sitelogo
Horoscope English Q and A

बेसन के गट्टे का अचार (Besan ke Gatte ka Achar)

 alt=

बेसन के गट्टे की सब्जी, और बेसन के गट्टे का पुलाव तो आपने बनाया होगा. क्या बेसन के गट्टे का अचार बनाया है? आइये बनाना शुरू करे बेसन के गट्टे का अचार.

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Besan Gatte Pickle

    • बेसन - 200 ग्राम ( 1 कप )
    • कच्चे आम - 400 ग्राम ( 3 आम)
    • सरसों का तेल - 300 ग्राम (1 1/2 कप)
    • हींग - थोड़ी सी ( एक चने के दाने के बराबर)
    • हल्दी पाउडर - एक टेबल स्पून
    • मैथी दाना - एक टेबल स्पून
    • अजवायन - एक टेबल स्पून (दरदरी की हुई)
    • सोंफ - 2 टेबल स्पून  (दरदरी की हुई)

Besan ke Gatte ka Pickle

  • नमक - 2 टेबल स्पून ( 40 ग्राम)
  • लाल मिर्च - एक छोटी चम्मच

विधि - How to Make Besan Gatte Pickle

कच्चे आम धोइये, सुखा लीजिये और छील कर कद्दू कस करके रख लीजिये.

बेसन को छान कर उसमें कसा हुआ आम इतना मिलाइये कि बेसन के गट्टे बन जाय, मिश्रण में स्वादानुसार नमक और लाल मिर्च (आधा छोटी चम्मच नमक और 1/4 छोटी चम्मच से कम लाल मिर्च) डाल कर अच्छी तरह मिला लीजिये.  अब इस मिश्रण को गट्टे का आकार दे दीजिये, सारे मिश्रण से गट्टे बनाकर प्लेट में रख लीजिये.

आधा तेल कढाई में डाल कर गरम कीजिये और ये गट्टे गरम तेल में जितने आ जाय डालिये, धीमी और मीडियम आग पर ये गट्टे सुनहरे होने तक तल कर निकाल लीजिये.  इसी तरह सारे गट्टे सुनहरे तल कर तैयार कर लीजिये.  गट्टे ठंडे होने पर अचार तैयार करते हैं.

कढ़ाई में बचे तेल में सारा तेल मिला लीजिये, गरम होने पर आग बन्द कर दीजिये, तेल का तापमान थोड़ा कम होने पर पहले हींग, हल्दी पाउडर , अजवायन, सोंफ, नमक और लाल मिर्च सभी मसाले क्रमश: डालते जाइये और बचे हुये आम कद्दूकस और गट्टे इस मसाले में मिलाइये.

गट्टे और आम का अचार तैयार है.  अचार को पूरी तरह ठंडा होने पर साफ सूखे कांच या प्लास्टिक कन्टेनर में भर कर रख दीजिये,  तीन दिन में  बहुत ही स्वादिष्ट बेसन के गट्टे का अचार (Besan ke Gatte Pickle) बन कर तैयार हो जाता है. जब भी आपका मन करे कन्टेनर से अचार साफ और सूखे चमचे की सहायता से निकालिये, परोसिये और खाइये.

अचार को साल भर तक खाने के लिये अचार तेल में डुबा हुआ रहना चाहिये.

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Leave a Reply

Anu on 06 June, 2010 23:57:09 PM

wah, ye to pehli baar suna hai. bana kar apna anubhav zaroor batayenge

Sunita on 08 June, 2010 09:49:08 AM

wow this is something totaly new nishaji
thanks for new recipes the more i try the more i want and they come out so nice thanks a lot
regards

Abc on 10 June, 2010 11:43:29 AM

I never thought that even pickle can be made out of gatta Thanks . Kindly post a recipe of jackfruit pickle also.
निशा: जी कटहल का अचार तो पहले से ही उपलब्ध है इसी कालम में.

Ushagupta on 26 June, 2010 16:39:23 PM

very good receipe &i am going to try.thanks

Ishwar on 16 August, 2010 14:48:26 PM

It is very helpful for cooking lover.Thank you very much.

Neha on 31 October, 2010 06:38:34 AM

nisha g kya aap mujhe GLGL k aachaar bnane ka method bta skti hai.....

Kdsingh on 14 April, 2011 01:50:02 AM

Namaste Nishaji,Today I made gatte ka achhar but are not soft as in gatte ki sabji,will they be soft in another 3 days ?..I appreciate your help..Thanks,

Vaishali on 02 June, 2011 11:25:09 AM

nishaji kay ya achar ko dhoop may rakhtay hay.

निशा:
वैशाली, अचार को धूप में रखना आवश्यक तो नहीं है, लेकिन किसी भी अचार को धूप में रखने से उसकी सैल्फ लाइफ बढ़ जाती है.

Vaishali on 05 June, 2011 11:22:24 AM

namaste nishaji,thanks mam my family people like this pickle.

Kdsingh on 09 July, 2011 22:21:00 PM

Namaste Nishaji,
Maine gatte ka achaar 2-times banaya..but dono dafe gatte tight rah jate hai...soft nahi hote....?..please aap iska koi solution bataye..kya gatte ke achaar ko dhoop mai rakh sakte hai?....I appreciate your help..Thanks..

निशा: केडीसिंह, गट्टे का अचार धूप में रखने से तो सोफ्ट नहीं होता, लेकिन अचार धूप में रखा जाय तो वह ज्यादा दिन चलता है और स्वादिष्ट हो जाता है.

Sunita on 30 September, 2011 14:19:47 PM

Oh its good to see gatte ka achar. my son like gatte k sabzi v.much. i will make it for him when he join his duty aftr some time. i think it would a grt surprize for him and he would like it.

can we mix ghee/refined oil in gatte for its softness.
thnx a lot

Deepika.vasvani on 21 April, 2012 21:56:37 PM

Namast nishaji aap to cooking ke master h.gate ka pickle men to kab sona be nahi tha jab ke Mai jodhpurs(Raj.)sai ho

Suruchi on 28 March, 2013 13:47:34 PM

Mam, mere gatte soft nah in hai plz suggest me ki Kya karun
निशा: सुरुचि, ये गट्टे थोड़े सख्त ही बनते हैं.

Anshu pathak on 30 July, 2013 11:44:27 AM

i like your recipes.

Manisha katariya. on 03 October, 2013 02:49:46 AM

ye achar kabhi suna bhi nahi tha. Ilike it.it's wonderful.

Monika on 15 October, 2013 23:13:33 PM

it was good to read ur recipes..........

Shubhang agrawal on 12 November, 2013 08:45:33 AM

nice just fantastic

Bhawna on 24 April, 2015 10:20:55 AM

nisha ji iam big fan of your recipes u teaching method is superrrr... nisha ji plz ek baat bateiye kya besan hone ki wajah ye aachaar jsldi.karaab nahi ho jayega.
निशा: भावना जी, अचार तेल में डूबा रहे तो जल्दी खराब नहीं होता.

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.