिये कन्टेनर को उबलते पानी से धोइये और धूप में अच्छी तरह सुखा लीजिये. कन्टेनर को ओवन में भी सुखाया जा सकता है.
  • जब भी अचार कन्टेनर से निकालें, साफ और सूखे चम्मच का प्रयोग कीजिये, अचार जल्दी खराब नहीं होते.

Please rate this recipe:

3.76 Ratings.

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Related Questions


Comments (6)

Alka on 18 June, 2015 01:42:51 AM

Namaste mam


Mam kya aam k achar ko dhoop me rakhna jaruri h


निशा: अल्का जी, सेम को उबलते पानी से निकालने के बाद, सेम को हल्की सी धूप लगानी होती, धूप न हो तो पंखे की हवा में 2-3 घंटे के लिये रख दीजिये.

Jitendra on 01 November, 2015 19:53:19 PM

Anjeer katli with kaju badam pista kese banaye

निशा: काजू, बादाम कतली की रेसिपी मेरी वेबसाइट पर उपलब्ध है़. अंजीर के साथ मैं जल्द ही इसे बनाने की कोशिश करूंगी.

Neerja saxena on 06 January, 2016 03:04:01 AM

very nice recipe of achar.Thanks. Nisha ji app roomali roti ki recipe batayie
निशा: नीरजा जी मैं इसे बनाने की कोशिशा करती हूँ.

Sana on 29 January, 2016 01:08:43 AM

Kya sabhi ingredients ko bhunj ke pisna h

निशा: सना जी, मसाले को गरम कढ़ाई में डालकर बिलकुल थोड़ा सा भूना है, ताकि इसकी नमी खतम हो जाय, और इसके बाद उन्हैं दरदरा पीस लीजिये. मसालों को धूप में 3-4 घंटे सुखा लें तो उन्हैं भूनने की आवश्यकता नहीं है.

Sandeep on 11 April, 2016 22:52:32 PM

madam ji sem jb ublte pani me daalne hai to gas kb bnd krna hai? sem ke daalte hi gas bnd krke sem ko 3 min tk garam pani me rakhna hai ya sem daal kr 3 min tk gas on rakhna hai

निशा: संदीप जी, पानी में उबाल आने पर काट कर रखी हुई सेम इसमें डाल दीजिए और ढककर के 3 मिनिट गैस पर पकने दीजिए, इसके बाद इन्हें पानी में से निकाल लीजिए.

Amrita on 11 September, 2016 10:52:08 AM

Ye kitane dino tak rsh sakta h

निशा: अमृता जी, सेम के अचार को आप 1 माह से भी अधिक दिनों तक खाने के लिए उपयोग कर सकते हैं.

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.