कटहल का अचार - Kathal Achar – Jackfruit Pickle Recipe

Kathal Pickle

खाने के साथ अचार और चटनी तो आपको अच्छी लगती हीं होंगी. इस समय बाजार में कच्चा कटहल मिल रहा है. आईये आज कटहल का अचार (Kathal Pickle Recipe- Jackfruit Pickle Recipe) बनाते हैं

कटहल का अचार बनाने के लिये एकदम कच्चा कटहल लीजिये

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Kathal Pickle

  • कटहल  - 300 ग्राम
  • सरसों का तेल - 100 ग्राम
  • हींग - 2 पिंच
  • नमक - 1 1/2 छोटी चम्मच
  • हल्दी पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च - आधा छोटी चम्मच
  • पीली सरसों - 3 छोटी चम्मच

विधि - How to make Kathal Pickle

kathal_pickle_2_108029981.jpg
कटहल कच्चा और सफेद वैराइटी का लीजिये, इसको दुकानदार से ही छिलवा कर लाइये.  कटहल को धो लीजिये, हाथों पर तेल चुपड़ कर कटहल के बीजों से छिलके हटाते हुये काट लीजिये.

कटहल के टुकड़ों को कुकर में भाप में उबाल लीजिये. (कुकर में एक गिलास पानी डालिये और प्लेट जिसके किनारे करीब आधा इंच या इससे अधिक ऊंचे हों रख दीजिये.  कटहल को सेपरेटर में भरिये, इस सेपरेटर को इस प्लेट के ऊपर रख दीजिये और बिना सीटी लगाये कुकर का ढक्कन बन्द कर दीजिये, करीब 10 मिनिट तक मीडियम गैस पर पकाइये).  या आप कटहल को माइक्रोवेव में किसी बाउल में ढककर 5 मिनिट तक पकाइये. कटहल उबल गया है.  ये निश्चित कर लीजिये कि आपके उबले कटहल में पानी की मात्रा कम से कम हो.

कढ़ाई में तेल डाल कर गरम करिये.  गैस बन्द कर दीजिये. गरम तेल में पिसी हुई हींग डाल कर चम्मच से चला दीजिये,  अब तेल में हल्दी पाउडर, नमक, लाल मिर्च पाउडर, पीली सरसों और कटहल डाल कर अच्छी तरह मिला दीजिये.  कटहल का अचार तैयार है.

अचार को किसी कांच के कन्टेनर मे भर कर रखिये.  पहले 3 दिन तक अचार को रोजाना दिन में एक बार सूखे चमचे से चला कर ऊपर नीचे कर दीजिये.  तीन दिन रखने के बाद  अचार खट्टा हो जायेगा. जब भी चाहें कटहल का अचार (Kathal Pickle) निकालिये और खाइये.

इस अचार को आप फ्रिज में रखकर दो सप्ताह तक उपयोग कर सकते हैं.  यदि आप इसे अधिक दिन तक उपयोग करना चाहें तो कन्टेनर में इतना तेल डाल दें कि अचार तेल में डूब जाय.

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Related Questions

Comment(s): 29:

  • on 26 February, 2008 06:49:16 AM
    kya achar ko oil main dubane ke bad bhi freeze main rakhana hai ya bahar hi aur ise case main ye achar kitne din use kiya ja sakta hai?
    Reply Flag
  • on 05 March, 2008 16:35:39 PM
    Very good. I liked your recipes of Pickles. Good job Nisha.

    With Regards,
    Er. Jagdeep
    Reply Flag
  • on 15 May, 2008 05:09:00 AM
    Is kthal k achar k sath aur kya-kya
    mix kar k dal skte hai?
    Reply Flag
  • on 07 August, 2009 03:42:29 AM
    agar sapreter na ho tho kya kare.
    निशा: किसी कटोरे या कोई भी एसा बर्तन जो कुकर में आ सके, या फिर किसी भगोने पानी भरिये, स्टैन्ड के Šৠपर छलनी में कटहल रखिये और ढककर 20 मिनिट तक उबाल लीजिये.
    Reply Flag
  • on 19 March, 2010 14:38:28 PM
    dhup mein kathal ko sukhakar achar kaise banatein hai nishji bataye please
    Reply Flag
  • on 21 April, 2010 02:23:39 AM
    Nisha Ji yeh batiye ki kathal pani main bigona hai ya phir kisi bartan main rakhna hai.
    Thanks
    Reply Flag
  • on 27 April, 2010 02:10:26 AM
    aaj hum kathal ka achaar banane ja rahe hai ekdam eisy receipe hai dekhe kaisa banta hai thanks nishaji
    good luck.
    Reply Flag
  • on 27 April, 2010 08:57:49 AM
    Your method is very eagy & use ful.
    Reply Flag
  • on 29 April, 2010 05:50:37 AM
    hi nisha ji.....aapki reccipe achi hai..but kya aap aise achaar banana bata sakti hain jo bahut dino tak use me aaye.....answer soon...
    निशा: वर्तिका, आप अचार को तेल मे डुबा कर रखें तो अचार बहुत दिनों तक चलते हैं.
    Reply Flag
  • on 10 May, 2010 04:59:43 AM
    May I know the reciepe of the jackfruit sweet pickle.
    Reply Flag
  • on 03 June, 2011 15:39:27 PM
    awesum taste...thanx to u........
    Reply Flag
  • on 09 October, 2011 15:55:32 PM
    kathal ka aachar kab dala jata hi
    Reply Flag
  • on 07 November, 2011 14:53:36 PM
    kya aap mujhe lahsun ka achar banana bata sakti ho plz
    Reply Flag
  • on 06 April, 2012 20:02:03 PM
    Aap ka ye recipe web bahut he achha hai ...
    aap beryani recipe bhi rkha kro PLZ.


    THAX NISHA JI
    Reply Flag
  • on 08 May, 2012 15:33:18 PM
    eak dum bhakwash.achar banana bata rahi hai yaa sabzi.
    Reply Flag
  • on 06 July, 2012 14:30:25 PM
    nisha ji kya hum isme pisa hua lahsun daal sakte hain aur kaise
    निशा: लक्ष्मी, अगर आप अचार में लहसन डालना चाहती हैं तो अवश्य डालिये, लेकिन लहसुन के पेस्ट को तेल में भून कर डालिये.
    Reply Flag
  • on 13 July, 2012 10:27:05 AM
    Can we add whole green chillies with a side cut in kathal pickle?
    निशा: हरविन्दर जी, हाँ डाल सकते हैं.
    Reply Flag
  • on 02 October, 2012 18:24:38 PM
    mam mene kathal ke achar me namak or rai dalkar 7-8 din use dhup me rakha lekin fir bhi wo soft nhi hua ye vidhi mujhe meri mausi ne btayi thi us achar ko thik krne k liye ab me kya karo plz rply fast mam
    निशा: शिवानी, कटहल के अचार को पैन में डालकर थोड़ा नरम होने तक पका लीजिये.
    Reply Flag
    • on 02 October, 2012 22:01:02 PM
      thank u mam
      Reply Flag
  • on 26 October, 2012 03:50:07 AM
    Aunty , main store se sabzi banane ke liye kathal lai par wo bahut paka hua hai :( ab main uska kya karoon please jaldi answer de dijiye. thanks a lot.
    निशा: सोनल, बीज अलग करके बीज से सब्जी बनाई जा सकती है, रैसिपी वेबसाइट पर दी हुई है. पल्प से हलवा बनाया जाता है, प्यूरी बनाकर फ्रीजर में रख सकते हैं.
    Reply Flag
  • on 31 March, 2013 09:52:06 AM
    ghr ka banna acchar kuch dino me upar se kalla padne lagta hai jabki readymade acchar kala nae padta . aisa q ????

    निशा: हर्षा, अचार को अच्छा रखने के लिये या तो अचार तेल में डूबा रहे या उसमें प्रिजरवेटिब मिलाया जाय बाजार के अचार में प्रिजरटेब मिला होने के कारण अचार अच्छा रहता है.
    Reply Flag
  • on 24 May, 2013 15:15:40 PM
    maam .. is there any procedure of preserving the pickel for around 4 to 5 months ... if it is then please leat me know

    निशा: प्रवेश जी अचार में प्रजरवेटिव एसीटिक एसिड या सोडियम बेन्जोऎट एक छोटी चम्मच मिला दीजिये, अचार काफी समय तक रखे रहते है.
    Reply Flag
  • on 12 June, 2013 11:30:55 AM
    i know how to made kathal ke sev
    Reply Flag
  • on 26 July, 2013 05:07:14 AM
    hello mam, how are you? i made some dishes from your website. i also made lemon pickle sour & Sweet. it is too good and all my family liked it. thank you very much..
    निशा, दीपा, आपको भी मेरा बहुत बहुत धन्यवाद.
    Reply Flag
  • on 31 August, 2013 04:13:13 AM
    Pls send detail in my email id
    Reply Flag
  • on 05 September, 2013 01:07:39 AM
    Nisha Aunty aapne bohot hi tasty kathal ka achar banaya hai , maine ise try kia aur mere pati ne mera aur aapka jee bhar k gurgaan kia ....Meri naani sirke ka kathal ka achar bohot hi umda banati thi . Ab meri naani nahi rahi ......Maine apne pati ko jabse bataya hai ki maine bachpan mein sirke vaala kathal ka achar apne hometown Allahabad mein bohot khaya hai tab se vo zid kar baithe hai ki unhe bhi sirke vaala kathal ka achar khaana hai lekin mujhe banana nahi aata . Aap hume sirke vaala kathal ka achar banana sikha dijiye ...Plzzzzzzzzzzzzzzzzzzzzz ....
    निशा: सोनल, इसी अचार में सिरका डालकर आप इसे सिरका वाला अचार कह सकती हैं, धन्यवाद.
    Reply Flag
    • on 10 September, 2013 01:11:04 AM
      Aunty sirke k sath kya mustard oil bhi dalna hai ?? निशा: सोनल, सरसों के तेल में अचार जिस तरह बनाया है उसी तरह बनाइये और अचार बनने पर सिरका डालकर मिला दीजिये.
      Reply Flag
  • on 19 March, 2014 05:43:12 AM
    Nishaji Kathal ki Achar ko Khati Meethi keise bana sakte hein. Pl. reply. Meine kahin khayeei thi.
    Reply Flag
  • on 19 March, 2014 11:13:01 AM
    nisha ji maine achar banaya lekin usme se char din bad badbu aane lagi abb eska kya kiya jaye ya es achar me asi badbu ati hi h kya karpya b atawe
    Reply Flag

Submit your question

Log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes >>