sitelogo
Horoscope English Q and A

फलाहारी मावा मालपुआ - Mawa Malpua for Vrat - Falahari Mawa Malpua for Navratri

फलाहारी मावा मालपुआ - Mawa Malpua for Vrat - Falahari Mawa Malpua for Navratri


मावा में सिघाड़े का आटा डालकर बनाये गये फलाहरी मावा मालपुआ खाने और देखने में अनुपम होते हैं.  नवरात्रि या अन्य व्रत के दौरान सामूहिक व्रत खोलने के आयोजन में तो इसे बनाना मत भूलियेगा.

Read - Mawa Malpua for Vrat - Falahari Mawa Malpua for Navratri Recipe In English

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Farali Malpua Recipe

  • मावा - 3/4 कप (150 ग्राम)
  • सिंघाड़े का आटा - ½ कप (75 ग्राम)
  • चीनी - 1 कप (200 ग्राम)
  • दूध - 1 कप
  • पिस्ते - 10-12
  • इलायची - 6-7
  • घी - तलने के लिए

विधि - How to make Phalahari Malpua for Navratri

मिक्सर में मावा, सिंघाड़े का आटा और दूध डालिये, फैंटकर, चिकना बैटर तैयार कर लीजिए. बैटर को प्याले में निकाल लीजिए.

बैटर को 15-20 मिनिट के लिए रख दीजिए ताकि ये फूल कर तैयार हो जाएगा. पिस्ते बारीक काटकर तैयार कर लीजिए और इलायची का पाउडर बना लीजिए.


चाशनी बनाएं.
बर्तन में चीनी और आधा कप पानी डाल कर गरम करने रखिये, उबाल आने के बाद चाशनी को चैक कीजिए चम्मच से चाशनी निकाल कर प्लेट पर 1-2 बूद गिराइये, उंगली और अंगूठे के बीच चिपका कर देखिये, 1 तार निकल रही हो तो चाशनी बनकर तैयार है. चाशनी में छोटी इलाइची डाल कर मिला दीजिये. गैस बंद कर दीजिए और चाशनी को थोडा़ ठंडा होने दीजिए.

कढाई में घी गरम होने के लिए रखें, घी के मीडियम गरम होने पर 1 चमचा घोल डालिये. मीडियम गैस फ्लेम पर मालपुआ तलिये, हलका ब्राउन होने पर पलटिये, दूसरी तरफ भी हल्का ब्राउन होने दीजिये. मालपुआ निकाल कर किसी प्लेट में रखिये और सारे मालपुआ इसी तरह तल कर तैयार कर लीजिये.

मालपुआ को चाशनी में डुबाइये, और निकाल कर प्लेट में लगाइये, ऊपर से बारीक कटे पिस्ते डालकर सजाइये. फलाहारी मावा मालपुआ बनकर तैयार हैं इन्हैं परोसिये और खाइये.

सुझाव:
बैटर गाढ़ा होने पर मालपुआ पतले नहीं बनेंगे, बैटर में थोड़ा दूध डालकर उसे पतला किया जा सकता है. बैटर अधिक पतला होने पर मालपुआ सही शेप में नहीं बनेंगे, बैटर में थोड़ा सा सिघाड़े का आटा डालकर बैटर को गाढ़ा किया जा सकता है.
चाशनी गाढ़ी होने पर मालपुआ के अन्दर नहीं जायेगी, थोड़ा 1-2 छोटी चम्मच पानी डालकर चाशनी को ठीक किया जा सकता है. चाशनी पतली होने पर मालपुआ को गीला सा, और एकदम नरम कर देगी, थोड़ा और पकाने से चाशनी सही कनसिसटेन्सी की बन जायेगी.

Please rate this recipe:

3.81 Ratings.

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Comments (22)

Preeti on 25 March, 2015 05:32:32 AM

Mam app bahut achhe ho.aap kamal ke ho. itna easily sabkuch batadete ho great mam.
Bilkul maa ki tarah samjhate ho. thanku very much.
निशा: प्रीती जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Bandevi singh on 25 March, 2015 17:28:00 PM

Ma'am aap hm log ka bahut khyal rakhti hai.Aap samay ke anusar recipes post karti hain.Hardik abhinandan!
निशा: बनदेवी जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Preeti on 30 March, 2015 05:15:37 AM

Mam meine jo bhi sikha hai aapse sikha hai
mujhe meetha bahut acha lagta hai.
specially aapki kaju or badam katli. bahut achi banti hai. aap super duper ho aapne meri life bahut easy kardi.
Thaaaaaaaaaaaaaaaank u . really dil se.
निशा: प्रीती जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Latha on 04 May, 2015 02:06:03 AM

Hi! Nishaji! Thank for your website as it solved many Of my problem regarding cooking. One of my friend suggested your name. You made it easy. Yday i made kala chana using your method and masala also i grinded the way u have mentioned. Sab log ugliyan chaathe raha gayee!!!!!

Preeti pandey on 14 May, 2015 00:55:31 AM

Mam....aapki recipes dekh ker maine bhut kuchh banana sikha...thank u .....aap mujhe nayi nayi recipes banane ko sikhate rahiye.......

Tina on 19 May, 2015 00:49:17 AM

your dish was very tasty please tell me reciepe of veg pudding or pancake in hindi

Bhawana mewara on 06 August, 2015 02:18:54 AM

mam ur recepii is awsome


निशा: भावना जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Pankaj on 06 August, 2015 04:50:50 AM

 


kya mawa dalna jaruri hi


 


निशा: पंकज जी, ये मावा मालपूआ है, मावा डालना आवश्यक है.

Anil sharma on 03 September, 2015 19:20:58 PM

MADAM  HOW TO CHECK THE CONSISTANCY OF BATTER CAN WE CHECK IT WITH ANOTHER METHOD


निशा: अनिल जी, बैटर की कनसिसटेन्सी चमचे से बैटर को गिरा कर देखते हैं, ये रनिंग होनी चाहिये, बैटर धार के रूप में गिरना चाहिये.

Prity on 03 October, 2015 03:29:10 AM

aapki all recipe achhe hai, nd mai roj aapke recipe me se ek dish jarur banati hu. thanku so much


निशा: प्रीती जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Sonu prajapati on 06 October, 2015 04:18:37 AM

Abhi Navratri ke time Falahari Vyanjan batayeeye .... Mava Malpuaa ki recipe dekhi or likh bhi lee hai ... hum jarur banayenge .. Thanks Nisha Mam ...


निशा: सोनू जी बहुत बहुत धन्यवाद.

Rinky.rani on 07 October, 2015 06:21:08 AM

So very tasty

Rekha verma on 09 October, 2015 08:50:01 AM

Hi.......nisha mam....mujhe aapki recipes bhut achi lgti h..hr din koi na koi chiz sikhne ko milti h...or apne pati ko khila kr khush krne ka moka bhi.....thanks..mam......


निशा: रेखा जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Deepa on 19 October, 2015 21:13:01 PM

Hello mam ! Main apki badi fan hoon .Aapke bataye chirote aur rasgulle try kar chuki hoon aaj malpue try karoongi .Itni saari recepies ke liye thankyou soooooo much .
निशा: दीपा जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Dharmraj on 02 December, 2015 20:40:19 PM

hi maidam hame masoor paak nahi bana pata ho

निशा: धरम राज जी, आप इस लिंक पर जाकर मैसूर पाक की रैसिपी देंखे आप अच्छे से बना सकेंगे - http://nishamadhulika.com/833-mysore-pak-recipe.html

Naresh soni on 14 December, 2015 09:57:41 AM

Thanks nisha ji....
Aap ki yeh malpue ki recipe bhot achhi lagi...thanks for post it...
I m an engineering student but i like cooking also

निशा: बहुत बहुत धन्यवाद.

Naresh soni on 14 December, 2015 10:04:21 AM

Mene aap k utpam vali dish banane ki koshish ki.. Taste toh achha tha par uski shape thodi alag hi ho gai...
Par 5vi baar me achhi bani

निशा: नरेश जी, जरूरी नहीं होता की पहली बार में आप हर चीज़ अच्छे से बना सकें. लेकिन प्रयास करने से आप उस कार्य में निपुण हो ही जाते हैं. धन्यवाद.

Monica kharbanda on 23 December, 2015 17:02:02 PM

mam thanks for did wonderful racipy...kya singhade k ate ki jagah gehu ka at a use kr skte h malpue me??

निशा: मोनिका जी, मैने ये मालपुआ व्रत के लिए बनाए हैं इसलिए इसमें सिंघाडे़ का आटा इस्तेमाल किया है. पर आप इसे गेहूं के आटे से भी बना सकती हैं. माल पुआ के लिए आप इस लिंक को भी देख सकती हैं - http://nishamadhulika.com/sweets/malpua_recipe.html

Shashi on 28 January, 2016 23:30:28 PM

Tip are very useful

Sunita on 11 April, 2016 03:44:30 AM

i love food

निशा: सुनीता जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Madhu on 14 August, 2016 00:47:24 AM

Aapki recipes bahut easy hain. Main aksar follow karti hoon

निशा: मधु जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Punam on 06 October, 2016 05:58:16 AM

Nisha ji mi jab paste ko karahi me dalti hu to ye bikhar jata hi kya karna chahiye please bataiye

निशा: पूनम जी, बैटर अधिक पतला होने पर मालपुआ सही शेप में नहीं बन पाते. आप बैटर में थोड़ा सा सिघाड़े का आटा डालकर बैटर को गाढ़ा कर सकती हैं.

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.