sitelogo
Horoscope English Q and A

मठा की हरी मिर्च का अचार- Green Chilli Buttermilk Pickle Recipe

मठा की हरी मिर्च का अचार- Green Chilli Buttermilk Pickle Recipe

Green Chilli Buttermilk Pickle Recipe
खाने की टेबिल पर सब्जियां कितनी भी हों लेकिन अचार की अपनी अहमियत होती है. मिर्च का अचार (Mirchi ka Achar) सभी पसन्द करते है, लेकिन आप मिर्च के अचार के तीखेपन से घबराते हैं तो आपके लिये है मठे की हरी मिर्च का अचार (Matthaa Hari Mirchi ka Achar).

इस अचार में मिर्चें मठा में भिगो कर रखी जाती है जिसके ये मुलायम, खट्टी तो हो ही जातीं है लेकिन इनका तीखापन भी गायब हो जाता है. मठा (Buttermilk) मिर्च के तीखेपन को खत्म कर देता है.  यहां तक कि मठे की हरी मिर्च का अचार (Green Chilli Buttermilk Pickle) को बच्चे भी खा सकते हैं.

read : Green Chilli Buttermilk Pickle Recipe in English 

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Buttermilk Green Chilli Pickle

  • हरी मिर्च मोटी अचार वाली - 500 ग्राम
  • मठा -  1 -1.5 लीटर (जिसमें मिर्च डुब सकें)
  • नमक - 50 ग्राम ( 2 टेबल स्पून)
  • पीली सरसों - 4 टेबल स्पून (पाउडर)
  • सोंफ पाउडर- 2 टेबल स्पून
  • मैथी - 1 टेबल स्पून
  • हल्दी पाउडर - 1 टेबल स्पून
  • हींग - 1/6 छोटी चम्मच
  • जीरा - 2 छोटी चम्मच
  • नीबू - 2 (रस निकाल लीजिये)
  • सरसों का तेल - 2 टेबल स्पून

विधि - How to make Buttermilk Green Chilli Pickle

बाजार से अचार के लिये हरी मोटी मिर्च ले आइये.  साफ पानी से 2 बार धो लीजिये. पानी सुखा दीजिये.

मठा आप दही का बना सकते हैं और डेरी से मठा मिल जाता है वो ला सकते हैं.  दही से मठा बनाने के लिये दही को मथ लीजिये और दही में चार गुना पानी मिलाइये, मठा तैयार है.

हरी मिर्च को कांच या प्लास्टिक कन्टेनर में भर कर मठे में डुबा कर धूप में रख दीजिये, 4-5 दिन में ये मठे में पीली पड़्ने लगती है, मिर्च को 2 दिन में एक बार चमचे से चलाकर ऊपर नीचे कर दीजिये.

देखिये कि मिर्च पर हल्का पीला पन आ गया है और पहले से नरम हो गई है.  हरी मिर्च को मठे से निकालिये और साफ पानी से अच्छी तरह धो लीजिये, मिर्च के ऊपर मठा नहीं रहना चाहिये.

धुले हुये कपड़े पर बिछा कर मिर्चों को धूप में सुखा लीजिये. सुबह से लेकर शाम तक 1 दिन की धूप पर्याप्त होती है. मिर्च को लम्बाई में इस तरह चाकू से काटिये कि मिर्च दूसरी तरफ जुड़ी रहें.

मिर्च के लिये मसाला तैयार कर लीजिये.

हींग, जीरा, सोंफ, मैथी को पीस लीजिये, मसालों को एकदम बारीक मत कीजिये, थोड़े दरदरे रहने दीजिये. पीली सरसो अलग से पीस लीजिये यह बहुत जल्दी पिस जाती है. पिसे हुये ये मसाले, नमक और हल्दी पाउडर मिला लीजिये, नीबू का रस और तेल डाल कर मिलाइये.

कटी हुई मिर्च में मसाला इतना भरिये कि वह बाहर न निकले और एकदम कम भी न हों, सारी मिर्च मसाले से भर लीजिये. अधिक दिन चलाने के लिये, एक प्याले में तेल 4 टेबल स्पून सरसों का तेल ले लीजिये. एक एक मिर्च को तेल में डुबा कर, मसाले भरी हुई मिर्च कांच या प्लास्टिक कन्टेनर में भर कर रख लीजिये. 4-5 दिन में अचार स्वादिष्ट हो जाता है.
अपका मट्ठे वाली हरी मिर्च  का अचार (Green Chilli Buttermilk Pickle)  तैयार है.  यह अचार 6 महिने तक खराब नहीं होता.

टिप

मिर्च के अचार या अन्य रेसीपी बनाते समय यदि कभी मिर्च से हाथों में जलन होती है तो अपने जलन वाली जगह पर दही लगा लेते हैं.  दही मिर्च के तीखेपन को ही खत्म नहीं करता शरीर पर मिर्च की जलन को भी खत्म कर देता है

Please rate this recipe:

3.25 Ratings.

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Related Questions


Comments (21)

Anu on 27 July, 2009 07:44:42 AM

Very cheap and testy pickles thx a lot

Anjali g on 20 October, 2009 20:17:44 PM

There is winter weather in the place i live, soon the snow fall will start so i cant keep the chillies in sunshine. will it be ok, if i wipe them with soft cloth properly to remove all the dampness or any other alternative.
निशा: अंजली, आप इस तरह भी ये मिर्च तैयार कर सकती हैं,मिर्च को अच्छी तरह पोंछ कर पंखे की हवा में 3-4 घंटे के लिये धुले हुये कपड़े पर डाल कर रख दीजिये ताकि इनकी नमी खतम हो सके., आप इनके डंठल भी हटा दीजिये वहां मिर्च में काफी नमी रहती है.

Priyanka on 29 December, 2009 08:23:07 AM

mujhe plain stuffed hari mirch ke achar ki recipe bataiye please jisme mattha use na ho.
aur jo kafi time kharab na ho .
kya isme dry fruits bhi use kar sakte hain.

Rashmi on 11 May, 2010 08:38:03 AM

Inspite of application of oil on Mirch,we have observed yeast formation in 3-4 days time. Pl. show how to avoid such things.
निशा: रश्मिजी, मिर्च को काट कर अच्छी तरह धूप में सुखा लिया जाय और मसाले में तेल या सिरका मिला कर मसाला भरें, तब ये मिर्च बिना तेल के भी काफी दिन अच्छी रहती हैं.

Sughanda on 15 May, 2010 02:06:23 AM

This recipe in English

No matter how many varieties of dishes are laid on the table, pickles have their own importance. Mirch ka Achaar is an all time favorite but many feel scared of it being excessively spicy. So for those who want spicy but can't handle much of it, we have got a special pickle for you- Mattha Hari Mirch ka Achaar.

In the preparation of this pickle chilly is soaked in buttermilk which not only makes it soft and sour but also removes its spicy trait. Buttermilk completely removes the spiciness from the chilly to such an extent that even children can eat it.

- Ingredients for Buttermilk Green Chilli Pickle

Green pepper(hari mirch) - 500 grams
Buttermilk(mattha) - 1 to 1.5 litre (enough to submerge the peppers)
Salt - 50 grams( 2 tbsp)
Yellow mustard - 4 tbsp (powder)
Saunff(fennel) powder - 2 tbsp
Methi - 1 tbsp
Turmeric powder - 1 tbsp
Heeng(asafoetida) - 1/6 tsp
Jeera(cumin seeds) - 2 tsp
Lemon - 2 (squeeze the juice)
Mustard oil - 2 tbsp

- How to make Buttermilk Green Chilli Pickle

Get fat green peppers from the market to make pickle. Wash peppers twice with clean water. Let the water dry.

You can make buttermilk from curd or it is available in any dairy. To make buttermilk from curd, firstly churn curd and mix with 4 times more water. Buttermilk is ready.

Put the green peppers in a plastic or glass container and soak in buttermilk. Place container in the sun, in 4-5 days the buttermilk will turn yellow. Stir the peppers twice in a day with a spoon and put the lower ones on top.

Check if a yellowish tinge has appeared on the peppers and if they have become softer than before. Take out the peppers from buttermilk and wash with clean water, there should be no buttermilk on any of the peppers.

Place peppers on a washed cloth and dry in the sun. 1 day in the sun from morning to evening is enough. Cut peppers lengthwise on one side keeping the other side stuck together.

Prepare the spices for the peppers.

Grind Heeng, Jeera, Saunff and Methi all together to make a coarse powder. Grind yellow mustard separately as it tends to get crushed faster then the other spices. Add salt and turmeric powder to these grounded spices then put lemon juice and oil. Mix all the contents rigorously.

Fill pepper with the spices from the cut side to an amount which does not overflow or seem less. Fill all peppers with the spices. To make the pickle last longer take 4 tbsp mustard oil in a bowl. Dip one pepper at a time in the oil and put in the container. Pickle will become mouth watering in the next 4-5 days. Green Chilli Buttermilk Pickle is ready, this pickle has a shelf life of 6 months..

Tip
While preparing Chilly pickles or any other recipe and you feel a burning sensation in your hands then apply curd to it. Not only does curd remove the spicy trait of chilly but also removes the burning sensation.

Nalini on 30 May, 2010 16:19:40 PM

nishaji ,

i want to ask one thing that we need to roast masala or not. and oil should be hot and then cooled down or raw oil
निशा: नलिनी, मिर्च के लिये मसाले बिना भूने ही ले लीजिये, तेल भी वेसे ही ले सकती हैं.

Neeti on 24 April, 2011 16:28:48 PM

Mam is achaar ko tel mein duba kar rakhna hai ya sirf mirch ko duba duba kar rakhna hai?

निशा:नीति, मिर्च को तेल में डुबा कर रख दीजिये 2 महिने तक अचार खाया जा सकता है, अचार को और लम्बे समय तक रखने के लिये अचार को तेल में डुबा कर ही रखिये या सोडियम बेन्जोएट प्रिजरवेटिब मिला कर रखिये.

Neeti on 17 May, 2011 13:18:00 PM

Mam agar hum mattha use na kare to bhi ye aachaar aise hi dala jaayega aur ye taste mein kaisa hoga .

निशा: निति, ये अचार तो मठे से ही बनता है, सादा मिर्च का अचार भी वेवसाइट में दिया हुआ है.

Neeti on 18 May, 2011 13:30:12 PM

Mam agar hum mattha use na kare to bhi ye aachaar aise hi dala jaayega aur ye taste mein kaisa hoga ...... Mam reply jaroor kare Plss

निशा: निति, मठे की मिर्च का अचार है, मिर्च के सादे अचार की रैसिपी भी वेवसाइट में दी गई है.

Sunita on 30 September, 2011 14:45:01 PM

Nisha g,
mujhe mirch khane se jalan ho jati hai... par muje hari mirch kachi/achar khane ki icha bahut hoti jalan ki vajah se main tarasti rahi hun. kya ye achar khane se mujhe koi jalan to nanhi hogi.

thankful for yr early rply.

Bhavana sharma on 11 February, 2012 15:47:33 PM

Dear Nishaji,
Ram ram... mere ghar me ye achaar bahut jyada banta hai par sirf meri saasumaa he banati hai.... ab mai bhe ye bana sakti hu... Even salone ka achaar bhe maine pahli baar apni sasural me hi khaya... thanks very much for sharing these recipe

Anupma mishra on 29 May, 2012 12:11:08 PM

hello Nisha ji , please mujhe ye bataiye ki in mirchon ko kya ham tal kar bhi kha sakte hain? kyonki matthe wali tali hui mirchi bahut achchhi lagti hai. please reply must.
निशा: अनुपमा, जी हां मिर्च को सूखने के बाद इन्हैं तलिये और चाट मसाला छिड़क का खाने के काम में लाइये.

Satyendra on 12 June, 2012 10:36:37 AM

Nisha Ji, Mirch ka Achar konse mousam me banana Chahiye, kab banaya hua achar lambe samay tak chal sakya hai.
निशा: सत्येन्द्र जी, सर्दी के मौसम में बना हुआ अचार ज्यादा दिन चलता है, वैसे मिर्च का अचार कभी भी बनाकर खाया जा सकता है.

Birendra kumar on 11 October, 2012 20:05:57 PM

nishaji,i make green chilli pickle in lemon oil
but after some time it becomes soft and saggy.
can you suggest some measure so that green chilli remain firm throught.
regardw. b.k

Sonia on 25 April, 2013 12:58:08 PM

nisha g
kya hum moti mirch ke aachar ko bina mathe ke nahi bana sakte
निशा: सोनिया, जी हां इन मिर्च से सादा अचार अवश्य बनाया जा सकता है.

Pratibha on 18 July, 2013 06:19:57 AM

Nisha JI ,I like ur all recipe and method also which is very simple to do ,Thanks for all.
I just want to know that can i use simple large regular chilly for this . Kya aap methi powder ki stuffimg hari mirch ki recipe bata sakti hain.
निशा: प्रतिभा जी हां आप ये हरी मिर्च भी ले सकती है, और मसाले में मेथी पाउडर भी डाल सकती हैं, बहुत बहुत धन्यवाद.

Ruby sharma on 23 August, 2014 01:04:58 AM

I like this recipe.

Pari on 05 December, 2014 03:32:26 AM

Nisha Mam, i am a huge fan of yours. mujhe apse ye puchna hai ki Mattha Mirch kitne time tak chal sakta hai.,..
निशा: परी, मठा की मिर्च को 6 महिने तक रखकर खाया जा सकता है.

Rupal on 14 June, 2015 20:37:31 PM

hi nisha ji,
mai ye janna chahti hu ki mirch nikaal kar jo matha bcha hai wo kisi kaam mai laya ja sakta hai jaise kadi bnane mai?

Payal sharma on 06 March, 2017 04:28:02 AM

Aunty!Main ne mirch matte mei dali hui hai 5din hogye hai pr pilli nhi hui abhi tk... Matha ghr pr bana kr use kiya tha....kya karan hai ki mirch pilli nhi hui

निशा: पायल जी, मिर्च पांचवे दिन हल्का सा पीलापन आने लगता है, वह पूरी तरह पीली नही होती. इस दौरान, मिर्च को 2 दिन में एक बार ऊपर नीचे ज़रूर कर लें.

Pallavi on 15 November, 2017 20:28:38 PM

Kya matha 2 din mea change karna padta hai

निशा: पल्लवी जी, मठ्ठा को नहीं बदलना है.

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.