sitelogo
Horoscope English Q and A

राजस्थानी पिटौर की सब्जी – Rajasthani Patod Curry / Pitod ki Sabzi Recipe


राजस्थान में बनाई जाने वाली पारम्परिक सब्जी है, जब फ्रिज में हरी सब्जियां न हो लेकिन कुछ स्पेशल भी बनाना हो तो राजस्थानी पिटौर की सब्जी (Rajasthani Pitod ki Sabzi) बनाकर देखिये.

राजस्थान के पारम्परिक खाने में बेसन का बहुत महत्वपूर्ण स्थान है. राजस्थानी पिटौर की सब्जी (Rajasthani Pitod Curry)  बनाने के लिये भी मुख्य सामग्री बेसन और दही का प्रयोग किया जाता है. राजस्थानी बेसन के गट्टे (Rajasthani Besan ke Gatte) की सब्जी जहां बेसन को गट्टे की शक्ल देकर भाप में पकाते हैं.

इसके विपरीत पिटौर की सब्जी (Rajasthani Pitod ki Sabzi) के लिये बेसन का घोल बनाकर और पका कर जमाकर बनाते हैं.  पिटौर की सब्जी (Rajasthani Pator/Patod ki Sabzi) में सब्जी जरूर है लेकिन इसमें किसी हरी सब्जी का प्रयोग नहीं होता.

Read - Rajasthani Patod Curry / Pitod ki Sabzi Recipe  In English

आवश्यक सामग्री (Ingredients for Rajasthani Pitod ka Saag)

कतली बनाने के लिये

  • बेसन - 100 ग्राम (1 कप)
  • दही - 50 ग्राम (1/4 कप)
  • तेल - 1 टेबल स्पून
  • हींग - 1 - 2 पिंच
  • जीरा - आधा छोटी चम्मच
  • नमक - स्वादानुसार (3/4 छोटी चम्मच)
  • अदरक - 1 इंच लम्बा टूकड़ा (कद्दूकस किया हुआ)
  • तेल - कतली को सेकने के लिये

रसा /तरी बनाने के लिये

  • दही - 400 ग्राम (2 कप)
  • हरी मिर्च - 2 बारीक कटी हुई
  • अदरक - 1 इंच लम्बा टुकड़ा (पेस्ट बना लीजिये)
  • तेल - 1 या 1 1 /2 टेबल स्पून
  • हींग - 2 पिंच
  • जीरा - आधा छोटी चम्मच
  • हल्दी पाउडर - 1/4 छोटी चम्मच (यदि आप चाहें)
  • धनियां पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च - 1/4 छोटी चम्मच से कम
  • नमक - स्वादानुसार (1 छोटी चम्मच)
  • गरम मसाला - 1/4 छोटी चम्मच
  • हरा धनियां  - 2 टेबल स्पून ( बारीक कतरा हुआ)

विधि How to make Pitod ki Sabzi

कतली बनायें

बेसन को छान कर किसी बर्तन में निकाल लीजिये, दही को मथ लीजिये, दही में बेसन को डाल कर मिलाइये, गुठलियां नहीं पड़नी चाहिये.  इस घोल में एक कप पानी (200 ग्राम पानी), नमक, अदरक का पेस्ट और हल्दी पाउडर डाल कर अच्छी तरह मिलाइये.


किसी बड़े बर्तन जिसमें यह घोल पकाना है, आग पर रखिये, तेल डाल कर गरम कीजिये, गरम तेल में हींग और जीरा डाल दीजिये, जीरा ब्राउन होने पर दही- बेसन के घोल को डालिये और लगातार चमचे से चलाते हुये तेज आग पर पकाइये, उबाल आने के बाद लगभग 4- 5 मिनिट तक मीडियम फ्लेम पर लगातार चलाते हुये पकाइये.


patod ki sabzi

किसी चौकोर प्लेट या ट्रे में तेल लगा कर चिकना कीजिये, चिकनी प्लेट में यह घोल डाल कर फैलाइये तथा ठंडा होने रख दीजिये.  लगभग 20 मिनिट में यह घोल जम कर तैयार हो जाता है.
जब तक पिटौर की कतलिया जमें तब तक हम इसके लिये तरी बना लेते हैं.

तरी बनायें :

दही को हरी मिर्च डाल कर फैट लीजिये, अदरक का पेस्ट भी मिला दीजिये.

किसी भारी तले के बर्तन में तेल डाल कर गरम कीजिये, हींग और जीरा डाल दीजिये, जीरा ब्राउन होने के बाद हल्दी पाउडर, धनियां पाउडर और लाल मिर्च पाउडर डालिये.  इस मसाले में फैटा हुआ दही डालिये और चमचे से चलाते हुये तेज आग पर पकाइये, उबाल आने के बाद चलाना बन्द कर दीजिये और नमक डाल कर 3-4 मिनिट तक उबलने दीजिये, आग बन्द कर दीजिये, गरम मसाला और हरा धनियां डाल कर मिलाइये. पिटोर के लिये तरी तैयार है.

पिटौर की कतलिया तल लीजिये

आपने पिटौर के लिये तरी बनायी, इस बीच में पिटौर की कतलिया अच्छी तरह जम गई होंगीं इनको आप 1.5 इंच की चौकोर या डायमन्ड आकार की पिटौर की कतलियां चाकू से काट लीजिये.
कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये, 3-4 पिटौर की कतलियां डाल कर, दोनों ओर पलट कर कुरकुरी परत कर लीजिये. सारी कतलियों को इसी तरह तल कर निकाल कर प्लेट में रख लीजिये, इनको तलने में अधिक तेल नहीं लगता लेकिन आप चाहें तो पिटौर की कतलियों को डीप न करके तवे पर आलू टिक्की की तरह सेक भी सकते हैं.  तरी में डालने के लिये कतलियां तैयार हैं.


Pitod ka sag

सारी कतली या जितनी कतली अभी प्रयोग में आनी है, उतनी ही कतली गरमा गरम तरी में डालिये. लीजिये पिटौर सब्जी तैयार है.  गरमा गरम पिटोर पूरी, परांठा, नान या चावल के साथ परोसिये और खाइये.

पिटोर की सब्जी (Patod ki Sabji)  के लिये पारम्परिक तरी तो दही से ही बनाई जाती है, लेकिन आप अपने स्वाद के अनुसार प्याज की तरी, टमाटर की तरी या अन्य जैसी भी तरी बनाकर खाना पसन्द करें बना लीजिये और उस तरी में पिटोर डालकर सब्जी तैयार कर लीजिये.

सावधानी

कतलियां जमाने के लिए बेसन को अच्छी तरह से खदकाईये, अगर बेसन अच्छी तरह नही पका होगा या पर्याप्त गाड़ा नहीं होगा तो कतली मुलायम रहेंगी और चिपकेगीं.

  • चार सदस्यों के लिये
  • समय - 1 घंटा

Rajasthani Patod Curry video in Hindi

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Related Questions


Leave a Reply

Gargi on 31 March, 2009 19:19:00 PM

verry nice thanks mem. i love you & your recipes

Sakshi on 14 February, 2011 16:17:57 PM

mast recipe mem..

on 31 March, 2009 20:00:29 PM

dhanyavad

Prabha on 01 April, 2009 10:22:08 AM

Hi nisha i am daily visitor of your site...thanks a lot for such a nice recipe...

Pooja on 02 April, 2009 12:44:35 PM

wah padh kar hi maja aa gaya..muh me pani aa raha hai,zarur banaungi main ye..thanks a lot

Varuna on 13 April, 2009 10:42:40 AM

hi, aap ki receipt bahut achi hai. kya aap mujhe soyabin ki chap ki shabji banana sikha sakti hai.


varuna

Kamna verma on 21 May, 2009 21:20:56 PM

HELLO, I cook this recipe but I make very well this recipe by you.I Like your recipe,i always try your method.
love & take care

Rajni on 01 June, 2009 22:58:26 PM

I keep searching the web for recipes specially the ones which are straight from U.P.'s cusine, I so far haven't come across such authentic recipes as yours. NishaMadhulika your recipes are excellent. I mostly find what I am looking for. Thank you for such amazing collection.
with best wishes.

Saumya on 05 June, 2009 08:10:20 AM

Hi Nisha,

The recipes are superb and they 're wihout onion/garlic and thats the best part of your recipes.I want to learn papad ki sabji of rajasthani style.Can you pls post that.
Thanks a lot
Saumya

Rajnikant verma on 08 June, 2009 02:22:58 AM

yum,my? is it so!!!!!!!!!!!!!!!!

Sangeeta solanki on 05 July, 2009 04:00:53 AM

very nice, i am rajasthani housewife.
it's diffrentt
.

Madhu on 06 August, 2009 09:15:16 AM

too good,can u pl tell me how to make gatte ki sabji?i tried but gattae was not soft.
निशा: मनु, बेसन का आटा गूथते समय उसमें 1 टेबल स्पून तेल डालो, आटे को अधिक सख्त और अधिक पतला मत गूथिये.

Madhu on 12 August, 2009 11:33:38 AM

thanks nishaji

Nivedita on 30 August, 2009 11:13:07 AM

this is an excellent recipe. I have tried it.
Thanks a lot for posting it.

Alka on 03 October, 2009 06:35:29 AM

aapki site me parmparik kahana bahut hi accha he please paneer ke cheele banana bataiye

Deepti aggarwal on 05 October, 2009 11:11:05 AM

I really like dis recipe nisha ji plz tell me hw to make papad ki subzi

Anushree verma on 31 October, 2009 18:34:21 PM

In Bihar this recipe is done with soaked and ground chana daal.The gravy is made with mustard powder, tomato and garlic.
It is called "kharera" and could be a substitute for fish curry for vegetarians.

Anusha jain on 27 July, 2012 17:22:44 PM

Anushree ji, kya aap haume batayengi ki garlic, musturd aur tomato ka ratio kya rehta hai. please.

Nupur mehrotra on 07 November, 2009 12:37:01 PM

mujhe ye recipe bahut achi lagi...maine ise ghar pe try kiya aur ye bahut pasand ai sab ko..kya ap mujhe methi malai mutter ki sabji ki recipe bata sakti hai...thanks

on 17 November, 2009 02:30:38 AM

hmmmmmmmmmmmmmmmm yummyyyyyyyyyyyyyy,,,,,,,,,muh me pani a gya

Rashmi on 25 November, 2009 11:44:59 AM

Namaste Nisha ji,

aj maine ye sabji banai or yakeen maniye maza a gaya. kuch alag khaya aj. meri sister ko bhi bahot achhi lagi sabji.

Thank u very much for this recipe

Laxmi soni on 30 December, 2009 04:10:18 AM

its realy very testy

Pinky on 09 January, 2010 02:19:44 AM

raat ko dhokla bananya tha par kuch mistake ke wajah se iss type patti ban gaya. avi apka site khola to ye recipe padha , now going to try this recipe from that.
thanx .

Sameera on 17 February, 2010 23:26:29 PM

Hi Nisha ji maine yeh recipe try ki,katliya badi tasty bani thi.....mainr curd ki jagah coconut milk aur besan ki gravy banayi(dahi curry ki recipe dahi ki jagah coconut milk aur imli).....turned out to be very good.........my full family just loved it.thanks for the recipe.

Neeru on 10 June, 2010 06:46:26 AM

i tried pitod ki sabzi but frying time besan pieces were sticking to the kadai please tell me the reason and they were very oily also
निशा: नीरू आप सब्जी के नीचे दी गई साबधानी को पढ़ लीजिये आपकी समस्या हल हो जायेगी.

Rajvinder kaur on 01 July, 2010 00:16:42 AM

Hi Nishaji maine yeh sabzi try ki. but khana mai katliya aur curry bhat khati thi. dahi bhi fresh tha.but khatilya aur curry dhakhna main bhat sandar bani thi.nisha ji maine dalmoth namakeen aur chana dal namakeen try ki .bhat taste bani .thanks of lot . please meri sabzi ki problem solve kija.
निशा: राजविन्दर जी दही खट्टा होने के कारण ही एसा हो सकता है, दही अगग खट्टा है तब दही की मात्रा कम कर दीजिये और पानी डाल दीजिये, खट्टा पन नहीं रहेगा.

Sunita on 12 January, 2011 21:44:12 PM

hii aapki sabji bahut achi hai

Veena on 13 January, 2011 16:24:30 PM

Agar ye katliyaan thik se nahi jame to iska kuch aur bhi banaya ja sakta hai???

निशा:
वीना, आप अगर थोड़ा भी ध्यान से बनायेंगी तब ये जरूर जमेंगी, और न जमें तो आप एक टेबल स्पून कढ़ाई में तेल डालिये, अदरक, हरी मिर्च, और हरे मटर इत्यादि डाल कर नमकीन हलवा बना लीजिये.

Aruna on 06 February, 2011 18:14:46 PM

thank you. pitod ki sabzi bahut achhi lagi.

Mukti on 19 March, 2011 11:44:40 AM

tusi grate hooooooooo...

Rachna on 21 April, 2011 11:37:19 AM

aapki sabji bhot bhot jyada achi h

Saroj on 02 May, 2011 21:34:18 PM

nisha ji ye sabji to bahut hi achchi bani hai. sabko bahut pasand aai.thanks for this recipi.

Banita on 15 September, 2011 14:42:14 PM

Nisha ji,
Meine pittor ko midium gas par brown hone tak bhuna tha.But meine jab pittor ko tari mein dala to ye usme ghul gaye.Or jabki aapki dish mein ye itne sunder dikh rahe hein.Why
निशा: बनिता, पिटोर के लिये जमी कतलियां काट कर तल लीजिये, और उन्हैं तरी तैयार करके, गैस बन्द कर दीजिये, अब तली हुई कतलियां तरी में डालिये, वे नहीं घुलेंगी.

Shubhi on 16 September, 2011 13:07:05 PM

namastey nishaji,

aap plz apni is site par ek blog me sirf wo recipes daliye jo turant banayi ja skti hai.

निशा: शुभि मैं कोशिश करूंगी.

Praphull on 24 October, 2011 01:22:17 AM

Nisha Jee,

The Recipies are really nice. I am bachelor and after trying your recipies, I felt like I am having food prepared by my mom.

Thanks for this service to mankind .... I would say...

Kanchan on 21 November, 2011 11:44:55 AM

hello nisha ji ..mai janna chahti hun ki kya aapki recipe mai mushrooms ki sabji ki recipe bhi hai .....??

निशा:
कंचन, मशरूम की सब्जी मुझे लिखनी है.

Foziya on 12 January, 2012 00:08:33 AM

wow aapki btai recipe use ki mene bhut achchi bni sbzi

Amit on 10 May, 2012 23:12:26 PM

yummmmmmmmmmmmmm.... Maza Aa Gaya ..... Was looking for Rajasthani Sabji's From such a Long time ... I love Pitor .... Can U Please share How To make "RAAB"
निशा: अमित, अगर आप महेरी को राब कह रहे हैं तो ये रैसिपी वेवसाइट पर उपलब्ध है, सर्च बटन पर महेरी लिखकर रैसिपी को सर्च किया जा सकता है.

Sindhu on 19 May, 2012 02:20:21 AM

hi aunty aaj maine ye recipe banai kafi tasty bani thoda tuff hai per katli kafi mast lagi.thanks.

निशा:सिंधु मुझे बहुत खुशी हुई, धन्यवाद.

Mona on 25 May, 2012 13:31:46 PM

hi aunty,gatte ki sabji me gatte soft kaise banau.mere gatte bahut tight ho jate hai.

निशा: मोना, गटटे का आटा में 1 पिंच बेकिंग सोडा डाल कर गूंथिये, गट्टे एकदम सोफ्ट बनेंगे.

Geet on 04 July, 2012 17:19:17 PM

ur all recipes mind blloing

Shiivanisoni on 24 August, 2012 12:14:06 PM

kya aap mujhe edali-sambhar ke recipy btaye
निशा: शिवानी, इडली और सांबर रैसिपी वेवसाइट पर पहले से उपलब्ध है, आप सर्च बटन पर रैसिपी का नाम लिखकर रैसिपी को सर्च कर सकती हैं.

Indira jain on 30 August, 2012 13:25:48 PM

nisha ji pl yeh to bteye ki yah kaisa pata lagega ki pithod pak gaya hai.
निशा: इंदरा, घोल गाढ़ा हो जाता है, पकने के बाद कलर बदल जाता है और चमक भी आ जाती है.

Alka on 06 October, 2012 13:05:58 PM

meri dadiji banaya karti thi ye sabji

Vineeta on 06 October, 2012 19:05:50 PM

mam agar besan, or fir tari me bhi dahi na dala jaye, to kya sabji buri banegi? Qki winters me dahi nhi use krti hu. taste me to fark padega, pr kya khane layak achi ban paegi? plz reply
निशा: विनीता, पिटोर दही की ग्रेवी में ही बनता है, और पका हुआ दही सर्दी में नुकसान देय भी नहीं होता, लेकिन आप सब्जी को अपने मन पसन्द ग्रेवी में बना सकती है, स्वाद तो अलग होगा लेकिन सब्जी अच्छी बनेगी.

Vineeta on 09 October, 2012 14:22:19 PM

thnx mam...

Aditi shrimali on 08 November, 2012 09:39:43 AM

very nice recipe

Radhika sharma on 25 November, 2012 20:53:07 PM

very nice recipe mam

Harshita saran on 12 January, 2013 15:11:50 PM

nishaji how to make sangri ki sukhi sabji?
निशा: हर्शिता, सांगरी मिलने पर मैं ये सब्जी अवश्य बनाने की कोशिश करूंगी.

Mohit on 27 March, 2013 20:23:25 PM

Nishaji maine upar bhi kisi ki problem padhi jo ki meri problem se same hai aur wo hai ki katliyan fry karte samay kadhai mein chipak rahi thi. Aapne iske liye kuch tips bhi nahi di hai.Please iska koi upaay batayein.
निशा: मोहित, कढ़ाई में तेल अच्छी तरह गरम हो, पहले एक कतली डाल कर तल लें इसके बाद और कतलियां डालकर तलें, अगर आपके पास नानस्टिक कढ़ाई हो तो उसका यूज कर सकते हैं.

Ajay arya on 04 June, 2013 03:15:37 AM

it very ver.........................................y tasty

Swati on 31 July, 2013 17:29:12 PM

I have made it n it was delicioussss....thanks Nishaji
Bina onion n garlic k bhi bahut hi mast sabji bani :)
निशा: स्वाति, आपको भी मेरा बहुत बहुत धन्यवाद.

Gollu on 11 August, 2013 06:43:03 AM

very nice recipe and thanks

Sharad k mishra on 26 August, 2013 22:28:24 PM

Nishaji ,
It is like RASAAJE ki sabji of Uttar Pradesh , we generally prepare rasaaje on Akshay Tritiya.

निशा: जी हां, इसे पूर्वी उत्तर प्रदेश में रसाजे कहते हैं

Varsha sharma on 11 October, 2013 11:49:45 AM

Is sabzi ko rajasthani log ek or naam se jaante hai dukre ki sabzi

Swati on 22 October, 2013 06:46:42 AM

very nic recipe

Arja on 25 February, 2014 22:39:24 PM

in Bengali this sabzi is called chana dal er dhoka,only difference is curd is not used.
निशा: आरजा, बहुत बहुत धन्यवाद.

Bharti on 21 May, 2014 03:56:41 AM

Nishaji Ur All Recipes Mind Blloing

Shubham on 07 June, 2014 07:49:07 AM

this is a very testy................./

Vivek on 29 June, 2014 06:02:22 AM

Nisha Ma'am, your receipies are awesome and easy to understand ... I have tried many times like kurkuri bhindi, mango kulfi etc...
with your site, its easy to impress wife :) ...
निशा: बहुत बहुत धन्यवाद.

Shitalsharma on 07 July, 2014 04:36:08 AM

what a recipe nishaji, its really mouth watering. maine ye sabji taste ki hai maine kabhi khud ye sabji try nahi ki thi. its my 1st time to cook this dish & its yummy.. thanks nishaji , apane bahot hi best tarike se explain kiya hai..
निशा: शीतल जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Anil on 31 August, 2014 10:50:25 AM

Mast hai jihi


Thanks

Shradha on 04 September, 2014 23:54:30 PM

Nisha ji katliya kitane dear mail jam jati hai
निशा: श्रद्धा जी, ये कतलियां 1/2 घंटे में जम कर तैयार हो जाती हैं.

Priya on 20 September, 2014 02:39:25 AM

Perfect pitod recipe hai ye bilcul sahi maap k saath ye pahli baar me hi bahut tasty bani .thanks mam for the recipe.tamatar salan wali gravy k sath pitod daal kar banai jo ki kha k maza aa gaya.thanks again.
निशा: प्रिया जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Varsha on 20 November, 2014 05:02:57 AM

can we make sabji without frying pitod ? pl. reply.
निशा: वर्षा जी हां आप इसे बिना फ्राई किये हुये भी बना सकते हैं.

Surbhi on 21 November, 2014 06:31:24 AM

Aunty, thankyou so for such awesome recipe. I will try and will let you know, how it turned out. I have a question. Can these pitod be saved for futur use, if yes, for how long approximately do you think we can use them.
निशा: सुरभी जी, रेसिपी को सेव किया जा सकता है. सब्जी को फ्रिज में रखकर 2-3 दिन तक खाया जा सकता है.

Jiya on 10 March, 2015 06:19:16 AM

hello nishaji.. thnks for this recipe but jab maine es recipe me greavy k liye baghar laga kr mitha dahi esme add kiya to wo utna smooth nahi raha aur fat gaya.. why?? plz reply i am waiting
निशा: जिया जी, दही को नार्मल तापमान पर लेना चाहिये और उसे मथकर यूज करना चाहिये. दही को डालने के बाद सब्जी को लगातार तब तक चलाते रहना है जब तक कि उसमें अच्छा सा उबाल नहीं आ जाता है.

Prem singh gour 9928231860 on 07 April, 2015 05:26:07 AM

mam agar besan, or fir tari me bhi dahi na dala jaye, to kya sabji buri banegi? Qki winters me dahi nhi use krti hu. taste me to fark padega, pr kya khane layak achi ban paegi? plz reply
निशा: विनीता, पिटोर दही की ग्रेवी में ही बनता है, और पका हुआ दही सर्दी में नुकसान देय भी नहीं होता, लेकिन आप सब्जी को अपने मन पसन्द ग्रेवी में बना सकती है, स्वाद तो अलग होगा लेकिन सब्जी अच्छी बनेगी.

Shweta on 20 May, 2015 04:56:33 AM

Its very tasty. .
hw to cook tamatar ke farre..

Renu on 25 June, 2015 07:12:43 AM

ky is sabji me sabhi masale dalna jaruai hai


निशा: रेनू जी, मसाले अपनी पसन्द के अनुसार कम और ज्यादा किये जा सकते हैं, और जो आपको न पसन्द हों वह छोड़े जा सकते हैं.

Mahamrityunjayparasaria@yahoo.com on 11 July, 2015 07:19:52 AM

verry lazzi vegitable


 


 

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.