sitelogo
Horoscope English Q and A

गोभी गाजर और शलजम का मीठा अचार – Turnip, Carrot and Cauliflower Sweet Pickle

आजकल बाजार में गाजर गोभी और शलजम बहुतायत में मिल रहे हैं. इन तीनों को मिलाकर बना स्वादिष्ट मीठा अचार आपको पसंद आयेगा और छोटे बच्चों को भी.

Read - Turnip, Carrot and Cauliflower Sweet Pickle Recipe In English 

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Carrots, Turnip and Cauliflower pickle

  • गोभी, गाजर, शलजम - 1 कि.  ग्राम.
  • जीरा -1 1/2 छोटी चम्मच
  • मैथी - 1 1/2छोटी चम्मच
  • सौंफ - 2 छोटी चम्मच
  • राई - 1 1/2 टेबल स्पून
  • गरम मसाला - 1 छोटी चम्मच
  • अदरक पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • हींग - एक चौथाई छोटी चम्मच
  • हल्दी पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • बड़ी इलाइची - 5-6 (छील कर कूट लीजिये)
  • खजूर - 10-12 (पतले पतले काट लीजिये)
  • लाल मिर्च - एक चौथाई छोटी चम्मच
  • तेल - 150 ग्राम (3/4 कप)
  • सादा नमक - 2 छोटे चम्मच
  • काला नमक - 1 छोटी चम्मच
  • सिरका - ( 3/4 कप )
  • गुड़ - 300 ग्राम (टुकड़े किये हुये 1 1/2 कप)

विधि - How to make Carrots, Turnip and Cauliflower pickle


गरम पानी में आधा छोटा चम्मच नमक डाल कर, गोभी को टुकड़ों में करके 10 मिनिट पानी में डुबा कर धोकर निकाल लीजिये.  गाजर और शलजम को छीलिये, धोइये और लम्बे टुकड़े में काट लीजिये.

जीरा, मैथी, सोंफ, राई, काली मिर्च, लोंग और दालचीनी को दरदरा पीस लीजिये और बड़ी इलाइची को छील कर कूट कर अलग रख लीजिये.

खजूर के बीज निकाल कर लम्बे लम्बे टुकड़ों में काट लीजिये.

किसी बर्तन में इतना पानी लेकर गरम करने रखिये जिसके अन्दर सब्जियां आसानी से डूब सके.  पानी में उबाल आने के बाद सब्जियां उबलते पानी में डालिये और ढक दीजिये, 2 - 3 मिनिट बाद आग बन्द कर दीजिये.  सब्जियों को 10 मिनिट तक पानी में ढकी रहने दीजिये.  सब्जियां हल्की सी नरम हो जाती हैं.
How to make Carrots, Turnip and Cauliflower pickle
किसी छलनी से पानी निकाल कर, सब्जियों को सूती सूखे कपड़े पर फैलाइये और 2 घंटे धूप में सूखने दीजिये.  धूप न होने पर ये सब्जियां कपड़े पर फैला कर छाया 3-4 में सुखाई जा सकती हैं.

कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये,(धीमी आग रखिये).  गरम तेल में हींग, हल्दी पाउडर और पिसे हुये मसाले डालिये, चमचे से चलाकर थोड़ा सा भूनिये, अब गोभी, गाजर और शलजम के टुकड़े डाल कर, नमक और लाल मिर्च डालिये, सारी चीजों को आग पर अच्छी तरह मिला लीजिये.  आग बन्द कर दीजिये.

किसी दूसरे बर्तन में सिरका और गुड़ को गरम कीजिये, गुड़ पिघलने तक इसे पका लीजिये.  इस पिघले गुड़ को छानिये और मसाले मिले अचार में मिला दीजिये, कुटी हुई इलाइची और कटे हुये खजूर भी अचार में मिला दीजिये. अचार पतला दिखाई दे रहा है तो उसे गाड़ा होने तक पका लीजिये.

गोभी, गाजर और शलगम के अचार को अच्छी तरह ठंडा होने के बाद कांच या प्लास्टिक कन्टेनर में भर कर रख दीजिये, आप ये अचार अभी खा सकते हैं, लेकिन अचार का असली स्वाद 4-5 दिन बाद मिल पाता है जब तक सब्जियों में सारे मसाले अन्दर तक जब्ज हो जाते हैं. गोभी, गाजर शलगम के खट्टा मीठा अचार को 6 महिने तक भी रख कर खा सकते हैं.

सुझाव: अगर अचार में बाद में पतला जूस ज्यादा दिखाई दे रहा हो तो अचार को फिर से आग पर रखकर गाड़ा कर लीजिये.

Cauliflower, Carrot and Turnip Sweet Pickle video in Hindi

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Related Questions


Leave a Reply

Rohit bhalla on 04 January, 2011 10:14:16 AM

Thank you for the recipe Nishaji, it is a very good recipe.

Miss nancy lewis on 27 January, 2011 17:30:20 PM

today i am going to make this picckle so i read this page , i like it its also looking so good

Rinku on 09 April, 2011 18:53:20 PM

what a nice recepe

Mamta sharma on 12 April, 2011 16:02:58 PM

nisha ji namstey
kya hum bina sirke ka bhi sweet achar bana sakate hain.

निशा: इस मीठे अचार में सिरका डालना आवश्यक है.

Neeti on 24 April, 2011 16:50:00 PM

Mam sab aachaar ki recipe mein kya sarso ka tel hi use kiya gaya hai??????

निशा: नीति, सरसों का तेल अचार के लिये अच्छा रहता है, तिल का तेल भी अचार बनाने केलिये प्रयोग में लाया जाता है.

Neeti on 24 April, 2011 16:59:44 PM

Mam ek baat aur poochni thi ki saare achaar ko lambe samay tak store karne ke liye tel mein dooba rehna chahiye kya?

निशा:
नीति, जी हां.

Afzoona saeed on 22 May, 2011 15:42:06 PM

nisha ji mujay hindi samaj main nahi aati plz aap mujay lasode ka achar ki recipe english main mail ker sakti hain, thakyou.

Deepti on 19 June, 2011 17:13:33 PM

nishaji kajoor kab add karne hain ..pls reply soon

Nupur on 18 July, 2011 23:03:20 PM

Nishaji,

Isme Sirke ki jagah neembu ka ras bazaar mein jo milta hai use kar sakte hai?

Thanks
Nupur

निशा: नूपुर, इस अचार में सिरका ही प्रयोग में लाइये.

Manjinder on 13 October, 2011 10:54:58 AM

nisha ji ki kia khajoor dalni jaroori hai.or agar dhoop na ho to winter main kaise sukha sakte hai
.
निशा:
मनजिन्दर, खजूर डालना आवश्यक नहीं है. शलजम, गाजर , गोभी को पंखे की हवा में भी सुखाया जा सकता है.

Deepa on 07 November, 2011 15:47:53 PM

dear nishaji,
aaj meine aloo tikki banayi thi.sabko bahut pasand aayi.iske liye mein apko bahut bahut thanks kehna chahati hoon kyonki aap ne jo bhi recipes likhi hain wo bahut precise hain.aur bananne mein bahut aasan hain.kai baar cheez theek se nahi banati hai to usme hamari hi koi fault rehti hai.jaise meine gobi shalgam ka meetha aachar banane ki try ki to boil karke sukhya to woh kuchh chipki hui sticky sticky ho gayi mujhe samajh mein nahi aa raha kya baat hai.dhoop mein sukhaya tha,pata nahi kya galti ho gayi.aaj meiene phir se sara saman laya hai.plz tell me asap ki kya galti hui thi aur is baar kya precaution lein ki achar bhi baki sab recipes ki tarah perfect bane.I'm waiting. Thanks once again.

निशा: दीपा, सब्जियों को ज्यादा नरम मत करना. सब्जियां ज्यादा नरम होने के बाद आपस में चिपकने लगी होंगी.

Deepa on 08 November, 2011 18:04:50 PM

thank u nishaji,is baar achar bahut acche se dala gaya hai.asha hai ki swad mein bhi achcha banega.
thank u.

Anupma mishra on 12 December, 2011 14:13:26 PM

Kya is achar mein gud dalna jaroori hai. yadi ham bina meetha ke banayenge to kharab ho jayega kya ? mere husband ko meethe achar achchhe nahi lagte.please reply.

निशा: अनुपमा, ये मीठा अचार है, इसमें गुड़ डालना आवश्यक है.

Reeta on 05 January, 2012 15:13:42 PM

Hello Nisha Ji Happy New Year

nisha ji maina gobhi gajar n shalgamka mitha aachar dala ha jaisa aapna bataya ha.aj achar dala 15 days hona wala ha but usmey gobhi thoda kacha ha aur achar oil aur rai ki wajah se thoda jyada kadwa lag raha ha batao kya karu ab

Neeru on 12 January, 2012 11:35:34 AM

Nisha ji til ko bhonte huye til jal gaye kya unhe thik kiya ja sakta h

निशा: जले हुये तिल तो फिर ठीक नहीं किये जा सकते

Mona on 17 January, 2012 23:11:42 PM

dear nisha ji,aapk dawara bnai gai recipes main hamesha bnati hu aur kafi wahwahi batori hu ab to jb bhi mujhe kuch nya banana hota hai to main aap ki website khol leti hu or sari pareshani khatam. thanx nisha ji

Dr. sunita chowdhary on 20 January, 2012 12:05:58 PM

KALI MIRCH AUR LAUNG , DALCHINI KITNI LENI HAI?

निशा: सुनीता जी, काली मिर्च - 3/4 -छोटी चम्मच, बड़ी इलाईची, बड़ी इलाइची- 6-7 , दाल चीनी - 1 इंच टुकड़ा या 1- 1 1/2 छोटी चम्मच गरम मसाला ले लीजिये.

Reeta on 20 January, 2012 16:51:12 PM

nisha ji maina gobhi gajar n shalgamka mitha aachar dala ha jaisa aapna bataya ha.aj achar dala one month hona wala ha but usmey gobhi thoda kacha ha aur achar oil aur rai ki wajah se thoda jyada kadwa lag raha ha batao kya karu ab .

निशा: रीता, गोभी जितना पहले पक गया है उतना ही पका रहता है, अचार बन जाने के बाद वह नहीं गलता. तेल को गरम करके डालते हैं, उसमें इतना कड़वा टेस्ट नहीं आना चाहिये, राई हर अचार में डाली जाती है, मसाले भून कर डाले गये हैं,अचार में बिलकुल कड़वाहट नही आती, बहुत ज्यादा स्वादिष्ट अचार बनता है. अचार पकाते समय तले में तो नहीं लग गया, इससे अचार में कड़वापन आ सकता है.

Priya on 27 January, 2012 22:41:13 PM

nishaji pregnancy mein kha sake aisa aachar baateye please.

निशा:
प्रिया, प्रिगनेन्सी में ये अचार खाया जा सकता है.

Harpreet on 29 January, 2012 16:34:54 PM

nisha ji hume sarso ka tel itni asani se nahi milta kya hum olive oil dal sakte hai

निशा: हरप्रीत, जी हां आप ओलिव ओइल भी डाल सकती हैं.

Suman on 14 February, 2012 16:53:48 PM

nisha ji metha aachar bahut he savad bna ha bacha bahut he shok sa kha raga ha sabko bahut pasand aaya thank you very much holi aa rhee ha koee bareya see recipes bataya vaisay aapkee sab recipes bahut acchee hoti hai.

Anju on 16 February, 2012 09:58:32 AM

really this is very good...

Sadhana on 27 February, 2012 08:49:31 AM

Nisha, you have changed the quantities of masalas in your Gobhi, Gaajar, Shaljam Ka Meetha Achaar. I have come back to the site after a few months. Before normal salt was 3 tea spoons, now it is 2 tea spoons. That is the reason I had to throw the achaar (2 Kgs)
I made with your recipe. (Namak hi namak tha). Please, first try your recipes yourself, after it comes out perfect, only then write it on Net.
Sadhana

निशा: साधना, इसमें भी नमक 3 छोटी चम्मच लिया है, 2 छोटी चम्मच सादा नमक और 1 छोटी चम्मच काला नमक, आप वीडियो सुनिये और रैसिपी देखिये, धन्यवाद.

Darshan kaur on 14 March, 2012 11:44:03 AM

nisha ji, itni der aag pe pakaane se sabji zyaada gal to nhi jaayegi..

निशा: दर्शन, सब्जियां के साथ में गुड़ है, सब्जियां नहीं गलेंगी.

Kanu on 21 September, 2012 14:47:56 PM

hi nisha ji
this pickle is amazing but please nisha ji nimboo ke meethe aachar ki recipe bataiye na . i am waiting for your reply
निशा: कनु, नीबू का मीठा अचार वेबसाइट पर पहले से उपलब्ध है, वेबसाइट के होम पेज पर सर्च बटन पर नीबू का मीठा अचार लिखकर रैसिपी को सर्च किया जा सकता है.

Ruhi on 08 November, 2012 18:10:43 PM

nishaji,gur aur sirke ki chashani jab hum thick karte hai to vegetables bhi saath me pak jati hai kya hum alag se ye chashni gadhi kar sakte hai

Ashok bisarya on 11 December, 2012 17:11:53 PM

Nisha ji

can we use sugar instead of Gur .What should be the quantity of Sugar
निशा: अशोक, गुड़ के बराबर ही चीनी ले लीजिये.

Dr shveta on 31 December, 2012 17:05:23 PM

can u pls tell me ki 3/4 cup kitna gms goga

Ramesh kumari on 06 January, 2013 16:41:48 PM

very nice video!

Menka on 09 January, 2013 08:21:54 AM

I am trying it today..looks a good reciepe..i ususally follow your reciepes...very nice

Aarti malhotra on 12 January, 2013 19:30:13 PM

how to make ginger powder for the pickle?
निशा: आरती, जिंजर पाउडर को सोंठ पाउडर भी कहते हैं, किराना स्टोर पर मिल जाता है, अगर न मिले तो आप जिंजर पाउडर के बिना भी अचार बना सकती हैं.

Jyoti on 14 January, 2013 16:37:17 PM

Nisha ji...mera acchar jada mettha lag rha hai..is acchar ko khatta - meetha banane ke liye kya add karo..plz reply
निशा: ज्योति, इसमें सिरका डालकर मिलाया जा सकता है या अमचूर पाउडर भी डाला जा सकता है.

Sweety on 18 January, 2013 15:22:26 PM

nisha ji hum ne gobhi gajar ka aachar banaya bhuat aacha bana2 killo aachar do din me khatam ho gaya bacho ne bhuat pasand kiya aur swad se khaya agar hum is me gur kum dalya to kya yeh theek rehaga please jawab de thanks
निशा: स्वीटी, जी हां अगर आप अचार को थोड़ा कम मीठा बनाना चाहती हैं तो गुड़ की मात्रा कम कर सकते हैं.

Sweety on 25 January, 2013 21:03:41 PM

hello nisha ji maina ab 5kg aachar dala hai abi do din hi huain hai bacho ne aadha kha bhi liya hai bouhat aacha bana hai lakin us metel ke sath pani bhi lag raha hai kya kara ki aachar jiada din chale please reply soon thanks
निशा: स्वीटी, अचार में थोड़ा सरसों का तेल और थोड़ा सिरका मिला दीजिये, अचार काफी दिन चलेगा.

Jatinder on 01 March, 2013 14:10:48 PM

Which preservative should be used in pickles if necessary?
निशा: 1 किग्रा, अचार में 1 छोटी चम्मच एसीटिक एसिड तेल में मिक्स करके मिला दीजिये, अचार खराब नहीं होते.

Sweety on 03 March, 2013 17:03:12 PM

Nice Recipee .What happens if we use water in place of sirka.
निशा: स्वीटी, अचार में सिरका ही डाला जाता है, पानी से अचार खराब हो जाता है.

Anand on 09 March, 2013 17:25:53 PM

Aap ne jo "preservative" bataye wo english me dobara batla dijey. Please
Shukria
निशा: आनन्द, अचार में हमने vinegar का यूज किया है, जिससे अचार स्वादिष्ट भी हो जाता है, और उसकी लाइफ भी बढ़ जाती है.

Rakesh chanana on 28 May, 2013 01:10:45 AM

गोभी का आचार बनाया अच्छा बना मगर कुछ ज्यादा खट्टा हो गया है बाद में कुछ और आचार बनाकर उसमें मिक्स कर दिया बिना सिरका का ...पर खट्टा पण नहीं गया ,,,कोई तरीका बता दें निशा जी
निशा: राकेश अचार में थोड़ा गुड़ पिघला कर मिला दीजिये, जिससे उसका खट्टापन दब जायेगा और अचार खट्टा मिठा हो जायेगा.

Mrrs.sonak on 08 December, 2013 01:30:34 AM

nisha ji,pl.nimbu ke meethe achar ki recipe ka video bhi jaldi se daliye.aur bhi har mausam istemal hone wale khatte mithe achar ke video pl.daliye.
निशा: सोनक जी, नीबू का मीठा अचार वेबसाइट पर उपलब्ध है, शलजम, गोभी, गाजर का मीठा अचार और आम का मीठा अचार वेबसाइट पर उपलब्ध है, सर्च बटन पर रैसिपी का नाम लिखकर रैसिपी सर्च कर सकते हैं.

Rupali on 08 December, 2013 09:35:08 AM

hello nisha g,
plz mujhe btayie ki hum sabjion ko gas par boil krne ki jgah microwave mein bhi narm kr skte hain?? agar haan to plz mujhe uski vidhi btayie..
निशा: रुपाली, सब्जियों को माइक्रोवेव सेफ प्याले में लेकर ढककर 3-4 मिनिट या सब्जियों की मात्रा के हिसाब से हल्की नरम होने तक माइक्रोवेव किया जा सकता है.

Rupali on 12 December, 2013 05:42:14 AM

thnks nisha g,
plz ye bhi btaye ki microwave safe pyale mein pani dalne ki jrurt to nhi??
निशा: रुपाली, सब्जियों को प्याले में डालिये बिना पानी डाले ढककर 5 -6 मिनिट माइक्रोवेव कर लीजिये, सब्जियों की मात्रा के हिसाब से माइक्रोवेव का समय कम ज्यादा कर सकते हैं.

Suman on 19 December, 2013 01:29:11 AM

kya hum ise bina shulgum ke bina bana skte hai

निशा: सुमन जी हां बनाया जा सकता है.

Mrs.sonak on 20 December, 2013 20:09:02 PM

nisha ji,mujhe to aap ki website par nimbu ka meetha achar kahin nhi mila.pl.nimbu ke meethe achar ki vidhi batayen aur yeh bhi bataiye ke shalgam-gobhi -gajar ke meethe achar ki vidhi se aur kis kis cheez ka achar banaya ja skta hai,jo ek hi din mein tyar ho jaye aur khatta meetha ho,pl.reply jaldi kiya kijiye nisha ji
निशा: सोनक जी नीबू के मीठे अचार की रैसिपी का लिंक निम्न है.
http://nishamadhulika.com/648-%E0%A4%A8%E0%A5%80%E0%A4%AC%E0%A5%82-%E0%A4%95%E0%A4%BE-%E0%A4%AE%E0%A5%80%E0%A4%A0%E0%A4%BE-%E0%A4%85%E0%A4%9A%E0%A4%BE%E0%A4%B0-sweet-lemon-pickle.html

Manu on 23 December, 2013 19:42:12 PM

Hi Nisha aunty..i love all ur recipes...u are amazing..and a great source of inspiration..ek question tha.. kya hum ye ache orange carrots se bana skate hai..am in U.S. air yahan indian carrots jai multi..Pls bataiye... thank you aunty
निशा: मनु जी हां आप ओरेन्ज कैरेट से भी इसे बना सकती हैं, बहुत अच्छा अचार बनेगा.

Mrs.sonak on 24 December, 2013 00:35:21 AM

nisha ji,website par ik aadh ko shod kar sare hi achar 1 mahine mein banane wale aur dhoop mein sukha ke banane wale hain,kya gobhi shalgam ke achar ki tarah aur bhi achar hote hin nisha ji,jo ek din mein tyar hote hon,pl,aise aur khatte meethe achar banane ki vidhi zarur batayen
निशा: सोनक जी, मैं पूरी कोशिश करूंगी.

Rupali on 25 December, 2013 07:25:48 AM

hii nisha g,
maine aaj gobhi gajar ka achar bnaya bht tasty bnaa. thnks.
apne isme last mein likha tha ki gudd and sirka ka ghol dalne k baad achar ko ache se pkale taki achar achi trah mix ho jaye nd pani absorb ho jaye btt aise krne se achar kafi gll gya mtlbb kafi narm ho gya. aisa kyun hua??
निशा: रुपाली, गुड़ डालने के बाद अचार पतला हो रहा है तब उसको थोड़ा सा पकाना है कि वह गाढ़ा हो जाय, टुकड़ों को पहले भी ज्यादा नरम नहीं करना है, लेकिन अभी तो अचार बन चुका है सब्जी के टुकड़े गुड़ में सख्त हो जायेगें.

Ashish on 29 December, 2013 02:48:44 AM

achar bahut zyada meetha aur kala ho gaya hai
ye thik kse ho skta h
निशा: आशिश, आपने डार्क कलर का गुड़ थोड़ा ज्यादा डाल दिया है, इसमें थोड़ा सा नीबू का रस डालकर मिला दीजिये, टेस्ट कर लीजिये नमक कम होने पर थोड़ा नमक और मिलाया जा सकता है, अचार का स्वाद खट्टा मिठा हो जायेगा.

Manu on 30 December, 2013 22:46:06 PM

Thanks aunty..maine veg ko pani me jyada der tak rakh dia aur wo kafi soft ho gayi...kya mujhe achar bnana chaie??kya wo kharab banega??pls bataiye ki ise thik kaise karu...abhi bas maine vegs dry karne k lie rakhi h
निशा: मनु, सब्जियों के ज्यादा नरम होने से वे मेस्ड लगेंगी,क्रन्ची नहीं होंगी, स्वाद तो ठीक ही रहेगा, आप चाहें तो आधे का अचार बना लीजिये और आधे की सब्जी बनाकर खतम कर दीजिये.

Gurmeet on 06 January, 2014 09:39:45 AM

Nisha g
I prepared this pickle for the very first time n luckily it was so tasty that everytime my husband eat it he repeatedly praised it. Tomorrow i m going to prepare it once again on my husbands demand hope it will taste the same. U r my guru in cooking . Every time i hv to cook any new thing i consult ur recipes . So thanx a lot. I want to meet u..........
निशा: गुरुमीत जी, हां अवश्य मिलिये, आपको भी मेरा बहुत बहुत धन्यवाद,

Anita on 12 January, 2014 00:22:15 AM

nisha ji please tell me kya gajar , gobhi , shalgham mila kar 1 kg hai ya alag alag
निशा: अनीता जी, तीनों चीजें मिलाकर 1 किग्रा. है.

Rosy on 16 January, 2014 22:41:07 PM





thanks for giving step by step instructions for methi ke ladoo

Lucky on 21 January, 2014 04:36:20 AM

nisha m'm mera question hai ki aishi kon si ingredient hai jise dalne se pickles me red colour aata hai?
निशा: लकी जी, देगी मिर्च डालने से अचार का कलर रंग लाल हो जाता है.

Tlverma on 04 February, 2014 09:26:53 AM

I am very fond of potatoes. I have not come across any achar of potatoes. Can you suggest one.

Divya on 10 February, 2014 07:18:58 AM

nishaji

main vinegar nhi use karti hun to kya koi aur alternative hai , pickle ki shelf life kam ho to chalega
निशा: दिव्या, अचार में थोड़ा नीबू का रस डाल दीजिये, अचार में स्वाद अच्छा आयेगा, शैल्फ लाइफ कम हो तो कोई बात नहीं, धन्यवाद.

Rupika dhuria on 18 February, 2014 06:09:52 AM

agar achaar mein vinegar jyada dal jaye to kya karein
निशा: रुपिका जी, अगर अचार विनेगर के कारण खट्टा लग रहा है, तब आप थोड़ा सरसों का तेल गरम करके उसे अचार में मिक्स कर दीजिये, अचार का खट्टापन कम हो जायेगा.

Amita gulia on 03 April, 2014 02:52:03 AM

I like your recipe of aachar vv much
निशा: अमिता जी, बहुत बहुत धन्यवाद.

Amita gulia on 06 April, 2014 05:48:44 AM

Welcome its worth appreciation

Rakesh chanana on 11 April, 2014 19:43:03 PM

nisha jee,
is recipe se bahut sa achar banaya hai....sab theek hai per shyad vinegar ke karan gala kharab ho jaata hai [sore throat & cough}
koi upaay hai kya.....?
निशा; राकेश जी, एसा होता तो नहीं है, हो सकता है कि आपको उससे एलर्जी हो, आप ये अचार बहुत कम खायें या नहीं खायें, बहुत बहुत धन्यवाद.

Mrs.sonak on 22 June, 2014 01:58:36 AM

nisha ji,kya is recipe se nimbu ka meetha achar banaya ja sakta hai,matlab gobhi,shalgam,gajar ki jagah nimbu use kar ke achar bana sakte hain?
निशा: सोनक जी, नीबू के मीठे अचार के लिये, नीबू को पहले गला कर नरम करना होता है, इसके बाद मसाले डालकर अचार बनाते हैं. नीबू का मीठा अचार वेबसाइट और चैनल पर उपलब्ध है.

Mrs.sonak on 26 June, 2014 01:09:00 AM

nisha ji,maine pehle bhi apse request ki thi,par aap ne ab tak jhat pat baanane wale meethe nimbu ke achar ki recipe download nhi ki.website par aap ne jo meethe nimbu ki recipe di hai vo to 1 mahine mein tyar hone wala achar hai nisha ji,pl.jhat pat banane wala meetha nimbu achar bhi bataiye,main lambe samay se wait kar rahi hun

Bharti nagpal on 15 November, 2014 00:14:05 AM

Hi Nisha, I am diabetic, can you help me with some of the Easy To Make breakfast recipes for diabetics, that will be a great help, thanks, Bharti
निशा: भारती जी, सुबह नाश्ते में परांठे या चीला और इसमें अलसी का यूज कीजिये, अलसी आपके लिये बहुत फायदेमन्द है, वेबसाइट पर अलसी के परांठे और अलसी के चीला रेसिपी उपलब्ध है. बेसन का चीला, मूंग दाल चीला या और बहुत सारे तरह के परांठे आप ले सकती हैं, दलिया, दलिया पुलाव आदि आपके लिये बहुत तरह की रेसिपी वेबसाइट पर उपलब्ध हैं, प्लीज ट्राई.

Harshinder on 18 November, 2014 11:45:34 AM

Hi nisha ji! Mera achaar apki wajeh se bahut swadihst bana hai, please aap mujhe batayenge ke acidic acid kaise daal sakte hai achaar me, kyunki next time mai bahut sara banaungi? Thank you so much
निशा: हर्षिन्दर जी, बहुत बहुत धन्यवाद. ये अचार में सिरका काफी मात्रा में यूज हुआ है, ये जल्दी से खराब होने वाला अचार नहीं है, आप चाहें तो एसिड को अचार के मसाले में मिलाकर अचार में मिला दीजिये.

Sweta on 17 December, 2014 06:21:35 AM

Namaste mam achar k liye sabjiyon KO boil krne ka kya reason h please satisfy my queiry
निशा: स्वेता जी, सब्जियों को उबलते पानी में डालकर बिलकुल हल्का सा उबालने से सब्जी बैक्टीरिया रहित हो जाती है, इसका स्वाद अच्छा हो जाता है.

Sweta on 17 December, 2014 06:26:04 AM

Mam agar achar 3 month tak rakha rh to Kara b to nh hogs name kyunki sirf mere husband Kate h
निशा: स्वेता जी अचार में 2 टेबल स्पून सिरका डालकर मिला दीजिये, अचार जल्दी खराब नहीं होता, आप इसे फ्रिज में भी रख सकती हैं.

Alankrita oberai on 14 February, 2015 07:23:47 AM

Hello Nishaji ! Is it possible to make this pickle wdout putting the veggies in hot water ? My pickle tends to rot aftr a few days . Tnx & regards
निशा: अलंक्रिता जी, सब्जियों को उबलते पानी में डालने से वे वैक्टीरिया रहित हो जाती है, और हल्की सी नरम हो जाती है. सब्जियों को पानी से निकाल कर छान कर साफ सूती कपड़े पर डाल कर 3-4 घंटे की धूप में रखने के बाद अचार बनायें, अचार में सिरके का यूज कीजिये, अचार बिलकुल भी खराब नहीं होगा.

Savinder on 18 February, 2015 22:24:01 PM

Your mixed go hi gajar,shalgum pickle is very tasty and is a quite easy recipe. Thanks a lot for the same.

Sandeep kaur sokhi on 20 February, 2015 07:28:42 AM

Thnx to u testy recipes

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.