sitelogo
Horoscope English Q and A

मावा गुजिया चाशनी भरी - Chashni Wali Gujiya - चाशनी वाली मावा गुजिया - Mawa Gujiya Dipped in Sugar Syrup - HOLI RECIPES

Chashni Wali Gujiya

स्वाद में बहुत ही बेहतरीन, मोटे कवर वाली चाशनी में डूबी मावा गुजिया चाशनी भरी, होली के शुभ अवसर के लिए खास.

Read - Chashni Wali Gujiya - Mawa Gujiya Dipped in Sugar Syrup In English

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Mawa Gujiya Dipped in Sugar Syrup

  • मैदा- 2 कप (250 ग्राम)
  • मावा- 1 कप (200 ग्राम)
  • पाउडर चीनी- ½ कप (80 ग्राम)
  • चीनी- 2 कप (400 ग्राम)
  • बादाम- 2 टेबल स्पून (बारीक कटे हुए)
  • काजू- 2 टेबल स्पून (बारीक कटे हुए)
  • किशमिश- 2 टेबल स्पून (बारीक कटे हुए)
  • इलाइची पाउडर- ½ छोटी चम्मच
  • घी- 3 टेबल स्पून (30 ग्राम) (मैदा गूंथने के लिए)
  • पिस्ते- 1 टेबल स्पून (बारीक कतरे हुए)
  • घी- तलने के लिए

विधि - How to make Chashni Wali Gujiya

सख्त मैदा गूंथिए
मैदा में 30 ग्राम पिघला हुआ घी डाल दीजिए और अच्छे से मिला लीजिए. मैदा में थोड़ा-थोड़ा गुनगुना पानी डालकर सख्त आटा गूंथकर तैयार कर लीजिए. इतना आटा लगाने में ½ कप पानी का इस्तेमाल होता है. गुंथे आटे को ढककर 15 से 20 मिनिट तक सैट होने रख दीजिए.

मावा भूनिए
पैन में मावा तोड़कर डाल दीजिए और मावा को मध्यम आंच पर लगातार चलाते हुए तब तक भूनिए जब तक कि इसके रंग में हल्का बदलाव ना आए और अच्छी खुशबू ना आने लगे. भुने मावा को एक बड़े प्याले में निकाल लीजिए और मावा को हल्का सा ठंडा होने दीजिए.

चाशनी बनाइए
एक बर्तन में चीनी और 1.75 कप पानी डाल दीजिए और चीनी के घुलने तक चाशनी को पका लीजिए. चाशनी को बीच-बीच में चमचे से चलाते रहिए. चीनी के पानी में घुलने के बाद, चाशनी को और 3 मिनिट पका लीजिए.

चाशनी चैक कीजिए
थोड़ी सी चाशनी चमचे में लीजिए और इसे हल्का सा ठंडा होने के बाद उंगली और अंगूठे के बीच चिपकाकर देखिए, चाशनी शहद की तरह चिपकनी चाहिए. इसमें तार बनने की ज़रूरत नही है. चाशनी तैयार होते ही, चाशनी को उतारकर जाली स्टेन्ड पर रखकर ढक दीजिए ताकि यह जल्दी से ठंडी ना हो जाए.

स्टफिंग तैयार कीजिए
मावा के हल्के गरम रह जाने पर, इसमें मेवे- काजू, बादाम, किशमिश और इलाइची पाउडर डाल लीजिए. सारी सामग्रियों को अच्छे से मिक्स कर लीजिए. मावा के पूरी तरह से ठंडा होने के बाद, इसमें पाउडर चीनी भी डालकर अच्छे से मिला दीजिए.

गुजिया के लिए पूरी बेलिए
आटे को थोड़ा सा मसल लीजिए और आटे से लोइयां तोड़कर तैयार कर लीजिए. फिर, लोइयों को ढक दीजिए जिससे ये सूखे नही. इसके बाद, एक लोई उठाइए और गोल करके चकले पर रखिए. इसे किनारे पर दबाव देते हुए 3 से 4 इंच व्यास की एकसार पूरी बेल लीजिए. यह कही से मोटी या पतली नही रहनी चाहिए.

गुजिया भरिए
पूरी को हाथ में लीजिए और इसके बीच में स्टफिंग रखिए. पूरी के किनारे पर चारों ओर थोड़ा सा पानी लगा दीजिए और गुजिया को आधा करते हुए मोड़कर किनारे अच्छी तरह चिपका दीजिए. फिर, इसे गोंठ लीजिए. इसके लिए, गुजिया को किनारे से दूसरे हाथ से दबाकर हल्का सा मोड़िए और जिस हाथ में गुजिया पकड़ रखी है उससे जरा से मोड़े हुए हिस्से को दबा दीजिए और फिर दूसरे हाथ से थोड़ी दूर पर मोड़िए और आगे का हिस्सा दबा दीजिए. इसी तरह मोड़कर आगे का हिस्सा दबाकर गुजिया का पूरा किनारा गोंठकर तैयार कर लीजिए. इसे गोंठना आसान है पर थोड़ी से प्रैक्टिस की ज़रूरत होती है. गोंठी हुई गुजिया को कपड़े पर रखकर, कपड़े से ही ढक दीजिए ताकि यह सूखे ना. इसी प्रकार सारी गुजिया को बेलकर, भरकर गोंठकर तैयारकर कपड़े में ढककर रख लीजिए.

गुजिया फ्राय कीजिए
कढ़ाही में घी डालकर गरम कर लीजिए. फिर, घी में जरा सा गुंथा आटा डालकर घी चैक कर लीजिए कि सही गरम हुआ है या नही. अगर यह धीरे-धीरे सिककर ऊपर आ रहा है, तो तेल कम गरम है और गुजिया तलने के लिए इतना ही गरम घी चाहिए. गैस मध्यम-धीमी कर लीजिए और एक-एक करके जितनी गुजिया कढ़ाही में आसानी से बन जाएं, उतनी डाल दीजिए. जैसे ही गुजिया तैरकर ऊपर आ जाएं, वैसे ही इन्हें पलट दीजिए और गुजिया को दोनों ओर गोल्डन ब्राउन होने तक पलट-पलटकर फ्राय कर लीजिए.

सिकी हुई गुजिया को कलछी से उठाकर किनारे पर रोक लीजिए ताकि इनमें से अतिरिक्त घी कढ़ाही में ही वापस चला जाए. फिर इन्हें निकालकर एक प्लेट में रख लीजिए और बाकी गुजिया भी इसी भांति तल लीजिए. एक बार की गुजिया तलने में 12 से 15 मिनिट लग जाते हैं.

गुजिया चाशनी में डालिए
तली हुई गुजिया को चाशनी में डाल दीजिए और 3 से 4 मिनिट चाशनी में ही डूबे रहने दीजिए. 4 मिनिट बाद, गुजिया को एक प्लेट में निकाल लीजिए. बाकी गुजिया को तलने के बाद, इन्हें चाशनी में इसी तरह डुबाकर प्लेट में रखते जाइए.
गुजिया के ऊपर थोड़ी पिस्ता कतरन डालकर इनकी गार्निशिंग कर दीजिए. चाशनी में डूबी हुई स्वादिष्ट मावा गुजिया चाशनी भरी तैयार हैं. इन गुजिया को बाहर रखकर एक सप्ताह और फ्रिज में रखकर 15 से 20 दिनों तक खाया जा सकता है.

सुझाव

  • आप इलाइची पाउडर की जगह 5 से 6 इलाइची छीलने के बाद पीसकर भी डाल सकते हैं. 
  • आटा थोड़ा सख्त लगाएं, आटा नरम नही होना चाहिए. 
  • गरम मावा में पाउडर चीनी मत मिलाएं क्योंकि गरम मावा में चीनी पिघलने लगती है. 
  • मेवे आप अपनी पसंद के अनुसार कम या ज्यादा डाल सकते हैं. या जो पसंद हो वो डालें और जो पसंद नही हो, वो ना डालें. आप अपने स्वादानुसार कोई भी मेवे अखरोट या पिस्ते भी डाल सकते हैं. 
  • गुजिया को बीच में से ना बेलकर किनारों से बेलते हैं क्योंकि बीच में से बेली हुई गुजिया बीच में पतली रह जाती है और फट सकती है. 
  • गुजिया भरते समय ध्यान रखें कि ये आपकी उंगली या नाखून से कही से भी फटे ना.
  • गुजिया को धीमी आंच पर तलें और जब तलने के लिए डालें तो ध्यान रखें कि घी बहुत कम गरम हो. 5 से 6 मिनिट बाद अगर आपको लगे कि आंच बहुत कम है, तो आप आंच थोड़ी तेज कर लें. 
  • 14 गुजिया बनाने के लिए पर्याप्त सामग्री

Chashni Wali Gujiya - Mawa Gujiya Dipped in Sugar Syrup - HOLI RECIPES

Please rate this recipe:

4.04 Ratings.

recipe

इस रेसिपी के बारे में सवाल पूछिए.

क्या आपके मन में इस रेसिपी से जुडा़ कोई सवाल है? आप Nishamadhulika.com पर आने वाले लोगों से उसे पूछ सकते हैं : यहाँ क्लिक करें.

Comments (5)

Chayanika on 09 March, 2017 23:04:45 PM

wah mam, dekhte hi muh mei paani aa gaya. bahut hi yummy gujiya dikh rahi hai. Is bar yhi try karugi

निशा: चयनिका जी, बहुत बहुत धन्यवाद. आप इसे बनाइए और अपने अनुभव हमारे साथ ज़रूर शेयर कीजिए.

Anushka awasthi on 09 March, 2017 23:06:47 PM

awesome...kitni achi gujiya hai,..

निशा: अनुष्का जी, धन्यवाद.

Dr nikita on 11 March, 2017 01:35:31 AM

Very nice. I tried it and made wonderful Gujiya . Thank u Nisha aunts

निशा: निकिता जी, अपना अनुभव शेयर करने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद.

Kavita on 12 March, 2017 05:43:13 AM

Looking nice..I tried it ..Taste is good...Only that bubble on gujiya was not looking good.. so what to do to avoid these bubbles..

निशा: कविता जी, धन्यवाद. गुजिया को भरने के बाद, तुरंत ना फ्राय करें. इन्हें कपड़े पर कपड़े से ढककर कुछ देर के लिए रख दीजिए ताकि इनकी नमी कपड़ा सोख लें, इससे इनमें फ्राय करते समय बबल्स नही पड़ेंगे.

Surbhi on 12 March, 2017 22:53:55 PM

Happy holi nisha ji

निशा: सुरभि जी, धन्यवाद और आपको भी होली की हार्दिक शुभकामनाएं.

Click here to log in

Become a member free and get access to advanced features.

Latest Recipes

More Recipes
इस ब्लाग की फोटो सहित समस्त सामग्री कापीराइटेड है जिसका बिना लिखित अनुमति किसी भी वेबसाईट, पुस्तक, समाचार पत्र, सॉफ्टवेयर या अन्य किसी माध्यम से प्रकाशित या वितरण करना मना है.